Submit your post

Follow Us

KBC-12 में अमिताभ बच्चन ने अपनी उस फिल्म के बारे में बताया, जो कभी रिलीज़ नहीं हो पाई

अमिताभ बच्चन के शो KBC का 12वां सीज़न लोगों का फुल टू एंटरटेन कर रहा है. टीवी के इस सबसे पॉपुलर क्विज़ शो के नए एपिसोड में होस्ट अमिताभ बच्चन ने अपनी उस फिल्म के बारे में बताया, जिसकी शूटिंग तो शुरू हुई, लेकिन कभी पूरी नहीं हो पाई. और इस तरह ये फिल्म कभी रिलीज़ नहीं हो पाई. खास बात ये है कि अमिताभ के साथ इस फिल्म में जया बच्चन थीं. आइए इस वाकये के बारे में आपको पूरी जानकारी देते हैं.

सोमवार 12 अक्टूबर के एपिसोड में हॉटसीट पर थीं जोधपुर से आई 20 साल की स्टूडेंट कोमल टुकड़िया. अमिताभ ने उनसे सवाल किया-

प्रश्न – धर्मवीर भारती का लिखा वो कौन-सा उपन्यास था, जिसमें चंदर अपने प्रोफेसर की बेटी सुधा से प्यार करने लगता है?

जवाब – गुनाहों का देवता.

इस सवाल का जवाब कोमल टुकड़िया नहीं दे पाईं. उन्होंने लाइफ लाइन का इस्तेमाल करके सवाल बदल लिया. बाद में अमिताभ बच्चन ने बताया कि इसी नॉवेल पर उनकी एक फिल्म बन रही थी. इसमें उनके साथ जया बच्चन भी थीं. ये फिल्म एक रोमांटिक ड्रामा थी. अमिताभ इसमें चंदर का किरदार निभा रहे थे और सुधा का रोल जया बच्चन. मगर किसी कारण से ये फिल्म कम्प्लीट नहीं हो पाई.

ये तस्वीर साल 1973 में आई फिल्म अभिमान की है जिसमें अमिताभ बच्चन और जया बच्चन ने पति-पत्नी का किरदार निभाया था.
ये तस्वीर 1973 में आई फिल्म अभिमान की है, जिसमें अमिताभ और जया बच्चन ने पति-पत्नी का किरदार निभाया था.

पॉपुलर नॉवेल है यह

धर्मवीर भारती का ये फेमस नॉवेल साल 1949 में आया था. इसकी स्टोरीलाइन आज भी लोगों को खूब पसंद आती है. ये हिंदी के कुछ क्लासिक उपन्यासों में से एक है, जिसमें ब्रिटिश रूल के दौरान दो प्यार करने वालों की कहानी बताई गई है.

टीवी सीरियल भी बना है इस पर

‘गुनाहों का देवता’ उपन्यास पर टीवी सीरियल भी बना है. 2019 में आए इस सीरियल का नाम था- ‘एक था चंदर, एक थी सुधा’. इसमें एक्टर राहिल आज़म ने चंदर कपूर और उमंग जैन ने सुधा शुक्ला का किरदार निभाया था. इस शो को लोगों ने बहुत पसंद किया था.

ये शो साल 2019 में लाइफ ओके चैनल पर आता था. जिसकी कहानी धर्मवीर भारती की किताब गुनाहों का देवता पर बनी थी.
ये शो 2019 में लाइफ ओके चैनल पर आता था, जिसकी कहानी धर्मवीर भारती के नॉवेल गुनाहों का देवता पर बेस्ड थी.

कोमल टुकड़िया से पूछा 25 लाख का सवाल

ये तो हुई अमिताभ की डिब्बे में बंद रह गई फिल्म और उसके नॉवेल की कहानी. अब वापस केबीसी के शो में आते हैं. हॉटसीट पर बैठीं कोमल टुकड़िया से शो के दौरान 25 लाख रुपये का सवाल पूछा गया था, जिसका जवाब वह नहीं दे सकी थीं और शो क्विट कर दिया. क्या था वह सवाल, यहां जान लीजिए-

सवाल था- 1990 के कारगिल युद्ध के दौरान भारतीय नौसेना द्वारा चलाए गए ऑपरेशन का कोडनेम क्या था?

ऑप्शन थे –
ऑपरेशन तलवार
ऑपरेशन कटार
ऑपरेशन कृपाण
ऑपरेशन ढाल

कोमल को इस सवाल का जवाब नहीं पता था, क्या आपको पता है? इसका सही जवाब है- ऑपरेशन तलवार. कोमल 12 लाख 50 हज़ार जीतकर केबीसी से गईं. कोमल की निजी ज़िंदगी की बात करें तो बहुत छोटी-सी उम्र में उनकी सगाई हो गई थी. अब वह 18 साल की होते ही शादी करवाने की प्रथा के खिलाफ आवाज़ उठा रही हैं.


वीडियो: सैफ अली खान ने अवॉर्ड शो को लेकर जमकर भड़ास निकाली है

;

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?