Submit your post

Follow Us

'पापा, आपको मुझपर गर्व है ना', घर पर आखिरी बार कैप्टन सुनील ने यही बात की थी

जब सोनू छोटा सा था, अपने पापा को कहता था –

पापा, एक दिन आप मुझ पर बहुत प्राउड फील करोगे.

पापा मुस्कुरा देते थे. जैसे हम सबके पापा ऐसी बातों पर मुस्कुराते हैं. सोनू के पापा इंडियन आर्मी में थे. कर्नल पी एल चौधरी. परिवार जम्मू में रहता था. उनको देख कर सोनू का मन भी करता था आर्मी में जाने का. वो भी आर्मी में गया. 7/11 गोरखा बटैलियन. और सोनू बन गया कैप्टन सुनील कुमार चौधरी.

और अब बात करते हैं 22 जून, 2016 यानी उनके 36वां बर्थडे की, जबकि ये तस्वीरें हैं.

एक चौक है. कैप्टन सुनील कुमार चौधरी चौक. उनके हर बर्थडे पर उनकी मां वहां जाती हैं. चौक पर सुनील का एक पुतला खड़ा है. नीचे पत्थर पर कप्तान सुनील की जिंदगी से जुड़ी बातें लिखीं हैं.  इस बर्थडे से पहले भी मम्मी पूरी तैयारियों में लगी हुई थीं. उस चौक पर लगे पुतले और स्मारक की ऐसे सफाई कर रही थीं जैसे कभी सुनील के कमरे की करती रही होंगी.

13495258_10209728970009447_505515652872143066_n
Credit: facebook

13512218_10209728969689439_4114204238008217294_n

 

जिसने भी सुनील की मम्मी को सुबह-सुबह चौक पर बने स्मारक की सफाई करते देखा होगा. बहुत इमोशनल हो गया होगा.

शहीद कैप्टन सुनील कुमार चौधरी

Credit: youtube
Credit: youtube

2008 में कैप्टन सुनील असम में पोस्टेड थे. 27 जनवरी, सन्डे की दोपहर थी. एक दिन पहले यानी 26 जनवरी को ही सुनील को सेना मेडल से सम्मानित किया गया था. उनके ऑफिसर के घर पर इसी ख़ुशी में एक पार्टी चल रही थी. मेडल मिलने के बाद सुनील ने अपने पापा से जब बात की तो पूछा था,

‘पापा, मैंने आपको प्राउड फील करवाया ना? आपको मुझपर गर्व है ना?’

घर पर आखिरी बार उन्होंने यही बात की थी. अचानक खबर आई कि 7-8 आतंकवादी पास के जंगल में छुपे हुए हैं. कैप्टन सुनील अपने 5 जवानों को लेकर जंगल के लिए निकल गए.

वो आतंकवादी ULFA के थे. पता चला था कि आतंकवादी जंगल के बीचों-बीच एक मकान में छुपे बैठे है. जब आर्मी की टुकड़ी उस मकान तक पहुंची, आतंकवादियों ने खुली फायरिंग शुरू कर दी. एक आतंकवादी मारा गया. लेकिन गोली सुनील को भी लग गई थी. फिर भी वो जंगल में और भीतर घुसते गए. एक और आतंकवादी मारा. सुनील के सीने में, पैरों में और हाथ में भी गोली लगी थी. लेकिन तीसरे आतंकवादी का पीछा तब भी नहीं छोड़ा. पीछा करते-करते अचानक वो आतंकवादी एकदम सामने आ गया. सुनील ने उसको गोली मारी, उसने सुनील को. दोनों वहीँ गिर गए. आतंकवादी मारा गया. कैप्टन सुनील कुमार चौधरी शहीद हुए.

इस बहादुरी के लिए उनके शहीद होने के बाद उनको कीर्ति चक्र (मरणोपरांत) दिया गया.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

कहा-स्वास्थ्य मंत्रालय का रवैया हैरान करने वाला.

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली के सीएम ने क्या बताया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?