Submit your post

Follow Us

कपिल और धोनी की तुलना करते वक्त गावस्कर ने कमाल की बात कह दी

पूर्व भारतीय कैप्टन सुनील गावस्कर ने महेंद्र सिंह धोनी की जमकर सराहना की है. धोनी को क्रिकेट का लेजेंड बताते हुए गावस्कर ने इंडिया टुडे से कहा कि धोनी का योगदान सिर्फ क्रिकेट फील्ड तक ही सीमित नहीं था. गावस्कर के मुताबिक जब भी लीडरशिप की बात होगी उसमें धोनी को निश्चित तौर पर याद किया जाएगा.

धोनी की रिटायरमेंट की ख़बर आने के बाद गावस्कर ने इंडिया टुडे से बात की. गावस्कर ने इस बातचीत के दौरान साफ कहा कि अगर उन्हें ऑल इंडिया XI चुननी हो तो वह कपिल देव के बजाय धोनी को उसका कैप्टन बनाएंगे. गौरतलब है कि भारत ने कपिल और धोनी, दोनों की कप्तानी में वनडे वर्ल्ड कप जीता है. गावस्कर ने राजदीप सरदेसाई से बात करते हुए कहा,

‘जाहिर है, इस बात पर तो कोई सवाल ही नहीं है कि धोनी एक लेजेंड थे. उन्होंने क्रिकेट में जो कुछ अचीव किसी वह निश्चित तौर पर उन्हें एक लेजेंड बनाता है. जिस तरह से उन्होंने भारत की कप्तानी की, जिस तरह से उन्होंने युवाओं को आगे बढ़ाया, जिस तरह से उन्होंने सिर्फ बल्लेबाज या सिर्फ लीडर्स नहीं, बल्कि विराट कोहली जैसे टैलेंट को संवारा, आप देखिए कि किस तरह से धोनी ने स्पिनर्स को संवारा.

यह तमाम चीजें निश्चित तौर पर उन्हें लेजेंड बनाती हैं. क्योंकि उनका योगदान फील्ड से कहीं आगे तक रहा है. वह ऐसे व्यक्ति हैं कि आप जीवन के किसी भी क्षेत्र में लीडरशिप की ज़िक्र करेंगे, तो उनका नाम पक्का आएगा.’

# एक जैसे कपिल-धोनी

धोनी और कपिल की तुलना करने की बातों पर गावस्कर ने कहा कि उन्हें लगता है कि धोनी काफी हद तक कपिल जैसे ही हैं. दोनों कप्तानों के अप्रोच की तुलना करते हुए गावस्कर बोले,

‘दोनों ही काफी हद तक एक जैसे थे. गेम के प्रति दोनों का लगभग एक जैसा अप्रोच था. उन्हें क्रिकेट खेलने से प्यार था. दोनों ही लोग एक्शन के सेंटर में रहना चाहते थे और अपनी टीम के लिए महानतम लक्ष्य प्राप्त करना चाहते थे. इस तरह से दोनों काफी हद तक एक जैसे थे. साथ ही दोनों ऐसे शहरों से निकले जो क्रिकेट के लिए नहीं जाने जाते. मैं सोचता हूं कि शायद यह भाग्य में ही लिखा था कि भारत का पहला वर्ल्ड कप जीतने वाला कप्तान एक ऐसे शहर से था जहां क्रिकेट प्रमुख खेल नहीं था- चंडीगढ़.

साथ ही भारत को दूसरा वर्ल्ड कप जिताने वाला कप्तान भी रांची जैसे शहर से आया, जहां क्रिकेट बहुत महत्वपूर्ण नहीं था. दोनों ही फील्ड पर काफी हद तक एक जैसे हैं, दोनों एकदम शांत, अपनी भावनाओं का बहुत इजहार ना करने वाले और यही क्वॉलिटीज उनके प्लेयर्स का काम आसान बनाती थीं. कोई कैच गिरने पर या मिसफील्ड पर अगर कप्तान ज्यादा इरीटेट होगा तो प्लेयर्स और ज्यादा नर्वस हो जाते हैं. यहीं पर कपिल देव और धोनी अलग थे. वह अपने इमोशन को अच्छे से कंट्रोल करते थे जिससे प्लेयर्स पर प्रभाव ना पड़े और वे अपना गेम आज़ादी के साथ खेल सकें.’


गावस्कर ने इसी बातचीत में भारत के अब तक के दो बेस्ट कप्तानों का चुनाव भी किया. उनके मुताबिक कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी भारत के दो महानतम कप्तान हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर उन्हें भारत की ऑलटाइम XI चुननी हो धोनी, कपिल से थोड़ी ज्यादा वरीयता पाएंगे. गावस्कर के मुताबिक धोनी ने वनडे वर्ल्ड कप 2011 के साथ T20 वर्ल्ड कप 2007 भी जीता था, यही बात उनको कपिल से थोड़ा बेहतर बनाती है.

गावस्कर ने कहा,

‘हां, मैं सोचता हूं कि वह मेरी ऑल टाइम इंडिया XI की कप्तानी की रेस में रहेंगे. अगर आप वनडे क्रिकेट में बारत की कप्तानी देखें, तो यहां सिर्फ दो प्लेयर्स ऐसे हैं जो कप्तान बनने की रेस में दिखते हैं. पहले महेंद्र सिंह धोनी और दूसरे कपिल देव. मैं सोचता हूं कि यही दोनों दावेदार हैं, क्योंकि उन्होंने जीत दर्ज की. बाकियों ने भले ही अच्छा प्रदर्शन किया हो, द्विपक्षीय सीरीज जीती हो लेकिन जब बात वर्ल्ड कप जीतने की आती है, मैं सोचता हूं कि धोनी, कपिल से थोड़ा आगे निकल जाते हैं क्योंकि उन्होंने सिर्फ 50 ओवर्स का वर्ल्ड कप ही नहीं जीता, उन्होंने T20 वर्ल्ड कप भी जीता है.’

इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायर होने के बाद भी धोनी IPL में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए खेलते रहेंगे.


महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट पर BCCI और सौरव गांगुली ने क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

20 करोड़ सालाना बिक्री पर ई-इनवॉइसिंग जरूरी, टैक्स चोरी थमेगी.

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

ममता बनर्जी ने घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जताई.

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बोचहां विधानसभा उपचुनाव और एमएलसी इलेक्शन से पहले मुकेश सहनी को तगड़ा झटका.

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

सरकार को बिल वापस लेना पड़ा, बीजेपी बोली- पूरे कुएं में भांग है.

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

कीमतें बढ़ने से ब्लैक मार्केटिंग बढ़ने की आशंका. बंद हो सकते हैं कई पंप.

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

हरभजन सिंह को राज्यसभा में भेजने के साथ AAP उन्हें एक और बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है

पंजाब के सीएम भगवंत मान और भज्जी काफी करीबी दोस्त माने जाते हैं.

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

इराक में अमेरिकी दूतावास के पास मिसाइल हमला करने की ईरान ने क्या वजह बताई?

ईरान ने इजरायल का नाम क्यों लिया है?