Submit your post

Follow Us

लखीमपुर हिंसा: वायरल वीडियो में जीप से निकलकर भाग रहा शख्स कौन है?

लखीमपुर में हुई हिंसा के बाद सोशल मीडिया पर कई सारे वीडियो वायरल हैं. इनमें से एक वीडियो ऐसा भी है जो ठीक घटना के समय का बताया जा रहा है. इस वीडियो में एक शख्स थार जीप से उतरकर भागता हुआ दिख रहा है. कुछ लोगों ने दावा किया कि नीले कुर्ते में दिख रहा ये शख्स केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र का बेटा आशीष मिश्र है.

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे वीडियो का आर्काईव लिंक. 

वीडियो में दिख रहा शख्स कौन है?

हालांकि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र ने लगातार इन आरोपों को खारिज किया है. अपनी या अपने बेटे की मौजूदगी साबित होने पर मंत्री ने इस्तीफा देने की बात कही है. ऐसे में अब सवाल उठता है कि वीडियो में जीप से उतरकर भागता दिख रहा शख्स कौन है?

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी (बीच में) और आशीष मिश्र (बाएं) के साथ सुमित जायसवाल (दाएं नीले कुर्ते में). (फाइल फोटो/फेसबुक)
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी (बीच में) और आशीष मिश्र (बाएं) के साथ सुमित जायसवाल (दाएं नीले कुर्ते में). (फाइल फोटो/फेसबुक)

इसका जवाब देने के लिए स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ता सुमित जायसवाल सामने आए हैं. नगर पालिका लखीमपुर में शिवपुरी वॉर्ड से सभासद सुमित जायसवाल ने आजतक से बातचीत में दावा किया है कि वायरल वीडियो में जीप से नीला कुर्ता पहनकर उतरते शख्स वो खुद हैं. सुमित ने बताया,

हम लोग कार्यक्रम स्थल से मुख्य अतिथि के स्वागत के लिए जा रहे थे. ये लोग तिकोनिया मोड़ पर दोनों तरफ खड़े थे. हम लोग जैसे ही आगे बढ़े इन लोगों ने पत्थर चलाना शुरू कर दिया. पत्थर जब चलना शुरू हुआ तो ड्राइवर ने गाड़ी वहां से निकालने की कोशिश की.

ड्राइवर के आंख में या सिर में कहीं लगा तो गाड़ी थोड़ी सी अनियंत्रित हुई. लेकिन फिर भी उसने ले जाकर गाड़ी किनारे खड़ी कर दी. गाड़ी जैसे ही उसने खड़ी की उसे निकालकर मारना शुरू कर दिया गया. लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया. मेरे साथी को इन लोगों ने जान से मार दिया. मैं किसी तरह वहां से जान बचाकर भागा.

3 अक्टूबर को हुई घटना के बारे में बताते सुमित जायसवाल
3 अक्टूबर को हुई घटना के बारे में बताते सुमित जायसवाल

आशीष मिश्र के घटनास्थल पर मौजूद होने के सवाल पर सुमित ने कहा,

गाड़ी में मैं था. ड्राइवर हरिओम और मेरा मित्र शुभम था. एक सांवले रंग का लड़का और था. मोनू दादा (आशीष मिश्र) गाड़ी में नहीं थे वे कार्यक्रम स्थल पर थे. मैंने नीले या आसमानी कह सकते हैं, कलर का कुर्ता पहन रखा था. किसी को भी अंदाजा नहीं था कि ये लोग इतनी क्रूरता पर उतर आएंगे.

ये किसान नहीं हो सकते हैं. मैं बस भाग रहा था उस समय कुछ नहीं समझ रहा था. शुभम मेरा बहुत करीबी था. मेरा बहुत अच्छा दोस्त था. उसकी अभी एक छोटी सी बच्ची है. ये मंजर भूलने लायक नहीं है. उस माहौल से मैं निकल पाया हूं, आपके सामने खड़ा हूं. ये बहुत बड़ी चीज है.

सुमित की बात सही है या गलत, ये जांच का विषय है. क्योंकि किसान शुरू से ही ये बात कह रहे हैं कि आशीष मिश्रा मौके पर थे. उनके इशारे पर ही ये सब हुआ. ऐसे में सभी दावे जांच के बाद ही सही कहे जा सकते हैं.


लखीमपुर: पीड़ित ने बताया- कैसे गाड़ी 120 की स्पीड से आई और पैर कुचलकर चली गई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.