Submit your post

Follow Us

भगवान के यहां भी लॉकडाउन का असर, तिरुपति बालाजी मंदिर से 1300 कर्मचारी निकाले गए

लॉकडाउन की वजह से लोगों के काम-धंधों पर असर पड़ा है. नौकरियां चली गई हैं. देश का सबसे अमीर मंदिर भी इससे नहीं बच पाया है. आंध्र प्रदेश के तिरुपति बालाजी में 1300 कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. इन कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट 30 अप्रैल को खत्म हो गया और मंदिर प्रशासन ने 1 मई से कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू नहीं किया. ये लोग गेस्ट हाउस में आव-भगत और सफाई के कामों से जुड़े हुए थे.

बिजनेस टुडे के मुताबिक, तिरुमाला तिरुपति देवस्थानाम बोर्ड (TTD) ट्रस्ट के चेयरमैन वाईवी सुब्बा रेड्डी ने कहा कि जिस फर्म से ये कर्मचारी आते थे, उसने सूचित किया कि इन लोगों की सर्विस रोकी जा रही है. हालांकि उन्होंने मानवीय आधार पर इस पर पुनर्विचार करने की बात कही है. ट्रस्ट की तरफ से तीन गेस्टहाउस चलाए जाते हैं, जिनके नाम विष्णु निवासम, श्रीनिवासम और माधवम है. निकाले गए सभी 1300 कर्मचारी इन्हीं गेस्ट हाउसों में कई साल से काम करते थे.

मंदिर के सभी गेस्टहाउस बंद हैं

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रस्ट के प्रवक्ता टी रवि का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से सभी गेस्टहाउस बंद हैं, जिस वजह से इन कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट नहीं बढ़ाया गया. उन्होंने कहा कि नियमित कर्मचारियों को भी इस दौरान कोई काम नहीं सौंपा है.
सभी फैसले कानून के मुताबिक लिए गए हैं. काम बंद होने की वजह से कर्मचारियों को निकालने का फैसला लेना पड़ा.

20 मार्च से मंदिर बंद है

ट्रस्ट ने 20 मार्च से दर्शन पर पूरी तरह रोक लगा रखी है. मुख्य मंदिर के अलावा मंदिर प्रशासन के अधीन आने वाले 50 मंदिर भी बंद हैं. 3 मई के बाद लॉकडाउन दो हफ्तों के लिए बढ़ गया है. लेकिन अभी मंदिर प्रशासन को 3 मई के बाद मंदिर बंद रखने पर फैसला लेना है. मंदिर में रोज के अनुष्ठान पुजारियों कर रहे हैं. इस वित्तीय वर्ष के लिए इस मंदिर का बजट 3,309 करोड़ रुपए है.


पड़ताल: क्या तिरुपति बालाजी मंदिर ने 200 करोड़ और अंबानी ने 1000 करोड़ कोरोना से लड़ने के लिए दान किए हैं?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन: मां चूल्हे पर बर्तन में पत्थर पकाती जिससे बच्चों को लगे कि खाना बन रहा है

भूखे बच्चे इंतजार करते-करते सो जाते.

पालघर: लिंचिंग स्पॉट पर जा रही पुलिस की बस को 200 लोगों ने रोका था, मारे थे पत्थर

लिंचिंग वाली जगह से करीब 13 किमी दूर तीन घंटे तक रोक कर रखा था.

यूजीसी ने बताया, इन तारीखों को और इस तरह होंगे यूनिवर्सिटी के एग्जाम

जिन बच्चों के पेपर अटके हुए हैं, उनका साल बर्बाद न हो, इसकी पूरी व्यवस्था है.

आतंकियों को हथियार पहुंचाने में BJP का पूर्व नेता पकड़ाया, पार्टी ने कहा 'बैकग्राउंड पता नहीं था'

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #BJPwithTerrorists.

मज़दूरों को अपने राज्य ले जाने वाली पहली ट्रेन चल पड़ी है

केंद्र ने तो बस की बात की थी, फिर ये कैसे मुमकिन हुआ?

ऋषि कपूर नहीं रहे, अमिताभ बच्चन ने ट्विटर पर बताया

29 अप्रैल की देर रात अस्पताल में हुए थे भर्ती.

ऋषि कपूर अस्पताल में भर्ती, भाई रणधीर ने बताया- उनकी सेहत ठीक नहीं है

कुछ ही महीनों पहले कैंसर से ठीक होकर न्यू यॉर्क से लौटे हैं.

समंदर के तूफानों का नामकरण हो गया है, जानिए क्या-क्या नाम रखे गए हैं

अगले 25 साल तक का इंतजाम हो गया है.

पंजाब का पांच साल का ये सरदार टिक-टॉक स्टार असल में लड़की है?

इसके हाज़िरजवाबी को लोग पसंद कर रहे हैं.

क्या मोदी सरकार ने पैसा लेकर भागने वालों का लोन माफ़ कर दिया?

इस तरह के वायरल मैसेज की सचाई क्या है?