Submit your post

Follow Us

सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर हिंसा की जांच की किस बड़ी कमी को सुधारने का निर्देश दिया है?

सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच को लेकर नए निर्देश दिए हैं. सोमवार 15 नवंबर को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से कहा कि वो इस हिंसा की जांच में जरूरी सुधार करे. इस सुधार के तहत सुप्रीम कोर्ट ने SIT टीम में सीनियर पुलिस अधिकारियों को शामिल करने का सुझाव दिया है. साथ ही कहा है कि एक रिटायर्ड जज इस पूरी जांच की निगरानी करे ताकि मामले की सही तरीके से जांच की जा सके. इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक यूपी सरकार ने भी कोर्ट के इस सुझाव का समर्थन किया है. उसने कहा है कि अदालत अपनी तरफ से जज की नियुक्ति कर सकती है. मामले की अगली सुनवाई 17 नवंबर को होगी.

क्या बोला सुप्रीम कोर्ट?

इंडिया टुडे से जुड़ीं अनीषा माथुर की रिपोर्ट के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट इस संबंध में दो जजों के नाम पहले भी बतौर सुझाव ले चुका है. ये हैं पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट (PHHC) के रिटायर्ड जज रंजीत सिंह और राकेश कुमार जैन. सोमवार को हुई सुनवाई में सीजेआई की अध्यक्षता वाली बेंच ने जस्टिस राकेश जैन का नाम फिर लिया. उसने कहा,

‘हम PHHC के पूर्व न्यायाधीश राकेश जैन और दूसरे जजों के नामों पर विचार कर रहे हैं. हम उनसे राय-मशविरा करेंगे.’

वहीं इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक शीर्ष अदालत ने यूपी सरकार से कहा कि फिलहाल SIT टीम में जितने भी अधिकारी हैं, वे सभी इन्स्पेक्टर रैंक के हैं. इस लिए कोर्ट उन आईपीएस अधिकारियों के नामों पर विचार कर रहा है, जो उत्तर प्रदेश कैडर से तो हों, लेकिन राज्य के मूल निवासी ना हों. इस पर यूपी सरकार ने कोर्ट को ये भरोसा दिलाया कि अगली सुनवाई से पहले SIT टीम को अपग्रेड कर दिया जाएगा.

हालांकि यूपी सरकार के वकील हरीश साल्वे ने सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि जांच टीम को लीड करने के लिए केवल उन जजों के नामों पर विचार ना हो, जो इलाहाबाद हाई कोर्ट के बाहर के हैं. साल्वे ने कहा कि शीर्ष अदालत किसी व्यक्ति को नियुक्त करने की बात कर रहा है, ना कि PHHC की जांच-पड़ताल कर रहा है.

आशीष मिश्रा की जमानत पर सुनवाई पूरी हुई

इस बीच लखीमपुर हिंसा मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की जमानत पर सुनवाई पूरी हो गई. आजतक/इंडिया टुडे से जुड़े संतोष कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक सेशन कोर्ट ने सुनवाई कर आशीष मिश्रा की बेल पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक फैसला सोमवार 15 नवंबर को ही सुनाया जा सकता है.


 वीडियो: लखीमपुर हिंसा मामले में आशीष मिश्रा और अंकित दास की गन से फ़ायरिंग की पुष्टि

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.