Submit your post

Follow Us

एमपी में मिली 1500 साल पुरानी मूर्ति पर किस विदेशी का चेहरा बना है?

770
शेयर्स

जुलाई 2018 में भारतीय पुरातत्व विभाग (ASI) को सूचना मिलती है कि मध्यप्रदेश के नगवां इलाके में लोग एक टीले की खुदाई कर रहे हैं. ये इलाका सिंगरौली ज़िले में पड़ता है. एएसआई को बताया गया कि वहां से ईंटें निकल रही हैं, जिन्हें गांव वाले उठा कर ले जा रहे हैं. जब एएसआई की टीम वहां पहुंची तो पता चला कि गांव वाले सदियों पुराने एक विष्णु मंदिर के गर्भ गृह को खोद रहे हैं.  रेत के टीले से ईंटें मिलना आम बात नहीं है. लिहाजा इससे सम्बन्धित विभाग को सूचना दी गई थी. टीम ने वहां पहुंचकर इलाके को अपनी ज़द में लिया. खुदाई का काम शुरू हुआ. और अब इस घटना के करीब 10 महीने बाद उसी जगह से कलचुरी काल का एक मंदिर मिला है, जिसमें कई बेहद काम के पत्थर निकले हैं. कलचुरी प्राचीन भारत का विख्यात राजवंश था. जिसने मध्य और उत्तर भारत पर 6-7वीं शताब्दी तक राज किया.

खुदाई में मिला रहस्यमयी चेहरा किसका है?

पुरातत्व विभाग को खुदाई में एक पत्थर मिला जिसपर कोई रहस्यमयी चेहरा बना हुआ है. इस आकृति की दाढ़ी दिख रही है और एक लंबी टोपी भी पहनी हुई है. विशेषज्ञों के मुताबिक उस वक़्त के लोगों का पैराहन ऐसा नहीं था. ये किसी विदेशी की शक्ल लगती है. चूंकि ये पत्थर मंदिर से मिला है इसलिए सभी इस बात से हैरान हैं कि पुराने वक़्त में किसी विदेशी को धार्मिक गतिविधियों में भी शामिल किया जाता था. पत्थर पर बनी आकृति की खोपड़ी और टोपी भारतीय पोशाक परंपरा से मेल नहीं खाती. कपड़े और चेहरे की बनावट कुछ हद तक पश्चिम एशिया में पाए जाने वाले चेहरों से ज़रूर मिलती है. ये कुछ-कुछ पश्चिम एशिया या अरेबियन पर्शियन रीजन से भी मिलती है. इसका मतलब ये निकाला जा रहा है कि इस काल में कोई विदेशी नागरिक भारत आया था. इसी घटना के कारण अब पुरातत्वविद अतिउत्साहित नज़र आ रहे हैं.

बाईं ओर की मूर्ति पर 'विदेशी' चेहरा बना हुआ है वहीं दूसरी ओर विष्णु की खोजी हुई मूर्ति है.
बाईं ओर की मूर्ति पर ‘विदेशी’ चेहरा बना हुआ है वहीं दूसरी ओर विष्णु की खोजी हुई मूर्ति है.

जहां से ये पत्थर मिला है वो छठी शताब्दी का एक मंदिर है. विष्णु मंदिर की खुदाई पूरी कर ली गई है और वहां से जो मूर्तियां मिली हैं वैसे उदाहरण कम ही देखने को मिलते हैं. भगवान विष्णु की एक मूर्ति भी मिली.लेकिन ये आम मूर्ति की तरह नहीं थी. मूर्ति की कमर से एक डमरू बंधा है. और उसे बाएं हाथ से कुछ इस तरह पकड़ा गया है जैसे वो इसे बजा रहे हों. विष्णु की दूसरी मूर्तियों की तरह इसमें चक्र और शंख भी हैं. विष्णु की डमरू के साथ बहुत रेयर है. ये मूर्तियां कलचुरी काल, गुप्तकाल से लेकर दूसरी सदी तक की बताई जा रही हैं. खोजे गए मंदिरों में गर्भगृह और अर्धमंडप भी मिला है. जिनमें हथियार मिले हैं. ऐसा अनुमान है कि उस समय लोग मंदिरों में हथियारों की पूजा करते थे.

ब्राह्मी लिखा पत्थर

इसके अलावा एक और पत्थर भी मिला है जिसपर ब्राह्मी में ‘र’ और ‘ल’ लिखा हुआ है. एक अंदाजे के मुताबिक ये पहली या दूसरी सदी का है. ज़मीन से 25 सेंटीमीटर नीचे मिले इस पत्थर से उस वक़्त के शहरीकरण का अनुमान लगाया जा रहा है.

ब्राह्मी लिपि में लिखा हुआ पत्थर.
ब्राह्मी लिपि में लिखा हुआ पत्थर.

इस खुदाई का नेतृत्व करने वाली डॉ. सामंत की मानें तो ये एरिया करीब 1 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है और यहां ऐसे ही 4 और मंदिरों के दबे होने का पता लगाया जा चुका है. इसके अलावा कुछ मठ भी खोजे जा चुके हैं. डॉ. सामंत के मुताबिक उन्हें मध्यकालीन युग के कुछ मंदिर और मठ ज़रूर मिले हैं लेकिन इस काल के किसी रिहायशी इलाके की पहचान नहीं हो पाई थी. भारत में ऐसी बहुत कम जगहें मिलती हैं.

yनो आईडिया.

खुदाई के दौरान इस जगह से तीन गुफाएं भी मिली हैं. खुदाई से निकली ईंटों पर लिखी गई ब्राह्मी लिपि पहली सदी की है.  देवनागरी सहित कई एशियाई लिपियों का विकास ब्राह्मी से ही हुआ है. एएसआई का मानना है कि इलाके में नहर बनाए जाने की वजह से खुदाई करने योग्य काफी इलाका ख़राब हो चुका है. कार्य प्रगति पर है. जल्द ही कुछ और ऐतिहासिक पत्थर खोजे जाने बाकी हैं.


वीडियो देखें: मिशन शक्ति: नरेंद्र मोदी का नया पॉलिटिकल हथियार और राहुल गांधी का पलटवार|दी लल्लनटॉप शो|Episode 182

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Mysterious foreign face discovered from 6th century Vishnu temple in Singrauli Madhya Pradesh

क्या चल रहा है?

फिल्म बैन करने के बाद इलेक्शन कमीशन का नरेंद्र मोदी को एक और जोरदार झटका

मोदी पर बनी वेब सीरीज़ को तत्काल प्रभाव से इंटरनेट से हटाने का आदेश आया है.

वर्ल्ड कप से पहले कुलदीप यादव की ये धुनाई इंग्लैंड के लिए अच्छी नहीं है

4-6-4-6-WD-6-W का बदला लेगा अपना चाइनामैन. .

रोहित मर्डर केस: शक की रडार में पूरा परिवार, बॉडी 15 घंटे पड़ी रही पत्नी को पता नहीं चला?

रोहित की मां ने बताया कि रोहित और उसकी पत्नी के बीच रिश्ते ठीक नहीं थे.

तिहाड़ के मुस्लिम कैदी ने पीठ पर गुदा ॐ जज को दिखाकर कहा- सुपरिटेंडेंट ने जबरदस्ती दागा है

बताया कि नवरात्रि में 2 दिन तक उपवास रखवाया और धर्म बदलने को कहा.

आंद्रे रसल ने फिर दिखा दिया- मैं हूं ही नहीं इस दुनिया का

कोहली इनके सबसे बड़े शिकार बने हैं.