Submit your post

Follow Us

कोरोना: केरल सरकार जो कर रही है वो जान कर यही कहेंगे कि काश हमारे सीएम भी कुछ सीख लेते

केरल देश के उन राज्यों में से एक है जहां सबसे पहले कोरोना वायरस का मामला आया था. लेकिन इसके बाद इस राज्य ने तेजी से काम किया. आज केरल जिस तरह से कोरोना का सामना कर रहा है उसकी हर तरफ चर्चा है. साथ ही राज्य सरकार की ओर से लोगों की मदद के लिए उठाए गए कदमों की भी तारीफ हो रही है. सीएम पिनरई विजयन ने लोगों की मदद के लिए राहत पैकेज का ऐलान भी तेजी से किया था. इसी कड़ी में अब खबरों में है केरल सरकार की ओर से दी जा रही ‘क्वारंटीन किट’

सोशल मीडिया पर इस किट की काफी तारीफ हो रही है. काफी लोगों ने इस बारे में ट्वीट किए हैं. देखिए ये ट्वीट-

लोग इस किट के लिए केरल सरकार की तारीफ कर रहे हैं. साथ ही लिख रहे हैं कि किसी तरह का प्रचार भी नहीं किया जा रहा है. किट पर सीएम का नाम और फोटो भी नहीं है.

क्या है यह किट

द न्यूज मिनट की खबर के अनुसार, राज्य सरकार जरूरी सामान की किट घरों तक पहुंचा रही है. इस किट में 17 तरह का सामान शामिल है. 10 अप्रैल से किट की सप्लाई शुरू हो गई है. राशन कार्ड की दुकानों के जरिए यह किट लोगों तक पहुंचाई जा रही है. सीएम विजयन ने कहा था कि 87 लाख से ज्यादा परिवारों को यह किट दी जाएगी. इसमें एक महीने की जरूरत के हिसाब से सामान होगा.

केरल सरकारी की ओर से दी गई फूड किट का सामान. (Photo: Twitter)
केरल सरकारी की ओर से दी गई फूड किट का सामान. (Photo: Twitter)

क्या-क्या शामिल है

जैसा कि पहले बता चुके हैं किट में 17 तरह का जरूरी सामान शामिल है. इसके तहत-

2 किलो आटा
1 किलो चीनी
1 किलो नमक
1 किलो चने
1 किलो रवा
1 किलो चने की दाल
1 किलो उड़द दाल
1 लीटर सूरजमुखी का तेल
500 ग्राम नारियल तेल
250 ग्राम चाय
250 ग्राम दाल
100 ग्राम मिर्च
100 ग्राम सरसो
100 ग्राम हल्दी
100 ग्राम धनिया
100 ग्राम सौंफ
2 नहाने की साबुन

इस किट की कीमत 1000 रुपये के करीब है. इसमें चावल शामिल नहीं हैं. क्योंकि राज्य सरकार राशन कार्ड से पहले ही 15 किलो चावल सभी को दे रही है.

800 करोड़ रुपये का आएगा खर्चा

मनोरमा ऑनलाइन वेबसाइट के अनुसार, इस किट के वितरण पर सरकारी खज़ाने से 800 करोड़ रुपये खर्च होंगे. सबस पहले यह सामान अंत्योदय कैटेगरी (यलो कार्ड) यानी सबसे गरीब लोगों को दिया गया. केरल में इस तरह के करीब पांच लाख परिवार हैं. फिर पिंक कार्ड वाले 31 लाख परिवारों की बारी आएगी. इसके बाद ब्ल्यू और व्हाइट राशन कार्ड वाले परिवारों को ‘क्वारंटीन किट’ मिलेगी. ये दोनों कैटेगरी के लोग आर्थिक रूप से मजबूत हैं. तुल्नात्मक तौर पर देखें तो.

सरकार यह सामान सभी को फ्री में देगी. लेकिन कोई चाहे तो स्वेच्छा से इस किट की लिस्ट से अपना नाम हटा सकता है. इसके लिए सरकार की वेबसाइट पर जाकर नाम हटाया जा सकता है.

जिन लोगों को क्वारंटीन यानी घरों में ही रहने को कहा गया है, उन्हें भी किट दी जा रही है. ऐसे लोगों की किट में कुछ एक्स्ट्रा सामान भी दिए जाने की बात सामने आई है.

केरल के सीएम पिनराई विजयन ने मार्च में ही आर्थिक पैकेज का ऐलान कर दिया था. इसमें दो महीने की वेलफेयर पेंशन एडवांस देने, 20 रुपए के सब्सिडी रेट पर भोजन उपलब्ध कराने जैसे कदम शामिल थे.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: कोरोना वायरस के कारण हुई मौत के बाद शव के साथ क्या करना चाहिए, यहां जानिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा-

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?