Submit your post

Follow Us

खरीफ फसलों के लिए MSP में बढ़ोतरी, देखिए लिस्ट

पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने 9 जून को धान, अरहर सहित कई खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में बढ़ोतरी की घोषणा की. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस कांफ्रेंस करके नई MSP के बारे में जानकारी दी है. सामान्य धान और ग्रेड ए धान की कीमत में 72 रुपये की बढ़ोतरी, बाजरा की कीमत में 100 रुपये, मक्का की कीमत में 20 रुपये, अरहर और उड़द की कीमत में 300 रुपये, मूंग की कीमत में 79 रुपये और पीली सोयाबीन की कीमत में 70 रुपये की बढ़ोतरी की गई है.

साल 2021-22 के लिए सभी खरीफ़ फसलों की MSP की लिस्ट देखिए-

फसलMSP 2020-21MSP 2021-22
धान (सामान्य)18681940
धान (ग्रेड ए)^18881960
ज्वार (हाइब्रिड) (हाइब्रिड)26202738
ज्वार (मलडंडी)^26402758
बाजरा21502250
रागी32953377
मक्का18501870
तुअर (अरहर)60006300
मूंग71967275
उड़द60006300
मूंगफली52755550
सूरजमुखी के बीज58856015
सोयाबीन (पीली)38803950
तिल68557307
नाइजरसीड66956930
कपास (मध्यम रेशा)55155726
कपास (लंबा रेशा)^58256025

नई MSP को लेकर पीएम मोदी ने क्या कहा?

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा कि अन्नदाताओं के हित में आज केंद्रीय मंत्रिमंडल ने खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी को मंजूरी दी है. कई फसलों के एमएसपी में वृद्धि से किसान भाई-बहनों की आय बढ़ने के साथ उनके जीवन स्तर में भी सुधार होगा.

गृहमंत्री अमित शाह ने नए MSP को लेकर कहा कि किसानों की आय को दोगुना करने के लिए मोदी सरकार संकल्पित है.आज उसी दिशा में पीएम मोदी के नेतृत्व में कैबिनेट ने हमारे किसान भाइयों को एक और सौगात देते हुए खरीफ फसलों के MSP में वृद्धि को स्वीकृति दी.

हालिया दिनों में MSP को लेकर विपक्ष ने सरकार को घेरने की कोशिश की है. MSP को लेकर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा कि पिछले दिनों रिफार्म की बात आई तो MSP को लेकर कई तरह की शंकाएं थीं. उस वक्त संसद में पीएम मोदी के साथ मैंने भी देश को यकीन दिलाया था कि MSP है और MSP आगे भी रहेगी. सरकार लगातार रबी और खरीफ के फसलों के MSP घोषित कर रही है. इसमें किसी को किसी भी तरह की भ्रम रखने की जरूरत नहीं है. MSP चल रही है, बढ़ रही है. MSP खरीद पर भी बढ़ रही है.

कृषि मंत्री तोमर ने किसानों को धन्यवाद देते हुए कहा कि किसान मित्र बहुत मेहनत कर रहे हैं और इसी कारण से उत्पादन और उत्पादकता बढ़ रही है.


विडियो- राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव समेत कई किसान टोहना में थाने के बाहर क्यों प्रदर्शन कर रहे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अक्षय कुमार की मां का निधन

अक्षय कुमार की मां का निधन

अपने जन्मदिन से सिर्फ एक दिन पहले अक्षय को मिला गहरा सदमा.

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

नई अफगानिस्तान सरकार का लीडर यूएन की आतंकियों की लिस्ट में शामिल है.

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता गिरफ्तार, कोर्ट ने 15 दिन के लिए भेजा जेल

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता गिरफ्तार, कोर्ट ने 15 दिन के लिए भेजा जेल

रायपुर पुलिस ने नंद कुमार बघेल को ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी के आरोप में गिरफ्तार किया.

एक्टर रजत बेदी ने रोड पार करते व्यक्ति को टक्कर मारी!

एक्टर रजत बेदी ने रोड पार करते व्यक्ति को टक्कर मारी!

पीड़ित इस वक़्त कूपर अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत बेहद नाज़ुक है.

अक्षय कुमार की मां ICU में एडमिट, यूके से शूटिंग छोड़ वापस आए अक्षय

अक्षय कुमार की मां ICU में एडमिट, यूके से शूटिंग छोड़ वापस आए अक्षय

कई दिनों से अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया की तबीयत खराब है.

तस्वीरों में देखिए मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत

तस्वीरों में देखिए मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत

500 लंगर, 100 चिकित्सा शिविर, 5 हज़ार वॉलेंटियर्स.

Hurricane Ida से अमेरिका में तबाही, दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं

Hurricane Ida से अमेरिका में तबाही, दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं

न्यूयॉर्क समेत पूरे अमेरिका में अब तक 44 लोगों के मारे जाने की बात कही गई है.

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

सोशल मीडिया पर नसीरुद्दीन शाह का ये वीडियो वायरल है.

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

फ्रंटलाइन वारियर्स को ट्रिब्यूट देते हुए की थी सिड ने अंतिम पोस्ट.

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.