Submit your post

Follow Us

मध्य प्रदेश में नेशनल हाइवे के डिवाइडर पर किसान ने सोयाबीन की फसल उगा दी

नेशनल हाइवे तेज़ रफ़्तार गाड़ियों के आने-जाने के लिए बना है. लेकिन क्या आपने कभी हाइवे के बीचों-बीच खेत देखा है? सुनने में भले ही अजीब लगे लेकिन मध्यप्रदेश के बैतूल में एक किसान ने ऐसा ही कुछ कर दिया. यहां पर एक किसान ने बैतूल-भोपाल नेशनल हाइवे पर डिवाइडर के बीच सोयाबीन की फसल उगा दी. मामला सामने आने के बाद से नेशनल हाइवे ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) और स्थानीय प्रशासन हैरान है.

क्या है मामला

इंडिया टुडे के पत्रकार राजेश भाटिया ने बताया कि बैतूल से भोपाल के लिए फोरलेन सड़क बन रही है. बैतूल से भोपाल जाने पर आठ मील पर फोरलेन के बीचोंबीच डिवाइडर पर सोयाबीन की फसल लहलहाती नज़र आई. मामला प्रशासन तक पहुंचा. इस पर तहसीलदार मौके पर पहुंचे. उनकी जांच में सामने आया कि डिवाइडर पर 10 फीट चौड़ी और लगभग 300 फीट लंबी जगह पर सोयाबीन की फसल लगी हुई थी. फसल बोने में लाला यादव नाम के एक किसान का नाम आया. इस पर तहसीलदार ने तत्काल राजस्व कर्मचारियों और पटवारी को जांच के आदेश दिए.

हाइवे पर तेज भागती गाड़ियों के बीच लहलहाती सोयाबीन की फसल.
हाइवे पर तेज भागती गाड़ियों के बीच लहलहाती सोयाबीन की फसल.

किसान बोला- बीज खराब न हो इसलिए डिवाइडर पर डाला

वहीं हाईवे पर फ़सल उगाने वाले किसान लाला यादव ने बताया कि उसने अपने खेत पर सोयाबीन बोई थी. खेत पर बुवाई के बाद पांच किलो सोयाबीन का बीज बच गया था. बीज खराब ना हो इसलिए डिवाइडर पर डाल दिया था. सोचा था कि 5-7 पौधे होंगे, जिनसे बीज काम आ जाएंगे. थोड़े दिन बाद जब सोयाबीन की फसल निकल आई तो उसको पानी और दवाई देने लगा. हालांकि लल्ला यादव का कहना है कि उसने खेती के मकसद से बीज डिवाइडर पर नहीं डाले थे.

तहसीलदार ने कहा- जांच के आदेश दिए हैं

‘आजतक’ से बात करते हुए तहसीलदार ओमप्रकाश चोरमा ने बताया कि फोरलेन के डिवाइडर पर किसी किसान के सोयाबीन बोने की खबर मिली है. मौके पर जाकर जांच की गई तो सूचना सही मिली. पटवारी को मामले की जांच के आदेश दिए हैं. इस बारे में NHAI से भी बात की जाएगी. क्योंकि यह जगह उन्हीं की है. अगर कानूनी रूप से देखा जाए तो डिवाइडर पर खेती करना गलत है.


Video: ईरान ने 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली दंगा : मरा है या नहीं, ये चेक करने के लिए ज़िंदा शाहबाज़ पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गयी!

कोर्ट में सुनवाई में दिल्ली पुलिस ने क्या बताया

अयोध्या भूमिपूजन से पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की 'धमकी' का क्या सुप्रीम कोर्ट लेगा संज्ञान?

AIMPLB ने Tweet पर विवाद देख डिलीट कर लिया है.

दिशा सालियान की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने खुलासा किया कि मौत की असली वजह क्या थी

मुंबई में एक बिल्डिंग के 14वें माले से गिरकर दिशा की जान गई थी.

दिशा सालियान केस में मुंबई पुलिस अब लोगों से क्या मदद मांग रही है?

बीजेपी सांसद नारायण राणे ने गंभीर आरोप लगाए थे.

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के UPSC निकालने वाले कैंडिडेट्स ने बताया एग्ज़ाम की तैयारी कैसे की

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के 16 कैंडिडेट ने परीक्षा पास की है.

अयोध्या : भूमिपूजन में नरेंद्र मोदी और सारे गेस्ट्स की इन तस्वीरों को देखिए!

राम मंदिर का भूमिपूजन.

UPSC रैंकर जिसकी तुलना 'पाताल लोक' के इमरान अंसारी से हो रही है

दिल्ली पुलिस परिवार से पांच लोगों ने इस बार UPSC एग्ज़ाम क्रैक किया है.

इमरान खान ने तमाम छेड़छाड़ करके पाकिस्तान का एक नया नक्शा पेश किया है

उनकी कैबिनेट ने वो नक्शा पास कर दिया है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने अधिकारियों से कहा, सुशांत की मौत से जुड़ी जानकारी किसी से भी शेयर नहीं करना!

उस मीटिंग में और क्या कहा मुंबई के पुलिस कमिशनर ने?

फ़रवरी में ही परिवार ने मुंबई पुलिस से सुशांत को बचाने की अपील की थी, पुलिस ने कहा, 'नहीं मिली कम्प्लेन'

सुशांत के जीजा ने DCP को लिखे अपने मैसेज में और क्या बताया?