Submit your post

Follow Us

अंडे खाने पर ट्रोल हो रहे 'शाकाहारी' विराट कोहली का जवाब सुन लो

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उन्होंने कभी ये दावा नहीं किया कि वो वीगन हैं. कोहली ने ये सफाई इसलिए दी है क्योंकि हाल ही में उन्होंने अपना डाइट प्लान बताया था. उसके बाद से ही लोग सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं.

विराट कोहली ने ट्विटर पर लिखा,

‘मैंने ऐसा कभी भी नहीं कहा कि मैं वीगन हूं. हमेशा शाकाहारी होने की बात कही. गहरी सांस लें और सब्ज़ियां खाएं.’

क्यों देना पड़ा विराट को जवाब

विराट कोहली ने हाल में ही इंस्टाग्राम AMA (आस्क मी एनीथिंग) सेशन में अपने डाइट प्लान पर बहुत सारी बातें बताई थीं. बातचीत के दौरान विराट ने अपना डाइट प्लान भी फैंस के साथ शेयर किया. बताया कि वो डाइट में क्या-क्या लेते हैं. उन्होंने कहा था कि-

”बहुत सारी सब्ज़ियां, कुछ अंडे, दो कप कॉफी, दाल, क्विनोआ, बहुत सारा पालक.”

विराट कोहली ने इस सेशन में ये भी बताया था कि क्वारंटीन रहने के दौरान उन्हें डोसा खाना बेहद पसंद था. लेकिन वो भी एक सीमित मात्रा में. पूरे दिन में खाने में वो क्या लेते हैं, इस सवाल के जवाब में विराट कोहली ने कहा था, ”साधारण तरीके से बनाया हुआ भारतीय खाना और कई बार चाइनीज़ भी. बादाम, प्रोटीन बार और फल.”

विराट के जवाब पर फैंस के ट्वीट

शैली सिंह नाम की यूजर ने कहा कि लगता है विराट स्पॉन्सर प्रोग्राम को पॉपुलर बनाने के लिए वीगन होने की पब्लिसिटी कर रहे हैं.

जागृति नाम की यूजर ने कहा कि विराट का वीगन होने की बात कहने के बाद अब अंडे खाना कबूलना हैरान करने वाला है.

90% वीगन होने का किया था दावा

विराट की डाइट में बस इसी अंडे की वजह से उनके शाकाहारी होने पर कई लोगों ने सवाल उठा दिए. दरअसल, विराट ने साल 2019 में यूट्यूबर काम्या जानी को दिए इंटरव्यू कहा था कि वो 90% वीगन हैं. उन्होंने उस इंटरव्यू में कहा था,

‘मैं लगभग दो साल से वेजिटेरियन हूं. मेरी 90% डाइट डेरी प्रोडक्ट्स और एनिमल प्रोटीन से मुक्त है. इसकी वजह से मैं काफी बेहतर महसूस करता हूं.’

उस इंटरव्यू में विराट कोहली ने ये भी बताया था कि आखिर क्यों उन्होंने अपने खान-पान में ये बड़ा परिवर्तन किया. उन्होंने कहा था कि वो दबाकर मीट खाते थे, जिसकी वजह से उनका शरीर अम्लीय हो गया था. उनका पेट उनकी हड्डियों से कैल्शियम खींचने लगा. इसे वो कमज़ोर महसूस करने लगे थे. लेकिन जब उन्होंने शाकाहारी डाइट अपनाई तो शरीर में वो बदलाव महसूस किए, जो पहले कभी नहीं किए थे. इस बदलाव की वजह से उनके शरीर में अधिक ऊर्जा भी आई.

View this post on Instagram

A post shared by Vegan First (@veganfirst_daily)

वीगन और शाकाहारी

वीगनिज़्म एक तरह का शाकाहारी खाना ही होता है. लेकिन वीगन और शाकाहार में फर्क होता है. वीगन डाइट को आमतौर पर पूरी तरह से प्लांट बेस्ड डाइट माना जाता है. वीगन लोग ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी नहीं करते, जो पशु उत्पादों का उपयोग करके बनाए गए हों. ये अपनी डाइट में दूध, डेयरी और यहां तक कि मियोनिस और शहद को भी शामिल नहीं करते. जबकि शाकाहारी भोजन में लोग मांस, मछली आदि नहीं खाते लेकिन दूध और अन्य डेयरी पदार्थ लेने में गुरेज नहीं करते.


विराट ने अपने डाइट प्लान में ऐसा क्या बता दिया कि लोगों ने उनको घेर लिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप के सांसद मोहम्मद फैज़ल ख़ुद मिलने गए थे अमित शाह से

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

ममता बनर्जी ने केंद्र के आदेश की क्या काट ढूंढ निकाली है?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीन की कमी, राज्यों के टेंडर जैसे मुद्दों पर भी सरकार से तीखे सवाल किए.

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

विवाद बढ़ता देख अब जांच के आदेश दिए गए.

इस जिले के DM का आदेश- वैक्सीनेशन के बिना नहीं मिलेगी सरकारी कर्मचारियों को सैलरी

कुछ सरकारी कर्मचारियों ने इस फैसले पर नाराजगी जताई.

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों का कहना है कि ऐप के साथ छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब किए जा रहे हैं.

कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की PM केयर्स फंड से इस तरह मदद करेगी सरकार

कमाऊ सदस्यों को खोने वाले परिवारों के लिए भी योजना का ऐलान.

PM मोदी के साथ मीटिंग को लेकर विवाद पर ममता बनर्जी बोलीं- इस तरह मेरा अपमान न करें

कहा-मुझे खुद इंतजार करना पड़ा.

UP बोर्ड: 10वीं की परीक्षा नहीं होगी, 12वीं का एग्जाम जुलाई के दूसरे सप्ताह में!

शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा का ऐलान.

अलीगढ़: जहरीली शराब से अब तक 22 की मौत, NSA के तहत कार्रवाई के निर्देश

आरोपियों पर 50-50 हजार का इनाम घोषित.