Submit your post

Follow Us

मुरली मनोहर जोशी खो गए हैं. उनको ढूंढ के लाइए, एक घड़ा ले जाइए

301
शेयर्स

मुरली मनोहर जोशी को कानपुर वालों ने अपना सांसद चुन तो लिया है पर अब बेचारे पछता रहे हैं.काहे से नेता जी ढूंढें नहीं मिल रहे हैं. इसी के चलते आजकल कानपुर में कांग्रेस को मुद्दा मिल गया है और उसने शहर भर में पोस्टर लगवा दिया है जिसपर लिखा है ‘सांसद जी को ढूंढ के लाइए, एक घड़ा पानी इनाम पाइए.’

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और कानपुर से सांसद मुरली मनोहर जोशी को आड़े हाथों लेता कांग्रेस का ये पोस्टर आजकल कानपुर में चर्चा का विषय है. कानपुर की हालत किसी से छिपी तो है नहीं. न बिजली आती है न पानी. ऐसे में सांसद जी ही एक सहारा थे जिनसे ये सब शिकायत जनता कर सकती थी. पर सांसद जी हों तब तो. शहर के कांग्रेस अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री का कहना है शहर की जनता गर्मी के चलते पानी की कमी से परेशान है. जबकि हमारे सांसद जोशी दिल्ली में आराम कर रहे है. इसलिए उनको ढूंढने के लिए हमने ये होर्डिंग लगाईं है.

पहले भी सांसदों, विधायकों को ढूंढने के लिए ऐसा पोस्टर वाला प्रयोग लोग करते रहे हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.