Submit your post

Follow Us

जिस SDM ने किसानों का सिर फोड़ने की बात कही, उसे CM के ड्रीम प्रोजेक्ट में जिम्मेदारी मिली है!

हरियाणा सरकार ने 19 IAS अधिकारियों का तबादला कर दिया है. इनमें करनाल के SDM आयुष सिन्हा भी हैं. आयुष उस समय से विवादों में थे, जब 28 अगस्त को किसानों के प्रदर्शन के दौरान वह पुलिस से ‘किसानों का सिर फोड़ने’ के लिए कहते हुए नजर आए थे. 2018 बैच के IAS आयुष उस दौरान ड्यूटी मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात थे. उनका वीडियो वायरल होने के बाद सीएम मनोहर लाल खट्टर तक को बयान देना पड़ा था.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने माना था कि IAS आयुष सिन्हा ने जिन शब्दों का इस्तेमाल किया था, वो गलत था. हालांकि सीएम ने पुलिस कार्रवाई का बचाव किया था. हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भी सिन्हा की टिप्पणी से असहमति जताई थी. उनके खिलाफ एक्शन की बात भी कही थी.

CM के ड्रीम प्रोजेक्ट में ट्रांसफर?

सरकारी आदेश में कहा गया है कि आयुष सिन्हा अब नागरिक संसाधन सूचना विभाग (Citizen Resources Information Department यानी CRID) के अतिरिक्त सचिव होंगे. आदेश में कहा गया है कि उन्हें एक खाली पद पर ट्रांसफर किया गया है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, परिवार पहचान पत्र हरियाणा के सीएम का ड्रीम प्रोजेक्ट है. इसे CRID तैयार करता है. CRID में एडिशनल सेक्रेटरी की पोस्ट खाली थी, उसी पोस्ट पर आयुष सिन्हा को लाया गया है.

हरियाणा सरकार ने परिवार पहचान-पत्र को कानूनी रूप दिया है. हाल ही में विधानसभा में हरियाणा परिवार पहचान विधेयक, 2021 पारित किया गया था. सरकारी परियोजनाओं का लाभ लेने के लिए इसे लागू किया जाएगा, लेकिन ये अनिवार्य नहीं होगा. पहचान पत्र का डाटा चोरी करने, नष्ट या लीक करने या कराने पर दस साल तक की सजा और 50 लाख रुपये जुर्माना हो सकेगा.

वायरल वीडियो में SDM ने क्या कहा था?

करनाल के SDM रहे आयुष सिन्हा का जो वीडियो वायरल हुआ था, उसमें वो किसानों के प्रदर्शन के दौरान पुलिस से कहते सुनाई दिए थे कि यह बहुत सिंपल और स्पष्ट है. कोई कहीं से हो, उस (जगह) के आगे नहीं जाएगा. अगर जाता है तो लाठी से उसका सिर फोड़ देना. कोई निर्देश या डायरेक्शन की जरूरत नहीं है, उठा-उठाकर मारना. हमें किसी भी तरह से सिक्योरिटी ब्रीच नहीं होना देना है. हमारे पास पर्याप्त फोर्स है.

इस वीडियो के सामने आने के बाद किसानों ने काफी प्रदर्शन किए थे. आयुष को बर्खास्त करने की मांग की थी. विपक्ष ने भी इसे लेकर सरकार की तीखी आलोचना की थी. बाद में आयुष सिन्हा ने माफी मांग ली थी.

IRS छोड़ IAS बने हैं आयुष सिन्हा

आयुष सिन्हा ने 2017 की UPSC परीक्षा में 7वीं रैंक हासिल की थी. केमिकल इंजीनियरिंग करने के बाद उन्होंने UPSC परीक्षाओं की तैयारी शुरू कर दी थी. दूसरे प्रयास में ही 100वीं रैंक हासिल कर ली. उन्हें IRS के लिए सलेक्ट किया गया, लेकिन आयुष IAS ही बनना चाहते थे. कुछ समय के लिए नागपुर में IRS वाली ट्रेनिंग करने के बाद ब्रेक लेकर फिर UPSC की तैयारी में जुट लिए. UPSC-2017 में 7वीं रैंक हासिल करके IAS बन गए. आयुष के पिता पीके सिन्हा वन अधिकारी रह चुके हैं. उनकी मां St Bede’s College में बतौर प्रोफेसर रह चुकी हैं. आयुष के एक अंकल अतुल वर्मा हिमाचल में ADGP स्तर के अधिकारी हैं.


विरोध प्रदर्शन के लिए बने वो नियम-कायदे जिनके उल्लंघन पर पुलिस लाठी भांज सकती है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

मेघालय के राज्यपाल ने कहा-सीएम को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

बीजेपी ने कहा-ऐसे वीडियो कांग्रेस को ही क्यों मिलते हैं?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने कुछ दिन पहले आत्मदाह कर लिया था.

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान ने कहा- भारतीय लोकतंत्र अमर रहे!

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

इन धमाकों में 143 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

बताया जा रहा है 25 पन्नों के इस कथित चुनाव रणनीति डॉक्यूमेंट को मुंबई कांग्रेस के सेक्रेटरी गणेश यादव ने तैयार किया है.

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

भारत के इतिहास में तीसरी बार केंद्रीय मंत्री को गिरफ्तार किया गया है. पहले दो कौन थे, जानते हैं?

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार किए गए, CM उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मारने की बात कही थी

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बयान से महाराष्ट्र की राजनीति उबल रही है.

इनकम टैक्स पोर्टल से जनता इतनी परेशान हुई कि वित्त मंत्री ने इंफोसिस के CEO को तलब कर लिया

मुलाकात से पहले ही इन्फोसिस ने सारा सिस्टम ठीक कर दिया.