Submit your post

Follow Us

पंड्या और राहुल को बकवास करने की कीमत चुकानी पड़ी, सज़ा हुई शुरू

10.66 K
शेयर्स

कॉफ़ी ने हमेशा ज़ुबान जलाई है. इस बार सबसे ज़्यादा जले हैं हार्दिक पंड्या और केएल राहुल. दोनों कॉफ़ी विद करण के शो पर गए हुए थे. वहां करण के साथ बातों के दौरान हार्दिक पंड्या ने महिलाओं को लेकर कुछ बकवास बातें कह दीं. बातें इतनी बकवास थीं कि उन्हें दोहराया न ही जाये तो बेहतर. इस पूरे मसले पर मचे हो हल्ले के बाद अब हुआ ये है कि केएल राहुल और हार्दिक पंड्या को सस्पेंड कर दिया गया है. कब तक? जब तक उन पर इंक्वायरी न शुरू हो जाये.

कमिटी ऑफ़ अडमिनिस्ट्रेटर्स (सीओए) ने खिलाड़ियों को नई कारण बताओ नोटिस जारी की हैं.

ऐसा माना जा रहा है कि ये दोनों ही खिलाड़ी न तो ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ एक भी मैच खेल पाएंगे और इसके बाद न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ होने वाली सीरीज़ भी पूरी या आधी-अधूरी मिस कर जायेंगे.

ईएसपीएन क्रिकइन्फो ने ये बताया कि नोटिस में दोनों खिलाड़ियों से कहा गया है – “कि अनुशासनहीनता और बुरे आचरण के चलते बीसीसीआई के संविधान के नियम 41 के अंतर्गत आप दोनों खिलाड़ियों के ख़िलाफ़ जांच शुरू हो गई है.” इसके बाद  कमिटी ऑफ़ अडमिनिस्ट्रेटर्स ने बीसीसीआई की लीगल टीम की सलाह मानी और दोनों खिलाड़ियों को सस्पेंड कर दिया.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
KL Rahul and Hardik Pandya suspended while enquiry against them remains pending

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.

आखिर क्या सोचकर मोदी ने UP के इन नेताओं को कैबिनेट में जगह दी है?

इनमें कुछ से पिछली सरकार के दौरान बीच में ही मंत्रालय छीन लिया गया था.