Submit your post

Follow Us

मंदिरा बेदी के पति और फिल्ममेकर राज कौशल नहीं रहे

मशहूर एक्टर और टीवी प्रेज़ेंटर मंदिरा बेदी के पति राज कौशल नहीं रहे. 30 जून की सुबह 4:30 बजे उन्हें दिल का दौरा पड़ा. इससे पहले कि उन्हें किसी तरह की पारिवारिक या मेडिकल हेल्प मिल पाती, वो गुज़र गए. एक्टर रोहित रॉय और फिल्ममेकर ओनिर ने उनके निधन की पुष्टि सोशल मीडिया पर की. रोहित अपने ट्विटर हैंडल पर लिखते हैं-

”मेरा सबसे पुराना और करीबी दोस्त गुज़र गया और मैं उसके अंतिम संस्कार तक में शामिल नहीं हो सकता. आखिरी बार उसे देख नहीं सकता. उसे आखिरी विदाई तक नहीं दे सकता. और लोगों को लगता है एक्टर्स का काम बहुत आराम और मज़े का है. ये एक ऐसी नौकरी है, जिससे किसी को ईर्ष्या नहीं होनी चाहिए. भगवान तुम्हारी आत्मा को शांति दे राज कौशल.”

राज कौशल ने अपने करियर की शुरुआत स्टंट मैन के तौर पर की थी. वो 1992 में आई काजोल की डेब्यू मूवी ‘बेखुदी’ से बतौर स्टंटमैन जुड़े हुए थे. इसके बाद राज ने ‘अग्निपथ’ फेम डायरेक्टर मुकुल आनंद को असिस्ट करना शुरू कर दिया. उन दिनों मुकुल सुभाष घई के प्रोडक्शन में बन रही फिल्म ‘त्रिमूर्ती’ डायरेक्ट कर रहे थे.

पत्नी मंदिरा के साथ राज कौशल. राज ने पिछले कुछ समय से अपना लुक बिल्कुल बदल लिया था. उन्होंने सिर के बाल हटा लिए थे और दाढ़ी बढ़ा ली थी.
पत्नी मंदिरा के साथ राज कौशल. राज ने पिछले कुछ समय से अपना लुक बिल्कुल बदल लिया था. उन्होंने सिर के बाल हटा लिए थे और दाढ़ी बढ़ा ली थी.

1998 में राज कौशल ने अपनी खुद की प्रोडक्शन कंपनी खोल ली. इसके तहत उन्होंने 800 से ज़्यादा कमर्शियल्स डायरेक्ट किए. कमर्शियल्स के अलावा वो अपने करियर में ‘प्यार में कभी कभी’, ‘शादी के लड्डू’ और ‘एंथनी कौन है’ जैसी तीन फिल्में भी डायरेक्ट कर चुके थे. इंडिया में सेम सेक्स रिलेशनशिप पर बनी कुछ कायदे की फिल्मों में से एक ‘माय ब्रदर निखिल’ के प्रोड्यूसर भी थे. इस फिल्म को ओनिर ने डायरेक्ट किया था. ओनिर इस बारे में ट्वीट करते हुए लिखते हैं-

”बहुत जल्दी चले गए. हमने एक फिल्म मेकर और प्रोड्यूसर राज कौशल को आज सुबह खो दिया. ये बहुत दुख की बात है. वो मेरी पहली फिल्म ‘माय ब्रदर निखिल’ के प्रोड्यूसर्स में से एक थे. वो उन चुनिंदा लोगों में से थे, जिन्हें हमारे विज़न पर यकीन था और जिन्होंने हमें सपोर्ट किया. उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना.”

1994 में ‘शांति’ से शुरू करके मंदिरा बेदी टीवी पर स्टार बन चुकी थीं. मगर वो फिल्मों में अपना नाम बनाना चाहती थीं. वो काम मांगने के सिलसिले में कई फिल्ममेकर्स से मिलती थीं. 1996 में मंदिरा मुकुल आनंद के यहां पहुंचीं. तब राज कौशल मुकुल को असिस्ट कर रहे थे. यहां इन दोनों की पहली मुलाकात हुई. अगले कुछ सालों तक दोनों की प्रोफेशनल लाइफ अलग-अलग चलती रही. मगर वो निजी जीवन में करीब आने लगे. 1999 में राज और मंदिरा ने शादी कर ली. इस शादी से उन्हें एक बेटा हुआ वीर. पिछले दिनों इस कपल ने तारा नाम की एक बच्ची को अडॉप्ट किया था.


वीडियो देखें: द फैमिली मैन के एक्टर शहाब अली को मुंबई में घर खाली करना पड़ा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?

अयोध्याः 20 लाख की जमीन मेयर के भतीजे ने ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेची, महंत ने उठाए सवाल

अयोध्याः 20 लाख की जमीन मेयर के भतीजे ने ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेची, महंत ने उठाए सवाल

ट्रस्ट द्वारा खरीदी जा रही जमीनों के दो और सौदे विवादों के घेरे में.