Submit your post

Follow Us

जोमैटो में चीन की कंपनी का पैसा लगा है, ये कहते हुए इन लोगों ने नौकरी छोड़ दी

भारत और चीन के बीच तनाव चल रहा है. ऐसे में चीनी उत्पादों और कंपनियों के बहिष्कार की मांग उठ रही है. इसी बीच बंगाल की राजधानी कोलकाता में 27 जून को कुछ लोगों ने जोमैटो के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया. प्रदर्शन करने वाले लोगों का दावा है कि वे जोमैटो के कर्मचारी हैं. और उन्होंने नौकरी छोड़ दी है. बताया जाता है कि जोमैटो में चीनी निवेश के चलते यह कदम उठाया है. इंडिया टुडे ने यह रिपोर्ट दी है.

क्या है मामला

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, करीब एक दर्जन कर्मचारियों ने जोमैटो की टी-शर्ट जलाईं. साथ ही जोमैटो की नौकरी छोड़ने की जानकारी दी. कोलकाता के बहला थाने के सामने तिरंगा थामे हुए इन लोगों ने ‘चीनी एजेंट जोमैटो भारत छोड़ो’ के नारे लगाए. दिपांकर कांजीलाल नाम के एक प्रदर्शनकारी ने कहा,

जोमैटो ने अपना काम चालू रखने के लिए चीनी कंपनी अलीबाबा से हाथ मिलाया है. आज हमने जोमैटो छोड़ दिया. हमें उम्मीद है कि ग्राहक भी इस कंपनी का बॉयकॉट करेंगे.

जब उनसे पूछा गया कि क्या नौकरी छोड़ने के फैसले से उन्हें नुकसान नहीं होगा? इस पर प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों ने कहा,

देश के लिए भूखे रहने को तैयार हैं लेकिन विश्वासघात नहीं करेंगे.

एक अन्य डिलीवरी एजेंट ने कहा,

चीनी हमारे ही पैसों से हमारे सैनिकों को मार रहे हैं. यदि हमारे जवान सुरक्षित नहीं हैं तो हम सुरक्षित कैसे हो सकते हैं? इसलिए हमने जोमैटो का बॉयकॉट किया है. हम 50-60 लोगों ने आज ही इसकी ऐप भी अनइंस्टॉल कर दी.

इस मामले में अभी तक जोमैटो का बयान सामने नहीं आया है.

क्या है जोमैटो

यह एक फूड डिलीवर करने वाली कंपनी है. इसकी मोबाइल ऐप के जरिए आप ऑनलाइन खाना मंगवा सकते हैं. साल 2008 में इसकी स्थापना हुई. पंकज चड्ढा और दीपेंदर गोयल नाम के दो दोस्तों ने यह कंपनी शुरू की. अभी पूरे देश में यह खाना डिलीवर करने का काम करती है. जानकारी के अनुसार, चीन की दिग्गज कंपनी अलीबाबा ने जोमैटो में हिस्सेदारी ले रखी है. अलीबाबा ने अपनी सहयोगी कंपनी एंट फाइनेंशियल के जरिए साल 2018 में इसमें 14.7 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी. इसके लिए 210 मिलियन डॉलर यानी करीब 15 अरब रुपये दिए गए थे.

वैसे जोमैटो ही नहीं कई और भारतीय कंपनियों में भी चीन ने पैसा लगा रखा है. इनमें पेटीएम, ओला, ओयो रूम्स, स्नैपडील जैसे नाम शामिल हैं.


Video: चीनी माल का सस्ता होने के पीछे क्या-क्या वज़हे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.