Submit your post

Follow Us

इस गांव में किसने लगाए 'मुस्लिम व्यापारियों का गांव में प्रवेश निषेध है' वाले पोस्टर?

मध्य प्रदेश का इंदौर ज़िला. यहां के एक गांव में ‘इस्लामोफोबिक’ पोस्टर लगा दिया गया. इस पर विवाद हो गया. हालांकि पुलिस ने सूचना मिलते ही पोस्टर हटवाया और उन लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है, जिन्हें ‘अज्ञात’ कहा जाता है.

मामला देदालपुर तहसील के पेमलपुर गांव का है. यहां जो विवादित पोस्टर लगाया गया, उसमे लिखा था,

मुस्लिम व्यापारियों का गांव में प्रवेश निषेध है.

पोस्टर में नीचे जोड़ा गया, ‘आज्ञा से- समस्त ग्रामवासी’

कहा जा रहा है कि पोस्टर शनिवार, 2 मई को लगाया गया. रविवार, 3 मई को पुलिस ने इसे हटाया और मामले की जांच शुरू कर दी. इस मामले पर डीआईजी (इंदौर) हरिनारायणचारी मिश्रा ने ‘दी लल्लनटॉप’ को बताया,

कुछ शरारती लोगों की हरकत थी. जैसे ही मामला संज्ञान में आया, पोस्टर तत्काल हटवा दिया गया. कुछ अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज हुआ है. हालांकि पोस्टर लगाने वालों के नाम नहीं पता चले हैं.

दिग्विजय ने शिवराज को घेरा

मामले पर राजनीतिक प्रतिक्रिया भी आई. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा,

क्या यह कृत्य प्रधानमंत्री मोदी जी की अपील के विरुद्ध नहीं है? क्या यह कृत्य हमारे क़ानून में दण्डनीय अपराध नहीं है? मेरे ये प्रश्न मुख्यमंत्री शिवराज चौहान व मप्र पुलिस से हैं. समाज में इस प्रकार का विभाजन-बिखराव देश हित में नहीं है.

इससे पहले एमपी में धार ज़िले के बोरूद गांव से भी ऐसा ही मामला सामने आया था, जिसमें मुस्लिमों को लेकर ऐसा पोस्टर लगा था. इसे भी पुलिस ने हटवाया और स्पष्ट किया ये पोस्टर लॉकडाउन से पहले 17 मार्च का था.

पीएम मोदी की अपील

दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी की अपील का ज़िक्र किया है. पिछले दिनों प्रधानमंत्री कार्यालय ने पीएम मोदी के हवाले से कहा,

कोरोना वायरस नस्ल, धर्म, रंग, जाति नहीं देखता है, संप्रदाय, भाषा और सीमाएं नहीं देखता है. इसलिए एकता और भाईचारा बनाए रखने की ज़रूरत है. इस लड़ाई में हम सब एकजुट हैं.

पीएम मोदी ने इसके बाद ट्वीट किया,

इस संकट की घड़ी में देशवासी लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं. इसमें समाज के अनेक वर्गों की सकारात्मक भूमिका है. हम कल्पना करें कि हमारे ये छोटे-छोटे व्यापारी और दुकानदार खुद के जीवन का रिस्क न लेते और रोज़मर्रा की जरूरत का सामान न पहुंचाते तो क्या होता?


लॉकडाउन के बीच सीमेंट मिक्सर वाले ट्रक में मज़दूर छिपकर जा रहे थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.