Submit your post

Follow Us

एक ही आदमी से अफेयर के चलते मां ने बेटी का गला घोंटा

एक औरत ने कथित तौर पर अपनी बेटी को गला घोंट कर मार डाला. क्योंकि दोनों मां-बेटी को एक ही आदमी से प्यार हो गया था. और ये हुआ है पंजाब के फाजिल्का डिस्ट्रिक्ट में.

40 साल की मंजू एक बुटीक चलाती थी. 17 साल की बेटी दीक्षा और और 12 साल के एक बेटे के साथ रहती थी. 3 साल पहले पति की मौत हो गई थी.

26 साल के विजय से मंजू की मुलाकात फेसबुक पर हुई थी. अक्टूबर 2015 में विजय से दोस्ती हुई. तब विजय सऊदी अरब में नौकरी करता था. उसी साल दिसंबर में नौकरी छोड़ इंडिया वापस आ गया. मंजू से मिला. अफेयर हुआ. और दोनों साथ रहने लगे. मंजू के बच्चों को नहीं पता था की विजय के साथ उनकी मां का अफेयर है. मंजू ने बच्चों और पड़ोसियों को बता रखा था की वो उसकी बहन का बेटा है.

मंजू के घर में रहते हुए विजय उसकी बेटी के भी करीब आ गया. बेटी को अंदाजा नहीं था कि विजय उसकी मां के साथ रिलेशनशिप में है. लेकिन जब उसे पता चला तो मां-बेटी के बीच के संबंध खराब होने लगे. मंजू ने पहले उसे समझाया, फिर गुस्से से पागल होने लगी. लेकिन दीक्षा मानने को तैयार न थी. विजय से शादी करने कि चाह में उसने सुसाइड की कोशिश भी की थी, लेकिन समय रहते उसे बचा लिया गया था.

man vijay
विजय

बीती 20 मई को मंजू ने दीक्षा से जबरन एक सुसाइड नोट लिखवाया. जिसमें अपनी सुसाइड का कारण अपने दादा-दादी को बताया. ये लिखा कि दादा-दादी ने उसके पिता की मौत के बाद उन्हें प्रॉपर्टी में हिस्सा नहीं दिया. पुलिस का मानना है कि मंजू ने तब तक दीक्षा को मारने का प्लान बना लिया था.

तीन दिनों बाद मंजू ने पाया कि दीक्षा ने ब्लेड से अपनी कलाई पर विजय का नाम गोद लिया है. कथित तौर पर मंजू ने उसी समय में गुस्से में अपनी बेटी दीक्षा को दुपट्टे से गला घोंट कर मार डाला.

मंजू का बेटा जब स्कूल से वापास आया, तो बहन की लाश देखी. जब हल्ला हुआ, तो मंजू ने बताया की प्रॉपर्टी में हिस्सा न मिलने पर बेटी ने अपनी जान ली. पुलिस ने पहले तो मंजू की कहानी पर विश्वास कर लिया, क्योंकि सुसाइड नोट दीक्षा की हैंडराइटिंग में था. लेकिन दीक्षा की कलाई पर गुदा विजय का नाम और जांच में मिले कुछ कागज़ जिनमें दीक्षा ने अपने प्यार का जिक्र किया है, दूसरी ही कहानी कहते हैं.

पुलिस ने शुरू में दीक्षा के दादा-दादी, चाचा-चची और एक बुआ के खिलाफ केस दर्ज किया था. लेकिन फ़िलहाल मंजू और विजय को भी दो दिनों के लिए हिरासत में लिया गया है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.