Submit your post

Follow Us

प्रधानमंत्री जी, अब जान का खतरा है, इग्नोर मत करो!

1
शेयर्स

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए सबसे बड़ा खतरा न राहुल गांधी हैं, न अरविंद केजरीवाल. न पाकिस्तान की ताकत, न चीन की चालाकी. उनके लिए सबसे बड़ा खतरा है दिल्ली का पॉल्यूशन.

आप कहेंगे कि हम बेजा सनसनी फैला रहे हैं. लेकिन पीएम आवास के बाहर की फिजा के रिएलिटी चेक में पॉल्यूशन के बेहद खतरनाक लेवल का खुलासा हुआ है. और यह खुद प्रधानमंत्री की सेहत के लिए बड़ा खतरा है.

एक चीज होती है PM 2.5. PM का मतलब प्रधानमंत्री नहीं, particulate matter होता है. अगर PM 2.5 का लेवल 60 तक है तो पॉल्यूशन का लेवल ‘एक्सेप्टेबल’ यानी स्वीकार करने लायक माना जाता है. लेकिन प्रधानमंत्री के घर के बाहर यह लेवल 2200 से 2400 के बीच है.

सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायर्नमेंट के साथ मिलकर एक मीडिया ग्रुप ने दिल्ली में 8 जगहों पर PM 2.5 लेवल के आंकड़े जुटाए. रीडिंग इतनी खतरनाक है कि सुनकर आपकी फूंक सरक जाएगी.

Delhi Pollution THe Lallanop

क्या होता है PM 2.5?

बहुत ही महीन पार्टिकल होता है 2.5 माइक्रोमीटर्स का. जो हवा में लंबे समय तक मौजूद रह सकता है. जो 10 माइक्रोमीटर्स तक के पार्टिकल होते हैं वे भारी होते हैं, इसलिए जमीन पर बैठ जाते हैं. लेकिन PM 2.5 हवा में तैरता रहता है और सांस के साथ अंदर जाकर तबाही मचाता है.

2014 की ESCAPE की एक रिपोर्ट के मुताबिक, PM 2.5 में 100 पॉइंट की बढ़ोतरी से लंग कैंसर के मामले 9 फीसदी तक बढ़ जाते हैं. हमारे यहां PM 2.5 की एक्सेप्टेबल रेंज 60 तक है. लेकिन बाकी कई देशों में यह और भी कम है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

आरबीआई भी सकते में आ गयी है कि जीडीपी इतना गिर गयी

जितना सोचा था, उससे भी ज़्यादा.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने भर्ती की वेकेंसी निकाली, लोगों ने भारी मज़ाक उड़ाना शुरू कर दिया

ऐप्लिकेशन ऑनलाइन भरनी है.

खराब मौसम के बीच 14 किमी दूर श्मशान तक कंधे पर शव लेकर गए ITBP के जवान

भारी बारिश के कारण घर गिरने से हो गई थी बुजुर्ग की मौत.

नोबेल से सम्मानित मोहम्मद यूनुस ने बताया इंडियन इकॉनमी में क्या झोल चल रहा है

लोग क्यों निवेश नहीं करना चाह रहे हैं?

तबरेज़ अंसारी की पत्नी के साथ जो बर्ताव हो रहा है, वो बहुत ही भयानक है

जो बातें कही जा रही हैं, वे हद से ज़्यादा हिंसक हैं.

नरेंद्र मोदी का मज़ाक उड़ाने के लिए फ़वाद हुसैन को गर्भनिरोधक गोलियों का सहारा लेना पड़ा!

च्चचचचच... सो पुअर!

ज़रा सी लापरवाही के चलते ट्रेन बिना लोको पायलट के चल पड़ी, 50 किलोमीटर खुद ही भागी

बड़ा हादसा होते-होते बचा.

झंडा लेकर पुल पर चढ़ा, बोला,'इसरो का विक्रम लैंडर से संपर्क होने तक चंद्रदेव से प्रार्थना करूंगा'

इलाहाबाद में मार बवाल कट गया.

'जगह तेरी, टाइम तेरी, डांग मेरी' को सच कर दिया पंजाब के इन दो गायकों ने

लड़ने की दिन और तारीख भी तय हो गई थी. एक तो लड़ाई के लिए ख़ास विदेश से इंडिया भी आ गया.

बियर ब्रांड किंगफिशर की तरह ही डेरी ब्रांड अमूल भी विदेशी क्रिकेट टीम को प्रायोजित क्यूं कर रहा है?

Utterly Butterly la la la le o...