Submit your post

Follow Us

नयी सरकार में निवेशकों के 12.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए

5
शेयर्स

मोदी सरकार 100 दिन का जश्न मना रही है. और निवेशक एक खबर से दुखी बैठे हैं. खबर क्या? कि इन 100 दिनों के भीतर निवेशकों के 12.5 लाख करोड़ रुपए मार्केट में डूब गए हैं.

30 मई को सरकार का कामकाज शुरू हुआ. इस दिन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी BSE में मौजूद कंपनियों का मार्केट कैपिटलाइजेशन 153 लाख 62 हज़ार 936 करोड़ रुपए था. सोमवार यानी 9 सितम्बर को मार्केट बंद हुआ तो इन कंपनियों का मार्केट कैपिटलाइजेशन 141 लाख 15 हजार 316 करोड़ रह गया. सीधे-सीधे 12.5 लाख करोड़ रुपए कम. मार्केट कैपिटलाइजेशन यानी किसी कंपनी की डॉलर के बाज़ार में हैसियत.

किस कंपनी को सबसे अधिक नुकसान हुआ (साभार - दैनिक भास्कर)
किस कंपनी को कितना नुकसान हुआ (साभार – दैनिक भास्कर)

30 मई से अब तक BSE का सेंसेक्स 2,357 पॉइंट गिर चुका है. जबकि NSE का सेंसेक्स 858 पॉइंट गिर चुका है. दैनिक भास्कर के मुताबिक़, इस गिरावट का कारण एक तो ये है कि आर्थिक वृद्धि बहुत कम है, और ये भी कि विदेशी निवेशक पीछे हट रहे हैं. कहा जाता है कि विदेशी निवेशक सरकार के टैक्स से परेशान थे.

9 सितम्बर को ऑटो इंडस्ट्री के भी आंकड़े आए हैं. बीते दस सालों में ऑटोमोबाइल की बिक्री में जबरदस्त कमी दर्ज की गयी है. मोटरकारों में ये कमी 41 प्रतिशत की है, जबकि बाइकों में ये कमी 22 प्रतिशत तक की है. ऐसे में ये निवेशकों को होने वाला नुकसान भी अच्छी खबर नहीं माना जा सकता है.

हाल में ही आरबीआई ने सरकार को 1.76 लाख करोड़ अपने रिज़र्व में से दिए थे. सरकार ने अपनी मंशा ज़ाहिर नहीं की है कि इन पैसों का क्या किया जाएगा. एनडीटीवी से बात करते हुए IDBI कैपिटल में रिसर्च प्रमुख ए.के. प्रभाकर ने बताया है कि डूब गए 12.5 लाख करोड़ – जो RBI से मिले लोन का लगभग 7.5 गुना है – इसलिए भी डूबे क्योंकि अमरीका और चीन में ट्रेड वार चल रही है. विदेशी निवेशक उससे भी परेशान हैं, पैसे खींच रहे हैं. और इधर के निवेशकों के पैसे डूब रहे हैं.


लल्लनटॉप वीडियो : अमित शाह को क्यों करानी पड़ी सर्जरी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

हजारों के कटते चालान के बीच गुजरात वालों को काफ़ी राहत मिल गई है

नए मोटर मोटर व्हीकल एक्ट में बदलाव के बाद दबा के चालान काटे जा रहे हैं.

जिसे सिख होने की वजह से महंगे रेस्तरां में घुसने नहीं दिया, उस लड़के के जवाब ने दिल जीत लिया

'माफ़ी मत मांगो. बस ये एक काम कर दो.'

नन्ही बच्ची को सातवीं मंजिल से फेंकने वाले की डायरी पढ़कर सन्न रह गई पुलिस

अपने दोस्त की मासूम बच्ची की हत्या कोई क्यों करेगा? इसलिए करेगा...

रहस्यमय मर्डर: लाश के प्राइवेट पार्ट पर कॉन्डम और जेब में आधार कार्ड मिला

घटना नोएडा की है. छानबीन चल रही है.

अरे! तमिलनाडु में आसमान से गिरी ये अजीबोगरीब चीज़ क्या थी?

अभी एक दूसरे रहस्य से भी पर्दा उठना बाकी है.

दूध पिलाते हुए मां की आंख लग गई, बच्चा दबकर मर गया

धीरे-धीरे बच्चे की सांसें रुक गईं.

क्लास 3 की स्टूडेंट ने स्कूल टॉयलेट में खुद को आग लगाई, वजह हॉरर टीवी सीरियल है!

यूपी का मामला. पिता को मगर कुछ और आशंका है.

38 साल की औरत, 20वीं बार गर्भवती होकर अस्पताल पहुंची तो स्टाफ़ चौंक गया

ये पहली डिलीवरी है जिसके लिए लंकाबाई अस्पताल गईं.

राखी सावंत ने पहली बार कोई अच्छी खबर दी है

सबकुछ ठीक रहा तो हम सबको राखी सावंत से राहत मिल सकती है.

लड़के ने 80 साल का बुड्ढा बनकर देश से भागने की कोशिश की, मगर एक गलती कर गया

फ़र्ज़ी पासपोर्ट बनाकर दिमाग खूब लगाया, मगर...