Submit your post

Follow Us

लखनऊ में मजदूरों को वैसे ही सेनेटाइज कर दिया गया, जिस पर पहले हंगामा हो चुका है

लखनऊ में चारबाग रेलवे स्टेशन पर सेनेटाइजेशन के लिए मजदूरों के ऊपर केमिकल छिड़के जाने का एक वीडियो सामने आया है. इसके बाद से लोग प्रशासन पर लगातार सवाल उठा रहे हैं. कह रहे हैं कि यह अमानवीय है. खूब खरी-खोटी सुना रहे हैं.

लखनऊ नगर निगम ने यह माना है कि यह वीडियो चारबाग का है, जहां गलती से उसके कर्मचारियों से यह छिड़काव मजदूरों पर हो गया. मामले को लेकर लखनऊ नगर निगम के आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी ने ‘इंडिया टुडे’ से बातचीत की. उन्होंने कहा-

बाहर से प्रवासी लोग आ रहे हैं. ऐसे में पूरे क्षेत्र और बसों को सेनेटाइज किया जा रहा था. एक जगह से दूसरे जगह जाते हुए पाइप को बंद नहीं किया गया था, इसी कारण ऐसा हो गया. हमने जान-बूझकर ऐसा कुछ नहीं किया है. जिनसे गलती हुई है, उन्हें हटा दिया गया है, क्योंकि उन्होंने प्रोटोकॉल फॉलो नहीं किया.

Lucknow Nagar Nigam
लखनऊ नगर निगम के आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी (फोटो: इंडिया टुडे)

मामले को लेकर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेता पीयूष मिश्रा ने ट्वीट करके कहा-

उत्तर प्रदेश में 5 मई को श्रमिकों के आने के बाद उन्हें सेनेटाइज किया गया. लखनऊ के चारबाग की तस्वीर है, जो शर्मनाक है. सीएम योगी आदित्यनाथ को तत्काल प्रभाव से ऐसे अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए.

बरेली में भी ऐसा ही ‘कांड’ हुआ था

इससे पहले बरेली में भी ऐसा मामला सामने आया था. 30 मार्च को उत्तर प्रदेश के बरेली से प्रवासी मजदूर गुजर रहे थे. बरेली प्रशासन ने लोगों को सड़क पर बिठाकर केमिकल का छिड़काव कराया था. बाद में बरेली के डीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि प्रभावित लोगों का इलाज किया जा रहा है. तब संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश भी दिए गए थे.


विडियो- लॉकडाउन के दौरान मज़दूरों के लिए चलाई जा रही श्रमिक ट्रेन के टिकट के पैसे कौन दे रहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इन राज्यों में शराब की होम डिलीवरी कैसे होगी, क्या हैं नियम और तरीके?

शराबियों ने सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ी, तो सरकार ने यह तरीका निकाला है.

हॉस्पिटल ने कह दिया कि दाढ़ी कटवाओ, अब डॉक्टर प्रोटेस्ट कर रहे हैं

काम से हटाए जाने के बाद ये लोग विरोध कर रहे हैं.

क्या कोरोना मरीजों से प्राइवेट अस्पताल मोटी फीस वसूल रहे हैं?

मुंबई से ऐसे कई मामले आए हैं.

पूरी दुनिया में पेट्रोल-डीजल पर सबसे ज्यादा टैक्स भारत में लिया जा रहा है

इस मामले में भारत ने फ्रांस और जर्मनी को पीछे छोड़ दिया है.

इज़रायल का दावा, कोरोना की दवा मिल गयी!

बस बड़े लेवल पर निर्माण का इंतज़ार.

कोरोनावायरस : आंकड़े की जांच हुई तो पश्चिम बंगाल का सच सामने आ गया!

पश्चिम बंगाल का कोरोना से जुड़ी मौतों का आंकड़ा छिपा रहा है?

दिल्ली में शराब पर सरकार की ‘स्पेशल फीस’

..ताकि ‘रहें सलामत पीने वाले’.

लद्दाख BJP अध्यक्ष ने छोड़ी पार्टी, कहा- लद्दाख के लोगों के बारे में न पार्टी सुन रही, न प्रशासन

चेरिंग दोरजे दो महीने पहले ही अध्यक्ष बनाए गए थे.

सूरत में प्रवासी मज़दूरों का सब्र फिर जवाब दे गया है

इस बार भी बीच में पुलिस ही पिस रही है.

यूपी : CM योगी के मृत पिता के बहाने लॉकडाउन में बद्रीनाथ-केदारनाथ जा रहे थे विधायक, पुलिस ने धर लिया

नौतनवा के विधायक अमनमणि त्रिपाठी का है मामला.