Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन के बीच मज़दूरों का क्या होगा, सीएम उद्धव ठाकरे ने फैसला कर दिया है

महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के गन्ना मज़दूरों से जुड़ा बड़ा फैसला लिया है. करीब एक लाख 30 हज़ार गन्ना मज़दूरों को सरकार उनके घर, उनके गांव वापस भेजेगी. दरअसल हर साल गन्ना कटाई के सीज़न में महाराष्ट्र के अलग-अलग ज़िलों से लाखों मज़दूर पश्चिमी महाराष्ट्र आते हैं. यहां अस्थाई रूप से रहने का जुगाड़ करते हैं. छह महीने तक यहीं रुकते हैं और गन्ना बोने-काटने का काम करते हैं.

इस साल भी मज़दूर सीज़न में यहां आए, लेकिन वापस जाने के पहले ही लॉकडाउन हो गया और वे यहीं फंसे रह गए. महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही मिल मालिकों से कहा था कि इन मज़दूरों रहने-खाने की व्यवस्था पूरी रखी जाए. अब लॉकडाउन-2 का ऐलान होने के बाद इन्हें इनके गांव वापस भेजने का फैसला किया गया है.

महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे ने बताया कि –

“ये गन्ना मज़दूरों के लिए अच्छी ख़बर है. वे अपने घर वापस जा सकेंगे. लेकिन इसके लिए सरकार ने जो नियम तय किए हैं, उसका पालन कराने में भी उनका सहयोग चाहिए होगा.”

सभी मज़दूरों का टेस्ट होगा

जिन भी मज़दूरों को उनके घर वापस भेजा जा रहा है, उनका पहले कोरोना वायरस टेस्ट किया जाएगा. जो रिपोर्ट आएगी, वो ज़िला कलेक्टर को सौंपी जाएगी. उसके बाद ही घर भेजा जाएगा. कौन पहले जाएगा, कौन बाद में, इसे लेकर भी प्राथमिकताएं तय हैं. सबसे पहले महिलाओं और बच्चों का टेस्ट कर उन्हें घर भेजा जाएगा. बाद में बाकियों को.

20 अप्रैल से लॉकडाउन में कुछ छूट दी जाएगी

महाराष्ट्र सरकार ने ये भी फैसला किया है कि 20 अप्रैल से कुछ सेक्ट्रर्स को लॉकडाउन में थोड़ी छूट दी जाएगी. इन सेक्टर में एग्रीकल्चर, मनरेगा, कार्गो ट्रांसपोर्ट, ग्रामीण उद्योग वगैरह शामिल हैं. केंद्र सरकार भी पहले ही घोषणा कर चुकी है कि 20 अप्रैल से लॉकडाउन में कुछ छूट दी जा सकती है. अब अलग-अलग राज्य अपने यहां कोरोना इंफेक्शन के हालातों को देखते हुए इस पर आगे बढ़ रहे हैं.


मुंबई पुलिस ने बांद्रा मामले में जिस विनय दुबे को पकड़ा, उसने मोदी सरकार को क्या चैलेंज दिया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

लॉकडाउन: सब्जी बेचने वाली महिलाओं के ठेले पलटे, उन्होंने महिला पुलिसकर्मी को पीट दिया!

मुंबई कंटेनमेंट एरिया में पुलिस सब्जी बेचने वालों के ठेले जब्त कर रही थी.

यूपी: इन कोरोना वॉरियर्स के साथ जो हुआ उससे इस लड़ाई में उनका हौसला पस्त हो सकता है!

लखनऊ के किंग जॉर्ज मे़डिकल कॉलेज के सफाईकर्मियों ने किया काम का बहिष्कार.

सोनाली बेंद्रे ने बताया, कैंसर के डर से उबरने का उन्हें सबसे मुफीद रास्ता कौन सा लगा था?

ई-कॉन्क्लेव में सोनाली बेंद्रे ने अपने एक्सपीरियंस शेयर किए.

लॉकडाउन: मोबाइल बेचकर राशन खरीदा और फिर मजदूर ने फांसी लगाकर जान दे दी

गुरुग्राम में रहने वाले छाबू के अंतिम संस्कार के लिए परिवार को पैसे उधार लेने पड़े.

मुरादाबाद के बाद अब मेरठ में डॉक्टर से मारपीट, फ्लैट खाली करने को कहा गया

इन्ही 'कोरोना वॉरियर्स' के लिए ताली-थाली पीटी गई थी.

भारतीय नौसेना के 21 जवान कोरोना से संक्रमित, बढ़ सकती है संख्या

ये जवान आईएनएस आंग्रे पर तैनात थे.

किस क्रिकेटर ने शोएब अख्तर की सबसे भद्दी बेज्जती की थी?

अख्तर को याद आया 2003 वर्ल्ड कप.

टीम इंडिया के इस मौजूदा खिलाड़ी की वजह से धोनी को 20 साल बाद आया गुस्सा!

धोनी ने गुस्से में कहा, 'मैं पागल हूं? 300 वनडे खेला हूं'

130 करोड़ हिन्दुस्तानियों के लिए छक्के पे छक्के क्यों खाना चाहते हैं शोएब अख्तर

सचिन के बारे में अख़्तर ऐसी बात बोल गए हैं जिसे हिन्दुस्तानी नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते.

हॉलीवुड एक्ट्रेस जैसी दिखने के लिए 'सर्जरी' कराने वाली इंस्टाग्राम स्टार को कोरोना हो गया है!

कभी ईरान की इंस्टाग्राम स्टार रहीं सहर तबर जेल में हैं.