Submit your post

Follow Us

पटाखे फोड़ने से रोकने पर नहीं रुका, क्या इसलिए युवक की हत्या कर दी गई?

भुवनेश्वर, ओडिशा का शहर है. यहां पर एक वाकया हुआ, जिसमें एक लड़के की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. इसकी वजह ये बताई जा रही थी कि अमरेश पटाखे जला रहा था. कुछ लोगों ने पटाखे जलाने से मना किया. अमरेश नहीं माना तो लोगों ने उसे पीटना शुरू कर दिया. इससे उसकी मौत हो गई.

सोशल मीडिया पर कई सारे पोस्ट भी डाले गए. इन पोस्ट के जरिए इस घटना को कम्यूनल एंगल देने की भी कोशिश की गई. कहा गया कि एक हिंदू लड़के को पटाखे भी नहीं फोड़ने दिए गए. मामला एयरफिल्ड थाना क्षेत्र का है. लड़के का पूरा नाम अमरेश नायक है, जिसकी हत्या की गई है. मीडिया में ये रिपोर्ट्स आईं कि, दिवाली के दिन अमरेश और उसके दोस्त पटाखे जला रहे थे. और कुछ लोग वहां आए. आकर उन्हें पटाखे जलाने से मना करने लगे. पर उन लोगों ने नहीं सुनी. और इसी पर कहासुनी हो गई. उन लोगों ने अमरेश की धारदार हथियार से हत्या कर दी.

वहीं, आल्ट न्यूज के मुताबिक, भुवनेश्वर के डीसीपी अनूप साहू का कहना है कि इस घटना में कोई कम्यूनल एंगल नहीं है. सभी आरोपियों की पहचान हो गई है. आरोपी और पीड़ित दोनों ही एक कम्यूनिटी से हैं. डीसीपी के मुताबिक, अमरेश नायक और अन्य लोगों पर पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. उनके मुताबिक, दो गुटों में बहस हुई, पर वो पटाखों की वजह से नहीं थी. उन दोनों गुटों में पुरानी कोई रंजिश थी, इसी वजह से हमला किया गया. पुलिस ने बताया कि एक टीम ने घटनास्थल की बारीकी से जांच की है. वहां टीम को कई पटाखे ऐसे मिले हैं, जिन्हें जलाया ही नहीं गया था. पर अभी ये मालूम नहीं चला है कि ये हत्या के बाद के हैं या उसके पहले के.

वहीं, देबी प्रसाद शेठी, जिसने शिकायत दर्ज करवाई है, उसके मुताबिक, वो लोग पटाखे जला रहे थे. कुछ युवक आए और उन्होंने सेलिब्रेशन को बंद करने को कहा. तीन लोग थे, जिन्होंने धारदार हथियार से हमला किया. पुलिस के मुताबिक दो और लोग भी घायल हुए थे. अमरेश को अस्पताल पहुंचाया गया. जहां पर डॉक्टरों ने उसे डेड डिक्लेयर कर दिया.


वीडियो देखें : एक्टर विश्व भानु ने कॉलोनी के मुस्लिम पड़ोसियों पर जो आरोप लगाए, उसकी हकीकत जान लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजस्थान: क्या है गहलोत-पायलट के बीच टकराव की वजह?

जयपुर से लेकर दिल्ली तक जोर आजमाइश हो रही है.

बच्चन परिवार की इकलौती सदस्य जिसे कोरोना नहीं हुआ

अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन COVID-19 पॉजिटिव निकले थे

यूपी STF ने विकास दुबे एनकाउंटर पर अब क्या नई बात बताई है?

कार पलटने की वजह क्या थी?

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया

एक दिन पहले ही उज्जैन के महाकाल से पकड़ा गया था विकास दुबे.

कानपुर कांड : आरोपी की गिरफ़्तारी में सच कौन बोल रहा? यूपी पुलिस या आरोपी के घरवाले?

वीडियो में क्या कहा कानपुर कांड के आरोपी ने?

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

घटना में आठ पुलिसवाले शहीद हुए थे.

PM Cares के पैसों से बने वेंटिलेटर पर सवाल उठे तो बनाने वाले ने राहुल गांधी को घेर लिया

कहा कि राहुल गांधी के सामने डेमो दिखा सकता हूं.

क्या गलवान में पीछे हटकर चीन 1962 वाली चाल दोहरा रहा है?

58 साल पहले भी ऐसा ही हुआ था. पहले चीन गलवान में पीछे हटा और कुछ दिन बाद भारत पर हमला कर दिया.

सरकार ने वो आदेश दिया है कि कंपनियां मास्क और सैनिटाइज़र के दाम में मनचाहा बदलाव कर सकती हैं

राज्यों ने शिकायत नहीं की, तो सरकार ने आदेश निकाल दिया

बुरी खबर! 'मेरे जीवनसाथी', 'काला सोना' जैसी फ़िल्में बनाने वाले प्रड्यूसर हरीश शाह नहीं रहे

कैंसर से जारी जंग आखिरकार हार गए.