Submit your post

Follow Us

कोरोना से तो निपट लेंगे, लेकिन जो बड़ी आफत आई है, वो तो पूरा साल ले जाएगी!

भारत की जीडीपी ग्रोथ फिलहाल 4.5% के करीब है. इसे किसी भी लिहाज़ से अच्छा नहीं कहा जा रहा है. अब सोचिए, अगर यही ग्रोथ रेट घटकर 2.5% के करीब आ जाए तो? कोरोना वायरस ने दुनियाभर की इकॉनमी का जो हाल कर दिया है, उसके बाद ये डर भी सामने नज़र आ रहा है. तमाम देशों की अर्थव्यवस्था पर स्टडी करने वाली संस्था मूडीज़ का अनुमान है कि 2020 में भारत की ग्रोथ रेट 2.5 से 3 फीसदी तक ही रहेगी.

इससे पहले मूडीज़ ने इस साल की शुरुआत में भी ग्रोथ रेट का प्रिडिक्शन दिया था. तब कहा था कि भारत 5.3 फीसदी की रफ्तार से बढ़ सकता है. लेकिन कोरोना वायरस का वर्ल्डवाइड असर पड़ने के बाद अब मूडीज़ ने संशोधित अनुमान जारी किया है. इससे भारत के लिए पूरे साल की चिंता बढ़ गई है.

लॉकडाउन के असर का ज़िक्र

मूडीज़ का कहना है कि-

“भारत ने फिलहाल 21 दिन के कम्प्लीट लॉकडाउन का फैसला किया है. इससे पहले भी काफी दिनों से कोरोना वायरस का असर देशभर के काम-काज और मार्केट पर पड़ ही रहा था. धीरे-धीरे काम सुस्त हो रहे थे. इस तरह का लॉकडाउन दुनिया के कई देशों में हो रहा है. ये वायरस के फैलने में तो मददगार हो सकता है, लेकिन साथ ही इससे इकॉनमी पर बड़ा असर पड़ेगा.”

क्या सिर्फ भारत की ग्रोथ रेट रिवाइज़ की है?

नहीं. मूडीज़ ने सभी जी-20 देशों की रिवाइज़्ड ग्रोथ रेट जारी की है. चीन से कोरोना वायरस के फैलने की शुरुआत हुई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, चीन की ग्रोथ रेट 3.3% रह सकती है, जिसके अब तक 6% तक रहने की उम्मीद जताई जा रही थी.

इसके अलावा जी-20 देशों की कुल मिलाकर जो जीडीपी ग्रोथ रेट है, वो इस साल 0.5% तक नीचे आ सकती है. हालांकि इसके बाद एक अच्छी बात भी है. अगर कोरोना वायरस को इस साल पूरी तरह काबू में कर लिया जाता है, तो इन्हीं जी-20 देशों की इकॉनमी अगले साल यानी 2021 में फिर 3.2% की रफ्तार से बढ़ सकती है.

मूडीज़ क्या है, कैसे काम करता है, रेटिंग वगैरह कैसे तय करता है..ये सब बढ़िया डिटेल में जानने के लिए यहां क्लिक करें.


RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने बताया कोरोना वायरस का इकॉनमी पर क्या असर पड़ेगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरोना से निपटने में प्रभास ने असल में 'बाहुबली' वाला काम कर दिया

जितना कुछ एक्टर ने मिलकर किया था, उतना प्रभास ने अकेले कर दिया.

कोरोना से लड़ने के लिए टीम इंडिया को विश्वकप जिताने वाला स्टार सड़क पर उतरा!

लोगों से घरों में जाने की अपील कर रहा है टी20 विश्वकप का हीरो

वॉल स्ट्रीट के 'आइंस्टाइन' भी कोरोना वायरस के चपेटे में आ गए हैं

बहुत भावुक ट्वीट किया है.

कोरोना लॉकडाउन पर गुलज़ार साब की शायराना बात सुनकर आपके दिलो-दिमाग में जरूर घंटी बजेगी

इन प्रसिद्द शायर-गीतकार का मैसेज असरदार साबित होने वाला है

कोरोना लॉकडाउन के दौरान 'रामायण' टीवी पर दोबारा कैसे और क्यों आ रही है?

फिरोज़ खान की मशहूर फिल्म 'कुर्बानी' ने कैसे रामानंद सागर को 'रामायण' बनाने की प्रेरणा दी.

यूपी: लॉकडाउन में मजदूरों को उकड़ू बैठाकर छलांग लगवाने वाला सिपाही अब पछता रहा होगा

लॉकडाउन के दौरान कई जगहों से पुलिस की ज्यादती की ख़बरें भी आई हैं.

लॉकडाउन में छोटे भाई ने बाहर जाने से रोका, तो बड़े भाई ने मर्डर ही कर डाला

बाज़ार से आधे घंटे मैं लौटने का बोलकर बाहर गया था.

गैर-मुस्लिम स्टूडेंट्स को फेल करने का कटाक्ष भारी पड़ा, जामिया ने प्रोफेसर को सस्पेंड कर दिया

सारी बात CAA को लेकर हुए प्रोटेस्ट से शुरू हुई थी.

कोरोना: सोचा भी न होगा कि विदेश से लौटने की जानकारी छुपाना इतना बड़ा क्राइम है

हिमाचल के कांगड़ा ज़िले का मामला.

कोरोना के शक में सफदरजंग अस्पताल से कूदने वाले की रिपोर्ट में क्या आया?

आदमी ज़िंदा होता, तो उसे खुद हैरानी होती.