Submit your post

Follow Us

रुपाणी के इस्तीफे के बाद गुजरात CM की रेस में आगे चल रहे ये नाम!

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने 11 सितंबर को इस्तीफा दे दिया. रुपाणी ने कहा कि

“अब गुजरात के विकास की यात्रा नए उत्साह, नई ऊर्जा के साथ नए नेतृत्व में आगे बढ़नी चाहिए.”

यानी साफ हो गया कि पार्टी 2022 का विधानसभा चुनाव नए चेहरे के साथ लड़ने का मन बना चुकी है. लेकिन कौन से वो नाम हैं, जो यहां से भाजपा के CM पद के उम्मीदवार और 2022 के लिए पार्टी के सेनापति हो सकते हैं. 3 नाम मुख्य तौर पर सामने आ रहे हैं.

नितिन पटेल

रेस में नितिन पटेल का नाम सबसे आगे चल रहा है. इससे पहले वे 2 बार CM बनते-बनते रह गए थे. 2014 में जब नरेंद्र मोदी गुजरात से निकलकर दिल्ली पहुंचे तो नितिन पटेल को ही उनका उत्तराधिकारी माना जा रहा था. पटेल भी CM बनने के इच्छुक थे. लेकिन आनंदीबेन पटेल को CM बनाया गया. फिर अगस्त 2016 में जब आनंदीबेन पटेल ने मुख्यमंत्री पद छोड़ने की इच्छा जताई थी तो विकल्प के तौर पर फिर नितिन पटेल का ही नाम सामने आया. कहा जाता है कि उस समय तो नितिन पटेल ने बधाइयां स्वीकारना भी शुरू कर दिया था. लेकिन अमित शाह ने वीटो पावर दिखाते हुए रुपाणी की ताजपोशी करा दी.

Nitin Patel
नितिन पटेल 2 बार CM पद से चूक चुके हैं. एक बार फिर उनका नाम चर्चा में है. (फाइल फोटो- India Today)

मनसुख मंडाविया/पुरुषोत्तम रुपाला

प्रधानमंत्री मोदी के कैबिनेट में गुजरात के दो बड़े नाम हैं. मनसुख मंडाविया और पुरुषोत्तम रुपाला. कयास लगाए जा रहे हैं कि इनमें से किसी एक को वापस गुजरात भेजा जा सकता है. ‘प्राइम जॉब’ के लिए. मंडाविया और रुपाला के CM पद की रेस में चलने की बड़ी वजह है उनका पटेल समुदाय से आना. पटेल समुदाय में कदवा और लेउवा पटेल होते हैं. पुरुषोत्तम रुपाला कदवा और मनसुख मांडविया लेउवा हैं. गुजरात में पटेल-पाटीदारों बड़ा मुद्दा रहता है. ये समीकरण साधने के लिए इनके नाम पर भरोसा किया जा सकता है.

Mansukh Mandaviya
मनसुख मंडाविया फिलहाल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हैं.

सीआर पाटिल

सीआर पाटिल धमकदार सांसद माने जाते हैं. गुजरात में भाजपा ने 2022 विधानसभा चुनाव से पहले 281 सदस्‍यों वाली जंबो कार्यकारिणी का गठन किया है. इसकी ज़िम्मेदारी पाटिल को ही सौंपी गई है. इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि पार्टी का उन पर भरोसा मजबूत हुआ है. साथ ही इन्हें PM मोदी का विश्वसनीय बताया जाता है.

Cr Patil
गुजरात भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल भी CM पद की रेस में हैं. (फाइल फोटो- India Today)

इन सबके अलावा जो एक नाम और मुख्यमंत्री की रेस में आ रहा है, वो हैं प्रफुल्ल पटेल. वे फिलहाल दमन-दीव और लक्षद्वीप के प्रशासक हैं.

क्यों हुआ इस्तीफा?

इस बीच ये सवाल अभी भी मौजूद है कि अचानक रुपाणी का इस्तीफा क्यों हुआ? इंडिया टुडे रिपोर्टर गोपी घांघर की रिपोर्ट के मुताबिक इसके 3 मुमकिन कारण सामने आ रहे हैं.

# गुजरात में कोरोना को लेकर जनता की नाराज़गी. यहां लोग लगातार भाजपा के काम को लेकर नाराज थे. रुपाणी की नाकाम मुख्यमंत्री की छवि बन रही थी.

# 2017 के चुनाव में रुपाणी के नेतृत्व में भाजपा 100 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई थी. किसी तरह सरकार बच पाई थी.

# सीआर पाटिल और रुपाणी के बीच लगातार मतभेद की ख़बरें आ रही थीं. और दूसरी तरफ भाजपा विधायक शिकायत कर रहे थे कि रुपाणी का अधिकारियों पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है.

वहीं गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा ने कहा है कि कोविड काल में गुजरात में सरकार की असफलताओं को छिपाने के लिए विजय रुपाणी को बलि का बकरा बनाया गया है. वहीं दूसरी तरफ 11 तारीख़ की शाम को ही मनसुख मंडाविया और नितिन पटेल गांधीनगर स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे हैं. अटकलें लगाई जा रही हैं कि बड़े नेताओं की मौजूदगी में 11 तारीख़ को ही किसी नाम पर सहमति बन सकती है. 12 तारीख़ को विधायकों की बैठक के बाद नाम का ऐलान भी हो सकता है.


पीएम मोदी की फसल बीमा योजना को गुजरात सरकार ने सस्पेंड क्यों कर दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.