Submit your post

Follow Us

पहले बेटे पर आतंकी हमले की खबर आई, फिर केस खुला तो BJP जिलाध्यक्ष ही सस्पेंड हो गए

अभी कुछ दिन पहले ही शायर मुनव्वर राना के बेटे पर लखनऊ पुलिस ने आरोप लगाया था कि उन्होंने खुद ही अपने ऊपर गोलियां चलवाईं, अपने परिवार के कुछ लोगों को फंसाने के इरादे से. अब कश्मीर से भी ऐसा ही मामला सामने आया है. इस बार अपने ऊपर गोली चलवाने का आरोप लगा है बीजेपी के बड़े नेता के बेटे पर. ये नेता हैं कुपवाड़ा बीजेपी के अध्यक्ष मीर मोहम्मद शफी. और इनके बेटे का नाम है इश्फाक अहमद मीर. इश्फाक ने अपने ऊपर आतंकी हमले का दावा किया. लेकिन मामला कुछ और निकला. अब बीजेपी ने इश्फाक के पिता को सस्पेंड कर दिया है. भाजपा के जिला प्रवक्ता और इश्फाक समेत चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है.

हमले की कहानी सुनाई, पर खुली पोल

कश्मीर में पिछले महीने एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SPO), उनकी पत्नी और बेटी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई थी. इसी माहौल में  16 जुलाई की रात कुपवाड़ा के बीजेपी जिलाध्यक्ष मोहम्मद शफी के बेटे पर गोलीबारी की खबर मिली तो पुलिस के हाथ-पांव फूल गए. बताया गया कि आतंकी हमले में इश्फाक जख्मी हो गए हैं. उनकी बाजू में गोली लगी थी. ये घटना तब हुई, जब पुलिस की तरफ से उन्हें दो गार्ड दिए गए थे.

पुलिस और सीआरपीएफ मौके पर पहुंच गई. अधिकारियों ने जांच पड़ताल की तो उन्हें मामला कुछ संदिग्ध लगा. उन्होंने सवाल पूछने शुरू किए. इश्फाक और उसके साथियों ने पहले आतंकी हमले की बात कही. लेकिन जब उन्हें लगा कि ये कहानी सिरे नहीं चढ़ रही तो उन्होंने नई कहानी बनाई. सिक्योरिटी गार्ड्स को भी लगा कि वो फंस गए हैं. तब उन्होंने बताया कि एक सिक्योरिटी गार्ड की राइफल से गोली अचानक गलती से चल गई थी. इसके बाद दूसरे गार्ड ने डर में गोली चला दी.

पुलिस ने साफ कर दिया कि मामला आतंकी हमले का नहीं है. कुपवाड़ा के एसएसपी जीवी संदीप ने ट्वीट किया-

“पीएसओ के हथियार से अचानक गोली चल गई थी, जिसकी वजह से बीजेपी कार्यकर्ता इश्फाक मीर की बांह में गोली लगी. दूसरे पीएसओ ने डर में गोली चला दी. इश्फाक को मामूली चोट आई है. लोगों से गुजारिश है कि वो आतंकी हमले की झूठी खबरें न फैलाएं. घायल को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कराया जा चुका है.”

पुलिस ने बताई ‘हमले’ की वजह

कुपवाड़ा के एसएसपी ने भले ही ट्वीट करके मामले को एक्सीडेंटल करार दे दिया, लेकिन अब भी बात पूरी तरह साफ नहीं हुई थी. लोकल अखबारों के मुताबिक, पुलिस ने मामले की सख्ती से जांच की तो इश्फाक के बॉडीगार्ड्स ने असली कहानी का खुलासा कर दिया. इसके बाद पुलिस ने बताया कि दोनों बॉडीगार्ड्स ने पूछताछ में जानकारी दी है कि  भाजपा नेता ने ही उन्हें गोली चलाने के लिए मजबूर किया था, ताकि आतंकी हमला बताया जा सके. पुलिस इस मामले में मोहम्मद इश्फाक मीर, भाजपा के जिला प्रवक्ता बशारत अहमद को गिरफ्तार कर चुकी है. गोली चलाने वाले दोनों कांस्टेबल भी अरेस्ट कर लिए गए हैं.

पुलिस का आरोप है कि इश्फाक पर गोली अचानक नहीं चली, सोची समझी साजिश के तहत चलाई गई थी. पूरी घटना की स्क्रिप्ट मोहम्मद शफी ने अपने बेटे और दूसरे लोगों के साथ मिलकर रची थी. वह इस फर्जी हमले की आड़ में अपना सिक्योरटी कवर और बीजेपी में प्रभाव बढ़ाना चाहते थे. उन्हें लगा कि ऐसा करके वो पार्टी के सीनियर नेताओं का ध्यान अपनी तरफ खींच सकेंगे.

भाजपा ने एक्शन लिया

असलियत का खुलासा होने पर बीजेपी ने सख्त एक्शन लेते हुए कुपवाड़ा बीजेपी के अध्यक्ष मोहम्मद शफी को सस्पेंड कर दिया है. बीजेपी का कहना है कि इस घटना से पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की छवि, प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता को झटका लगा है. पूरे मामले की जांच की जा रही है. बीजेपी प्रवक्ता जीएम मीर को जांच का जिम्मा सौंपा गया है. वह 25 जुलाई तक अपनी रिपोर्ट देंगे. उसके बाद आगे कार्रवाई की जाएगी.


वीडियो – मुनव्वर राना के बेटे के ऊपर गोली चली, पुलिस की जांच में पूरी कहानी कुछ और ही निकली

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुंबई में बारिश से बड़ा हादसा, चेंबूर में दीवार गिरने से 17 की मौत

विक्रोली में भी 6 की मौत, पीएम ने दुख जताया, मुआवजे की घोषणा की.

टी-सीरीज़ वाले भूषण कुमार पर रेप का आरोप लगा, मुंबई में रिपोर्ट दर्ज

मुंबई के डीएन थाने में तीस साल की महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई.

अफगानिस्तान में भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की हत्या, तालिबान ने किया था हमला

दानिश सिद्दीकी अपनी तस्वीरों के लिए फेमस थे, 2018 में Pulitzer अवार्ड भी मिला था.

MP के विदिशा में 30 से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, 13 लापता, 19 बचाए गए

बच्चा कुएं में गिरा, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण कुएं की छत पर चढ़ गए थे.

'नदिया के पार' जैसी बड़ी फ़िल्मों में काम कर चुकीं एक्ट्रेस सविता बजाज की हताशा, "मेरा गला घोंट दो"

इलाज के लिए पैसे नहीं हैं.

PM मोदी ने वाराणसी में जिस रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर का उद्घाटन किया, वो है क्या?

योगी सरकार के लिए क्या बोले PM?

कांवड़ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट ने दिखाई सख्ती, लेकिन यूपी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं?

योगी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के बयान से तो कुछ ऐसा ही लग रहा.

पीएम मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में ऐसा क्या हुआ कि महाराष्ट्र बीजेपी में उथल-पुथल मच गई?

क्या पंकजा मुंडे की नाराजगी महाराष्ट्र बीजेपी को भारी पड़ेगी?

पंजाबी सिंगर मनमीत सिंह का शव बरामद हुआ, भारी बारिश के बाद बह गए थे

एक नाला पार करते वक्त गिर गए थे मनमीत सिंह.

कोंगु नाडु: मोदी कैबिनेट का विस्तार तमिलनाडु के विभाजन से जुड़े इस पुराने मुद्दे को कैसे हवा दे गया?

तमिल मीडिया के एक हिस्से में इसे लेकर काफी गर्मजोशी दिखाई जा रही है.