Submit your post

Follow Us

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

कानपुर मुठभेड़ के बाद शक के घेरे में आए चौबेपुर थाने के पूर्व एसओ विनय तिवारी और बीट इंचार्ज केके शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोप है कि ये लोग हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के बिकरू गांव में हुई मुठभेड़ वाली रात घटनास्थल से भाग गए थे. कानपुर रेंज आईजी मोहित अग्रवाल ने इस बात की जानकारी दी. गिरफ्तार किए गए दोनों पुलिसकर्मियों पर विकास दुबे को दबिश की जानकारी देने का भी आरोप है.

कानपुर एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया,

सबूतों के आधार पर पाया गया है कि पुलिसकर्मी विनय तिवारी और केके शर्मा ने विकास दुबे को छापे की सूचना पहले से दी. इसलिए वह पहले से अलर्ट था और उसने हमले की योजना बनाई, जिसमें आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए.

वहीं, आईजी मोहित अग्रवाल ने जानकारी दी कि ये दोनों मुठभेड़ के वक्त पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे. पर ऑपरेशन शुरू होते ही वहां से फरार हो गए.

मारा गया विकास दुबे का राइट हैंड

इससे पहले हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के राइट हैंड माने जाने वाले अमर दुबे को पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने एनकाउंटर में मार गिराया. उत्तर प्रदेश के हमीरपुर ज़िले के मदौहा में 8 जुलाई की सुबह ये एनकाउंटर हुआ. ‘इंडिया टुडे’ की खबर के मुताबिक, पुलिस ने 7 जुलाई को ही कानपुर घटना के संबंध में एक लिस्ट निकाली थी. ये लिस्ट कानपुर घटना में शामिल मोस्ट वॉन्टेड क्रिमिनल्स की थी. इसमें अमर दुबे का नाम सबसे ऊपर था. हमीरपुर सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (SP) श्लोक कुमार ने बताया कि पुलिस को कानपुर में अमर के मूवमेंट की जानकारी लगी थी. हमीरपुर में अमर के एनकाउंटर के बाद पुलिस को ऑटोमैटिक हथियार भी मिला है.

STF के DIG का ट्रांसफर

आठ पुलिसवालों की हत्या की जांच कर रही स्पेशल टास्क फोर्स (STF) के DIG अनंत देव का ट्रांसफर कर दिया गया है. अब वो मुरादाबाद PAC में DIG बनाए गए हैं. पिछले दिनों उन पर जांच भी बिठाई गई थी. क्यों? क्योंकि STF के डीआईजी बनने से पहले अनंत देव कानपुर के SSP थे और SSP रहने के दौरान उनके पास हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को लेकर शिकायत आई थी. आरोप है कि तब उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की थी. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच के आदेश दिए थे.

विकास दुबे पर इनाम बढ़ाया गया

विकास दुबे अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. वो 3 जुलाई से फरार चल रहा है. यूपी पुलिस उसकी तलाश में जगह-जगह छापे मार रही है. 50 से ज्यादा टीमें उसको ढूंढ़ने में लगी हैं. विकास 6 जुलाई को एक होटल में रुका था, लेकिन जब तक पुलिस वहां पहुंची तब तक वो भाग चुका था. इस बीच पुलिस उस पर इनाम भी लगातार बढ़ा रही है. 50 हज़ार से शुरू हुआ इनाम एक लाख, फिर ढाई लाख और अब पांच लाख हो गया है. यानी अब उसे पकड़वाने वाले को पुलिस पांच लाख रुपये का इनाम देगी. 2 जुलाई की देर रात बिकरू गांव में हुई मुठभेड़ में विकास दुबे और उसके गुर्गों की तरफ से पुलिस पर घात लगाकर हमला किया गया, जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे.


विकास दुबे के ‘राइट हैंड’ को STF एनकाउंटर में मार गिराया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

प्रवासी मजदूरों को किराए पर सस्ते घर दिए जाएंगे, मोदी कैबिनेट के पांच फैसले जानिए

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए क्या घोषणा की गई?

गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश के बीच लखनऊ वाले घर का क्या होने वाला है?

LDA ने घर पर नोटिस चिपका दिया है.

नेपोटिज़म की बहस के बीच पूजा भट्ट ने कंगना के लिए कहा, 'हमने ही लॉन्च किया था'

कहा, "पूरी इंडस्ट्री की तुलना में कहीं ज्यादा नए टैलेंट, एक्टर्स, म्यूज़िशियन्स को हमने लॉन्च किया'.

इरफ़ान के बेटे की खरी बात, 'बॉक्स ऑफिस पर मेरे पिता ज़िंदगीभर सिक्स पैक एब्स वालों से हारते रहे'

"वो हारते रहे हांस्यास्पद वन लाइनर बोलने वालों से, फिजिक्स के नियमों को चुनौती देने वालों से".

कांग्रेस ने कहा- RGF की जांच तो ठीक, लेकिन क्या RSS की भी जांच कराएगी सरकार?

गांधी परिवार से जुड़े ट्रस्टों की जांच कराएगी सरकार, कांग्रेस ने पूछे ये छह सवाल.

जम्मू-कश्मीर के इस IPS अधिकारी को किस बात के लिए सस्पेंड कर दिया गया?

हाल ही में उन्होंने एक लेटर लिखा था, जो वायरल हो गया था.

पायल रोहतगी का अकाउंट ट्विटर ने उड़ा दिया, पायल बोलीं - 'सलमान के लोगों ने करवाया है'

इंस्टाग्राम पर दो वीडियो डालकर पायल ने खुद जानकारी दी. ट्विटर पर हंगामा हुआ पड़ा.

अन्नू कपूर की दो टूक - 'अगर नेपोटिज़म होता, तो अमिताभ, सनी देओल के बेटे टॉम क्रूज़ बन जाते'

'प्रिविलेज फैमली में पैदा हुए हो तो भी टैलेंट मैटर करता है' - अन्नू कपूर.

करण जौहर के करीबी ने बताया कि सुशांत मुद्दे पर हुई भयंकर ट्रोलिंग का उनपर कैसा भयानक असर हुआ है

"फोन करो तो हमेशा रोते रहते हैं. पूछते हैं उन्होंने ऐसा क्या किया कि उन्हें ये सबकुछ झेलना पड़ रहा है.''

चीन को लेकर नरेंद्र मोदी के किस पुराने बयान पर कांग्रेसी नेताओं ने अब उन्हें घेर लिया है?

जिस मुद्दे को लेकर पहले सवाल किया था, मोदी सरकार अब वही कर रही है.