Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन: नीतीश कह रहे थे छात्रों को लाना गलत, बीजेपी विधायक बेटी को कोटा से घर ले आए

देश में जब से लॉकडाउन लगा है बिहार के लोग कई राज्यों में फंसे हुए हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार ये कह रहे हैं कि जो जहां हैं उन्हें वहीं रहना चाहिए. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने जब  कोटा से छात्रों को लाने के लिए बसें भेजीं तो नीतीश ने इसे लॉकडाउन के ख़िलाफ़ बताया.

बिहार में जेडीयू और बीजेपी गठबंधन की सरकार है. इस बीच बीजेपी के विधायक ने नीतीश की बातों को अनसुना कर दिया. बीजेपी विधायक अनिल सिंह अपनी बेटी को कोटा से घर ले आए. अनिल सिंह को नवादा जिल प्रशासन ने पास जारी किया था.

बीजेपी विधायक को पास जारी किए जाने के बाद विपक्ष नीतीश पर निशाना साध रहा है. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया,

कभी नीतीश के करीबी रहे प्रशांत किशोर ने भी हमला बोला. ट्वीट किया,

वहीं इस मामले में बीजेपी विधायक ने अपनी बात रखी. न्यूज चैनल ABP से बातचीत में उन्होंने कहा,

बहुत सारे बच्चे बिहार में आए हैं. ऐसा नहीं है कि हम लोगों ने अपने बच्चों को लाया. बेटी ने कहा कि पापाजी हम जिस हॉस्टल में हैं वो खाली हो गया है. अकेला रहना पड़ता है. इसके बाद मैंने जिला अधिकारी से बात की और प्रकिया पूछी. उन्होंने बताया कि आपको पास के लिए आवेदन करना पड़ेगा. हम लोग पास जारी करेंगे. पास जारी होने के बाद मैं 16 को गया और 17 की रात पहुंचा. 18  को वहां से मॉर्निंग में चल दिया. मैंने सरकार की प्रक्रिया का पालन किया.

उन्होंने आगे कहा,

हमलोग पांच-छह लोग थे. एहतियात के तौर पर मैंने थर्मल स्कैनर लिया था. एक जनप्रतिनिधि के नाते मेरी जिम्मेदारी है, लेकिन व्यक्तिगत तौर पर मैं पिता हूं. बार-बार बेटी का कॉल आने पर मैंने प्रक्रिया का पालन किया और बेटी को ले आया.

नवादा ज़िला प्रशासन ने 15 तारीख़ को पास जारी किया था. उस दौरान सैकड़ों छात्र बिहार सीमा में प्रवेश कर रहे थे, तब उन्हें रोका गया था. बाद में मुख्यमंत्री ने उन्हें घर जाने की अनुमति इस शर्त पर दी थी कि उन्हें होम क्वॉरंटीन में रखा जाएगा.


पड़ताल: क्या बांद्रा कांड को हिंदुत्व को नुकसान पहुंचाने के लिए करवाया गया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा-

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?