Submit your post

Follow Us

मध्य प्रदेशः कॉलेज के गरबा कार्यक्रम में पहुंचे मुस्लिम युवक, पकड़कर जेल भेज दिए गए!

इंदौर (Indore) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. इसमें साजिद नाम का एक शख्स आपबीती सुना रहा है. वह अपने परिवार और अपने भतीजे पर आई मुश्किलों का जिक्र करते हुए मदद की गुहार लगा रहा है. साजिद के भतीजे को उस समय पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया गया, जब वो कॉलेज की गरबा पार्टी में हिस्सा ले रहा था. आरोप विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के लोगों पर है. साजिद का भतीजा ही नहीं, तीन अन्य लड़कों को भी पकड़ा गया है. एसडीएम कोर्ट के आदेश पर इन्हें जेल भेज दिया गया है.

गरबा प्रोग्राम से पकड़े गए लड़के

सुनिए वीडियो में साजिद क्या कह रहा है,

“मेरा नाम साजिद शाह है. मैं इंदौर ग्रीन पार्क में रहता हूं. मेरे भतीजे के साथ एक घटना हुई है. वह ऑक्सफोर्ड कॉलेज में पढ़ता है. उसके कॉलेज की ओर से गरबा का आयोजन रखा गया था. उसमें हमारे भतीजे ने भी हिस्सा लिया. वहां पर कुछ गैर सामाजिक लोग पहुंचे. उन्होंने बच्चे को पकड़कर बंद करवा दिया. ये कहकर कि ये लोग लव जिहाद कर रहे थे. क्या भारत का संविधान ये इजाजत भी नहीं देता कि कॉलेज के किसी कार्यक्रम में एक मुस्लिम बच्चा हिस्सा ले सके?”

‘लव जिहाद का आरोप लगाकर पकड़ा’

इंदौर के ऑक्सफोर्ड कॉलेज की घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. इसमें कुछ लोग प्रोग्राम में घुसकर लोगों को पकड़ रहे हैं. कुछ लोगों को हाथ पकड़कर बाहर लाया जा रहा है.

इसके बाद, एक दूसरे वीडियो में साजिद तफ्सील से बताते हैं कि उनके भतीजे अदनान के साथ क्या हुआ था. वीडियो में वो कहते हैं कि उनका भतीजा ग्रेजुएशन सेकेंड ईयर का स्टूडेंट है. उसको बाकायदा कॉलेज की तरफ से (गरबा कार्यक्रम का) इनविटेशन दिया गया था. उसके पास आईकार्ड भी था. साजिद आरोप लगाते हैं कि कार्यक्रम में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कुछ लोग आते हैं और मुस्लिम बच्चों को छांटकर लव जिहाद का हल्ला मचा कर पुलिस के हवाले कर देते हैं. साजिद ये भी दावा कर रहे हैं कि जब वो पुलिस स्टेशन पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि बच्चों की कोई गलती नहीं है और कार्रवाई आयोजकों पर होगी. लेकिन सुबह एसडीएम कोर्ट से अदनान समेत दूसरे बच्चों को जेल भेज दिया जाता है.

क्या हुआ था गरबा इवेंट में?

नवरात्रि के दौरान देश भर में गरबा इवेंट्स होते हैं. इस बार भी हुए. लेकिन कुछ जगहों पर पहले से ही अलग माहौल बनने लगा. मध्य प्रदेश के इंदौर में कुछ दिन पहले ऐसे पोस्टर नजर आए थे, जिनमें लिखा था कि गैर हिंदू गरबा स्थल पर प्रवेश नहीं कर सकते. आजतक संवाददाता के मुताबिक, इंदौर के ऑक्सफोर्ड कॉलेज में गरबा और गैर-हिंदुओं की एंट्री को लेकर हंगामा हुआ. इस इवेंट में बजरंग दल के कार्यकर्ता पहुंचे और कार्यक्रम में शामिल चार गैर-हिंदू लड़कों को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया. इनके नाम हबीब, वाजिद, शाहिद और अदनान हैं. इन पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की गई. आईपीसी की धारा 188 के तहत किसी पब्लिक सर्वेंट के ऑर्डर का जानबूझकर उल्लंघन करने पर जेल या जुर्माने की सजा हो सकती है.

दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक, गरबा में बजरंग दल के अलावा विश्व हिंदू परिषद (VHP) के लोग भी पहुंचे थे. इन्होंने गैर हिंदुओं की मौजूदगी पर आपत्ति जताते हुए कार्यक्रम रुकवा दिया. हंगामे की सूचना पर ASP, CSP सहित आसपास के थानों से पुलिस मौके पर पहुंची. हिंदूवादी संगठन के लोग कार्यक्रम संचालक पर लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग पर अड़ गए. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रशासन का ये भी कहना है कि गरबे में कोविड गाइडलाइंस का भी उल्लंघन हुआ. इस मामले में कॉलेज संचालक पर केस दर्ज किया गया है.

बच्चों के नाम पर परमिशन लेने का आरोप

कार्यक्रम के आयोजकों पर ये भी आरोप है कि उन्होंने बच्चों का कार्यक्रम करवाने की परमिशन लेकर युवाओं का प्रोग्राम कराया था. असल में आयोजक अक्षांशु तिवारी के इस कॉलेज के अलावा दो स्कूल और भी हैं. स्कूली बच्चों के नाम पर उसने परमिशन ली थी. ऑक्सफोर्ड कॉलेज के प्रोग्राम में 800 बच्चों के शामिल होने की परमीशन मिली थी. एसडीएम पराग जैन ने सिर्फ रात 9 बजे तक प्रोग्राम की इजाज़त दी थी. इसके बावजूद लिमिट से ज्यादा लोग जमा हुए और तय वक्त के बाद भी गरबा जारी रखा गया. आरोप है कि अक्षांशु तिवारी ने बच्चों के नाम पर 5 हजार से ज्यादा युवाओं को इकट्ठा कर लिया था.

बजरंग दल का क्या कहना है?

इस मामले में बजरंग दल के जिला प्रमुख तनु शर्मा ने आजतक को बताया कि,

“सूचना मिली थी कि बिना परमिशन के गरबा का आयोजन रखा गया है. जब हम वहां पहुंचे तो 800 की परमिशन थी, लेकिन मौके पर 5 हजार युवक-युवतियां जुटे थे. कुछ गैर-हिंदू लड़के भी हिंदू लड़कियों के साथ गरबा करते पाए गए. चार लड़कों को तो हमने खुद पकड़कर पुलिस को सौंपा.”

वहीं, एसडीएम पराग जैन ने कहा कि परमिशन से ज्यादा लोगों को कार्यक्रम में बुलाने पर हमने कार्रवाई की है. बाकी अभी जांच चल रही है. आजतक संवाददाता के मुताबिक, मंगलवार 12 अक्टूबर को धारा 188 के तहत गिरफ्तार आयोजक को जमानत मिल गई. इंदौर के एडिशनल एसपी प्रशांत चौबे के मुताबिक बाद में कस्टडी में लिए गए चारों युवकों को भी एसडीएम कोर्ट से जमानत दे दी गई है.

रतलाम में भी लगे एंट्री बैन के पोस्टर

गरबा में गैर हिंदुओं के प्रवेश को लेकर चेतावनी देते हुए पोस्टर इंदौर ही नहीं, रतलाम में भी लगाए गए. कथित तौर पर विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने 11 अक्टूबर को दुर्गा पूजा पंडाल में ये पोस्टर लगाए.

रतलाम के एसपी गौरव तिवारी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उन्हें इस तरह के पोस्टरों के बारे में मीडिया से पता चला है लेकिन अभी तक किसी की कंप्लेंट नहीं मिली है.


वीडियो – इंदौर के ट्रैफिक सिग्नल पर डांस करने वाली श्रेया कालरा की मुश्किलें अब बढ़ने वाली हैं!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.