Submit your post

Follow Us

बिहार के दरभंगा में स्टूडेंट घर-घर जाकर ईंट काहे जुटा रहे हैं?

बिहार के दरभंगा में छात्रों ने एक अनूठी मुहिम शुरू की है. वे घर-घर जाकर ईंट मांग रहे हैं. ईंट, जो दरभंगा में AIIMS निर्माण के काम में लगेंगी. AIIMS को तैयार करने के काम में तेजी लाने के लिए मिथिला स्टूडेंट्स यूनियन (MSU) ने ये मुहिम शुरू की है. वे राम मंदिर निर्माण की तर्ज पर घर-घर जाकर लोगों से एक-एक ईंट मांग रहे हैं. इन ईंटों को एक जगह इकट्ठा किया जा रहा है. 8 सितंबर को MSU के लोग खुद ही AIIMS का शिलान्यास करेंगे.

1200 करोड़ से बनना है एम्स

दरअसल केंद्र सरकार ने साल 2015-16 के बजट में ही दरभंगा में AIIMS की घोषणा की थी. कहा गया था कि 4 साल में ये काम पूरा कर लिया जाएगा. बताया गया था कि ये 750 बेड का अस्पताल होगा. 1200 करोड़ रुपये से ज़्यादा की लागत से बनकर तैयार होगा. इस बात को 5 साल बीत गए हैं, लेकिन AIIMS पूरा होने की बात तो दूर, यहां एक ईंट तक नहीं रखी गई है, शिलान्यास तक नहीं हुआ है.

इस AIIMS का निर्माण दरभंगा मेडिकल कॉलेज के कैंपस में होना है. इसके लिए करीब 200 एकड़ जमीन स्वीकृत की गई है. लंबे समय तक काम अटकने के बाद इसी हफ्ते बिहार सरकार ने इस 200 एकड़ जमीन पर मिट्टी भराई के काम के लिए पैसा दिया है. करीब 13 करोड़ रुपये. लेकिन मिट्टी भराई का काम भी शुरू नहीं हुआ.

Darbhanga
AIIMS का निर्माण दरभंगा मेडिकल कॉलेज कैंपस में होना है.

स्टूडेंट्स यूनियन का कैंपेन

ऐसे में स्टूडेंट यूनियन ने अब एक संदेश देने के लिए ये कैंपेन शुरू किया है. उनका कहना है कि अगर सरकार AIIMS का काम शुरू नहीं करा सकती तो वे लोगों के सहयोग से इस पर आगे बढ़ेंगे. स्टूडेंट यूनियन के लोग जिस भी घर में ईंट मांगने जा रहे हैं, उन्हें बता रहे हैं कि ये ईंट क्यों मांगी जा रही है. ये लोग ‘दरभंगा में AIIMS बनाएंगे’ के नारे के साथ गली-गली घूम रहे हैं. एक ईंट से मदद करने वाले मदन कुमार झा का कहना है कि दरभंगा में AIIMS बने, इसके लिए वह युवाओं का साथ दे रहे हैं.

इस अभियान की शुरुआत करने वाले अविनाश भारद्वाज ने इंडिया टुडे से कहा,

“ये एक जन-जागरण अभियान है. सरकार को जगाने के लिए चलाया जा रहा है. AIIMS का काम ज़मीनी स्तर पर शुरू होना चाहिए. अब सरकार नहीं करेगी तो आम लोगों को आगे आना ही होगा. AIIMS को अगले चुनाव में मुद्दा बनाकर वोट लेने के लिए सरकार धीमी चाल से काम करा रही है.”

Darbhanga (1)
दरभंगा के अलावा मधुबनी, समस्तीपुर तक में ईंट जमा करने का अभियान चलाने की योजना है.

MSU के सदस्य आदित्य ने The Lallantop को बताया कि 1 अगस्त से छात्रों ने ये कैंपेन शुरू किया है. 9 अगस्त को एक रैली भी आयोजित की जाएगी ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोग इससे जुड़ें. इसके एक महीने बाद 8 सितंबर को AIIMS की प्रस्तावित जगह पर ही शिलान्यास किया जाएगा.

MSU का कहना है कि नागपुर में 2014 में AIIMS की घोषणा की गई थी, और 4 साल में वहां निर्माण कार्य पूरा हो गया. गोरखपुर में भी 2014 में घोषणा की गई और 4 साल में काम पूरा हो गया. 2018 में तेलंगाना में एम्स घोषित हुआ, आंशिक रूप से काम शुरू हो चुका है. 2017 में देवघर, राजकोट में एम्स घोषित हुआ, दोनों जगह क्लास स्टार्ट हो चुकी हैं. 2015 में विजयपुर, विलासपुर, गुवाहाटी में एम्स का ऐलान हुआ, वहां भी अब क्लासेज लग रही हैं. फिर दरभंगा में ऐसा क्यों कि एक ईंट भी नहीं रखी गई?

और सरकार इस पर क्या कह रही है? हमने पक्ष जानना चाहा दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर से. उन्होंने कहा –

“2015 में AIIMS स्वीकृत हुआ था. लेकिन अगले 3 साल तक तत्कालीन राज्य सरकार की तरफ से इसके लिए जमीन आवंटन का काम नहीं हो सका. तब मैं विधायक था. इसके बाद 2019 में मैं सांसद बना और AIIMS के लिए प्रयास शुरू किए. 2020 में चुनाव हुए और हम (BJP) राज्य में गठबंधन में आए. इसके बाद मेरी मुख्यमंत्री जी से AIIMS को लेकर बात भी हुई. मैंने उनसे कहा कि दरभंगा DMCH में 200 एकड़ जमीन उपलब्ध है. उन्होंने फौरन ये जमीन AIIMS के लिए दे दी. लेकिन इसके कुछ समय बाद ही कोरोना आ गया और काम बाधित हो गए. अब मिट्टी भराई का बजट भी पास कर दिया गया है और काम भी जल्द शुरू होगा.”

हालांकि गोपाल जी ठाकुर ने भरोसा दिलाया है कि अब AIIMS के काम में कोई रुकावट नहीं आनी चाहिए और ये जल्द पूरा होगा.


बिहारः दरभंगा का DMCH अस्पताल, इस खंडहर में कैसे होता है इलाज़?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.