Submit your post

Follow Us

लखीमपुर: नए वीडियो में साफ दिखा कैसे कुचले गए किसान, मंत्री पुत्र की गिरफ्तारी में लगी पुलिस

लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में किसानों के प्रदर्शन पर गाड़ी चढ़ाने के मामले में एक नया वीडियो सामने आया है. ये वीडियो इस बात को पुख्ता करता नजर आता है कि शांतिपूर्ण तरीके से जा रहे लोगों को किस तरह पीछे से आकर गाड़ी ने अचानक कुचल दिया था. ये वीडियो वायरल हो रहा है.

इससे पहले भी इस घटना का वीडियो आया था, लेकिन वो स्पष्ट नहीं था. अब जो वीडियो आया है, उसमें काफी साफ दिख रहा है. इसमें साफ नजर आ रहा है कि किसान प्रदर्शनकारी हाथों में झंडे वगैरह लेकर आराम से सड़क पर जा रहे हैं, अचानक पीछे से महिंद्रा थार गाड़ी आती है और भीड़ को पीछे से टक्कर मारती हुई निकल जाती है. थार के पीछे भी दो गाड़ियां तेजी से आती हैं.

इस वीडियो को बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने भी ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा-

“ये वीडियो बिल्कुल शीशे की तरह साफ है. विरोध प्रदर्शन करने वालों की आवाज़ को हत्या करके शांत नहीं कराया जा सकता. किसानों के इस तरह से बहाए गए मासूम खून के लिए जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए. किसानों के जेहन में दंभ और क्रूरता का संदेश जाने से पहले इस मामले में न्याय होना चाहिए.” 

इससे पहले बुधवार को वरुण गांधी ने ट्वीट करके कहा था कि लखीमपुर खीरी में किसानों को गाड़ियों से जानबूझकर कुचलने का वीडियो आत्मा को झकझोरने वाला है. पुलिस इस वीडियो का संज्ञान लेकर इन गाड़ियों के मालिकों, इनमें बैठे लोगों और इसमें शामिल अन्य व्यक्तियों को चिन्हित कर तत्काल गिरफ्तार करे.

पुलिस कर रही आशीष मिश्रा की तलाश

जिस थार गाड़ी से लोगों को कुचलने का आरोप है, वह केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के नाम पर रजिस्टर्ड है.  यूपी पुलिस में जो एफआईआर दर्ज हुई है, उसमें कहा गया है कि उनके बेटे आशीष मिश्रा भी उस गाड़ी में बैठा था जिसने किसानों को कुचला था. आशीष मिश्रा के ऊपर गोलियां चलाने का भी आरोप है. FIR में आशीष मिश्रा के अलावा 15-20 अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया है. इस बीच, आईजी रेंज लखनऊ लक्ष्मी सिंह से आजतक की खास बातचीत में बताया है कि आशीष मिश्रा की तलाश की जा रही है. गिरफ्तारी के लिए टीमें कोशिश कर रही हैं. इस बीच, यूपी सरकार ने अधिसूचना जारी करके इलाहाबाद हाई कोर्ट के जज प्रदीप प्रदीप कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में लखीमपुर खीरी हिंसा की जांच के लिए एक सदस्यीय आयोग गठित कर दिया है.

Lakhimpur Kheri Ajay Mishra Ashish Mishra Bjp
लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे के आशीष मिश्रा (राइट) पर आरोप है कि उन्होंने कार से किसानों को कुचल दिया. (फोटो पीटीआई/एएनआई)

 

 केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा दिल्ली तलब

लखीमपुर मामले को लेकर गरमाए सियासी माहौल के बीच गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा बुधवार 6 अक्टूबर को तकरीबन 11 बजे दिल्ली पहुंचे और हवाई अड्डे से सीधे नार्थ ब्लॉक स्थित गृह मंत्रालय गए. वहां थोड़ी देर रुककर अजय मिश्रा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मिलने उनके आवास पहुंचे. सूत्रों का कहना है कि  अजय मिश्रा ने पूरे मामले पर अपना पक्ष अमित शाह के सामने रखा.

Ajay Kumar
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा 6 अक्टूबर को दिल्ली पहुंचे और गृह मंत्री अमित शाह से मिले. (फोटो- ANI)

 

राहुल-प्रियंका लखीमपुर पहुंचे

लखीमपुर खीरी में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी और राहुल गांधी ने घटना में जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों से मुलाकात की. राहुल ने कहा कि जब तक न्याय नहीं मिलेगा, तब तक ये सत्याग्रह जारी रहेगा.राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा,

“शहीद लवप्रीत के परिवार से मिलकर दुख बांटा लेकिन जब तक न्याय नहीं मिलेगा, तब तक ये सत्याग्रह चलता रहेगा. तुम्हारा बलिदान भूलेंगे नहीं, लवप्रीत.”

 

इसके अलावा राहुल और प्रियंका इस घटना में मारे गए पत्रकार रमन कश्यप के निघासन स्थित घर पर भी गए.

इधर बीएसपी के नेता सतीश चंद्र मिश्रा भी आज लखीमपुर पहुंच रहे हैं. वो वहां पीड़ितों के परिवारों से मिलकर हालचाल जानेंगे.

यूपी सरकार के जलशक्ति राज्यमंत्री बलदेव औलख ने भी लखीमपुर हिंसा में घायल हुए लोगों से मुलाकात की. उन्होंने सोशल मीडिया साइट कू पर लिखा.

“लखीमपुर घटना में घायल हुए दो किसान भाई गुरजीत सिंह कोटिया और हरपाल सिंह को आज चीमा हॉस्पिटल ट्रामा सेंटर रुद्रपुर पहुंच कर उनका हाल-चाल जाना और उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की.”

आज सुप्रीम कोर्ट करेगा मामले की सुनवाई

बता दें कि 3 अक्टूबर को यूपी के लखीमपुर खीरी में तब हिंसा भड़क उठी थी, जब डिप्टी सीएम केशव मौर्या के सामने विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गई थी. इस घटना और इसके बाद हुए बवाल में एक पत्रकार समेत 8 लोगों की मौत हुई थी. इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने भी स्वतः संज्ञान लिया है. जीफ जस्टिस एन वी रमना की बेंच आज 7 अक्टूबर को इस मामले की सुनवाई करेगी.


वीडियो – लखीमपुर हिंसा में जिस अंकित दास का नाम सामने आया, वो आखिर हैं कौन?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.