Submit your post

Follow Us

फिलिस्तीन का झंडा लहराने की अपील पर यूपी पुलिस ने जेल क्यों भेज दिया?

इज़रायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले 12 दिनों तक जंग चली. 230 से अधिक फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं. रॉकेट फ़ायरिंग में इज़रायल के भी 12 लोग मारे गए. इतनी मौतों के बाद अब जाकर अब इस जंग में संघर्ष विराम की बात हुई है. हिंसा के खिलाफ़ दुनिया भर में आवाज़ उठाई जा रही है. लोग फ़िलिस्तीन और इज़रायल के पक्ष-विपक्ष में लिख रहे हैं, बोल रहे हैं. भारत में भी इज़रायल और फिलिस्तीन मामले को लेकर लोग दो धड़े में बंटे हुए हैं. इस बीच उत्तर प्रदेश पुलिस ने आज़मगढ़ में यासिर अख़्तर नाम के एक युवक को इसलिए गिरफ़्तार कर लिया क्योंकि उसने फेसबुक पर लोगों से फिलिस्तीन का झंडा लहराने की अपील की. पूरा मामला क्या है, जानते हैं?

सबसे पहले आज़मगढ़ पुलिस का ये ट्वीट देखिए.

मामले को लेकर यासिर अख़्तर पर सरायमीर थाने में 73/21  धारा 505(2) भारतीय दंड संहिता के तहत मामला दर्ज किया गया है.

प्रशासन का क्या कहना है?

आज़मगढ़ के SP सुधीर कुमार सिंह ने मामले को लेकर आधिकारिक वीडियो में बताया है कि सरायमीर के रहने वाले यासिर अख़्तर ने 20 मई को एक फेसबुक पोस्ट किया. इसमें जुमे की नमाज़ के बाद पड़ोसी देश का झंडा, दूसरे देश का झंडा लहराने की अपील की. मामले को लेकर मुकदमा दर्ज किया गया है. अभियुक्त को गिरफ़्तार किया गया है और उसे जेल भेजा जा रहा है.

इसी मामले को लेकर अल जजीरा से बात करते हुए SP सुधीर ने बताया –

“यह भीड़भाड़ वाला इलाका है और यहां कई पंथ के मुस्लिम लोग रहते हैं. नमाज़ के बाद सामूहिक अपील से हिंसा हो सकती है. वह झंडा फहराना चाहता तो फहरा सकता था, लेकिन दूसरों को बुलाना सही नहीं है. कई लोगों ने इसका विरोध किया, इसलिए हमें कार्रवाई करनी पड़ी.”

यासिर के परिवार वाले क्या कह रहे?

यासिर के भाई शादाब ने अल जजीरा को बताया कि –

“मेरे भाई ने एकजुट होने वाले मेसेज को एक फेसबुक पोस्ट से कॉपी किया था. उसने दूसरे पोस्ट में चीज़ों को साफ़ कर दिया था कि वह भारत के लोगों के लिए नहीं था. वह गाज़ा के लोगों के लिए था. वो एकजुट हों और झंडा फहराएं.”

शादाब ने आगे बताया कि अगर दुनिया में कहीं भी मुस्लिम पीड़ित हैं तो उनका समर्थन करना और अन्याय के खिलाफ़ बोलना ग़लत नहीं है.

आज़मगढ़ के वकील तलहा अहमद रशदी ने इसी बातचीत में बताया कि यासिर पर गंभीर आरोप नहीं है. उसे ज]मानत मिल जाएगी. हालांकि उसने जो किया, वह गैरकानूनी नहीं था. फ़िलिस्तीन भारत के लिए मित्र राष्ट्र है. हमने आधिकारिक तौर पर फ़िलिस्तीन का समर्थन किया है. ऐसे में यह मामला कोर्ट में नहीं टिकेगा.

सोशल मीडिया पर गिरफ़्तारी का विरोध

सोशल मीडिया पर लोग यासिर की गिरफ़्तारी को लेकर योगी सरकार और उत्तर प्रदेश प्रशासन पर सवाल उठा रहे हैं. लोगों ने लिखा है कि फ़िलिस्तीन का झंडा लहराने के लिए भारत में कौन सी धारा बनती है? लोगों ने कहा कि इसका धर्म ही काफ़ी है इसकी गिरफ्तारी के लिए. कई लोगों ने लिखा कि मैंने भी अपने सोशल मीडिया पेज पर फ़िलिस्तीन का झंडा लगाया हुआ है, तो क्या मुझे भी गिरफ़्तार कर लिया जाएगा? कई लोगों ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू से लेकर मोदी सरकार तक फ़िलिस्तीन के समर्थन हैं, तो इसमें गलत क्या है?

कुछ ट्वीट देखिए.

इसके अलावा एक सवाल और उठा. लोगों ने लिखा कि पुलिस ने गिरफ़्तार यासिर की तस्वीर पर ‘अरेस्टेड’ का लाल ठप्पा क्यों लगाया हुआ है? लोगों ने SP से पूछा कि आपने हाल में कई लोगों को गिरफ़्तार किया है लेकिन उनकी तस्वीरों पर तो ‘अरेस्टेड’ का लाल स्टाम्प नहीं नज़र आ रहा. फिर इस तस्वीर पर क्यों?

कई लोगों ने एसपी सुधीर सिंह को भी लपेटे में लिया है. लोगों ने पूछा है कि फ़िलिस्तीन किस हिसाब से पड़ोसी देश हुआ? बता दें कि विडियो बाइट में सुधीर सिंह ने पड़ोसी झंडे की बात कह दी थी.

भारत सरकार का क्या रुख़ है?

भारत ने दोनों की साइड ली है. भारत ने कहा कि वो हमास द्वारा रॉकेट्स दागे जाने का भी विरोध करता है. और इज़रायल द्वारा गाज़ा पर की जा रही बमबारी की भी मुख़ालफ़त करता है. 16 मई को मिडिल-ईस्ट के इस घटनाक्रम पर एक वार्ता हुई थी. इसमें UN में भारत के प्रतिनिधि टी एस तिरुमूर्ति ने ये बात कही थी. तिरुमूर्ति ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से कहा कि मौजूदा हिंसा के चलते बहुत सारे लोगों की जान गई है. इनमें औरतें और बच्चे भी शामिल हैं. इसीलिए भारत दोनों पक्षों से संयम की अपील करता है.


विडियो- इजराइल-फिलिस्तीन सीज़फायर में सबसे बड़ी भूमिका इजिप्ट की कैसे हो गई?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.