Submit your post

Follow Us

कैसे भारत-न्यूजीलैंड मैच में झारखंड के खेल मंत्री के साथ 'खेला' हो गया

झारखंड के खेल मंत्री हफीजुल अंसारी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल है. वीडियो को शेयर करते हुए लोग लिख रहे हैं कि झारखंड के खेल मंत्री के साथ ‘खेला’ हो गया. वायरल वीडियो में मंत्री हफीजुल अंसारी ( Hafizul Ansari) एक शख्स पर भड़कते हुए नजर आ रहे हैं.

हुआ क्या था ?

आज तक से जुड़े आकाश कुमार के मुताबिक 19 नवंबर को रांची के जेएससीए इंटरनेशनल स्टेडियम में भारत-न्यूजीलैंड का मैच चल रहा था. मैच देखने झारखंड के खेल मंत्री हफीजुल अंसारी भी स्टेडियम पहुंचे. हफीजुल अंसारी के साथ झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो समेत कई और विधायक मंत्री भी मैच देखने आए थे. सब कुछ सही चल रहा था, लेकिन कुछ देर बाद खेल मंत्री हफीजुल अंसारी स्टेडियम में मंत्रियों के लिए की गई व्यवस्था देखकर भड़क गए.

वायरल वीडियो में हफीजुल अंसारी स्टेडियम के एक कर्मचारी को हड़काते हुए कह रहे हैं, ‘क्या मंत्री का यही प्रोटोकॉल है, ये कुर्सी… ये शीशा… ये बैठने की जगह है क्या? ’ गुस्साए खेल मंत्री को शांत करने के लिए स्टेडियम का कर्मचारी उन्हें समझाने की कोशिश करता है, लेकिन मंत्री जी का गुस्सा शांत नहीं होता है.

हफीजुल अंसारी को देखकर झारखंड के शिक्षा मंत्री भी भड़क जाते हैं और वो भी बैठने की व्यवस्था को लेकर स्टेडियम के कर्मचारी की क्लास लगाने लगते हैं.

हफीजुल अंसारी के भड़कने की वजह

दरअसल, रांची के जेएससीए स्टेडियम में जहां बड़े मंत्रियों की बैठने का अरेंजमेंट किया गया था, वो शीशे से पैक था. इसके आगे दूसरे वीआईपी दर्शक खड़े होकर मैच का लुत्फ उठा रहे थे. मंत्रियों को जहां बैठाया गया था, वहां टीवी लगा हुआ था, जिसके जरिए वे मैच देख सकते थे.

अब आप सोचिए कि आप क्रिकेट मैच देखने स्टेडियम पहुंचें और वहां पर भी आपको टीवी पर मैच देखना पड़े. यही हफीजुल अंसारी के साथ भी हुआ और वो इस बात से इतना नाराज हुए कि मैच बीच में छोड़कर ही स्टेडियम से चले गए.

वैसे, हफीजुल अंसारी पहली बार विवादों में नहीं आए हैं. पिछले महीने एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह को जीते जी श्रद्धांजलि दे दी थी और उनकी आत्मा की शांति के लिए एक मिनट का मौन भी रख लिया था. हालांकि, अपनी गलती का एहसास होने पर उन्होंने माफी मांग ली थी.


कर्नाटक को तमिलनाडु ने हराकर सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जीती

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.