Submit your post

Follow Us

बीजेपी के नेता और समर्थकों ने क्या वाकई में झांसी के एसपी की पिटाई कर दी?

यूपी में MLC चुनाव की मतगणना के बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. यह वीडियो झांसी का बताया जा रहा है. इसमें दिख रहा है कि कुछ लोगों की पुलिस अधिकारियों के साथ नोकझोक हो रही है.  हंगामे के बीच  धक्कामुक्की हो रही है. पुलिस अधिकारी बचाव की मुद्रा में नजर आ रहे हैं. पूरा मामला क्या है, जान लीजिए.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

इंडिया टुडे के संवाददाता अमित श्रीवास्तव के अनुसार, झांसी के महाविद्यालय में  MLC चुनाव में डाले गए वोटों की गिनती चल रही थी. इसी दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोठारी हॉल में जाने की कोशिश की, पुलिस ने उन्हें गेट पर ही रोक दिया. बस फिर क्या था, पुलिस और भाजपा कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए. अचानक धक्का-मुक्की शुरू हो गई. झगड़ा इतना बढ़ा कि हाथापाई होने लगी. पुलिस अफसरों की पिटाई के भी आरोप लगे. वायरल वीडियो में दावा किया गया है कि जिसे धक्का दिया जा रहा है, वह झांसी के एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी हैं. घटना के बाद गुस्साए भाजपा समर्थक और विधायक धरने पर बैठ गए. पुलिस के खिलाफ नारेबाजी भी की गई.

पुलिस ने बताया, मामूली धक्का-मुक्की

वीडियो वायरल होने के बाद झांसी पुलिस ने इस घटना पर प्रतिक्रिया दी. झांसी के एसएसपी दिनेश कुमार ने ट्वीट करके इस बात को माना कि पुलिसवालों के साथ धक्का-मुक्की हुई है. हालांकि उन्होंने एसपी विवेक त्रिपाठी को पीटे जाने की खबर को भ्रामक और फेक न्यूज करार दिया. उनका कहना था कि लोगों को रोकने के दौरान मामूली धक्कामुक्की हुई है. पिटाई जैसी कोई बात नहीं है.

इधर, डीएम से भिड़े प्रत्याशी

एक तरफ जहां पुलिसवालों के साथ बीजेपी कार्यकर्ताओं की काउंटिंग सेंटर के बाहर धक्का-मुक्की हुई, तो दूसरी तरफ काउंटिंग सेंटर पर मौजूद कार्यकर्ता डीएम से भिड़ गए. इलाहाबाद-झांसी खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव की मतगणना झांसी के बीकेडी कोठारी हॉल में चल रही है. इसी दौरान कुछ प्रत्याशियों ने अधिकारियों पर अनियमितायें करने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया. प्रत्याशी और उनके समर्थकों का आरोप है कि मतगणना के दौरान उन्हें एक साथ 5-5 मत दिखाए जा रहे हैं. इससे काफी असमंजस की स्थिति पैदा हो रही थी. उन्होंने आरोप लगाया कि इसका विरोध करने पर अधिकारियों ने उन्हें अपशब्द कहे. प्रत्याशी से कहा गया कि शांति से बैठे रहो. ज्यादा बोले तो कान पकड़कर बाहर कर दिए जाओगे. ये भी आरोप है कि चुनाव में लगे अधिकारियों के इस तरह से बोलने पर एक प्रत्याशी ने खुद झांसी के डीएम के कान पकड़ने की कोशिश की. हालांकि कुछ देर बाद उन्हें समझाकर मामले को किसी तरह शांत करा दिया गया.

बता दें, यूपी में कोविड प्रोटोकॉल के बीच MLC चुनाव  के वोटों की गिनती हो रही है. विधान परिषद की 11 सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा में वोट गिने जा रहे हैं. खंड स्नातक (Graduate Constituency) की 5 और खंड शिक्षक (Teachers Constituency) निर्वाचन क्षेत्र की 6 सीटों के लिए नतीजे आने हैं.


वीडियो – यूपी का वो कांड जिसमें IPS अधिकारी को ही पुलिस ने भगोड़ा घोषित कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.