Submit your post

Follow Us

BMC और संजय राउत के खिलाफ कंगना की अर्जी पर हाई कोर्ट ने फटकार लगाई है

बृहन्मुंबई महानगर पालिका यानी BMC ने एक्ट्रेस कंगना रनौत के मुंबई वाले ऑफिस पर 9 सितंबर को जेसीबी चलाई थी. अवैध बताकर ऑफिस का बहुत-सा हिस्सा तोड़ दिया था. उसी दिन कंगना जब तक हाई कोर्ट पहुंचीं, BMC अपनी कार्रवाई कर चुकी थी. अब बॉम्बे हाई कोर्ट ने BMC को फटकार लगाई है. कोर्ट ने BMC के अलावा सत्ताधारी शिवसेना के नेता संजय राउत से भी जवाब मांगा है.

हाई कोर्ट कंगना को बुलडोजर चलाने वाले अफसर और संजय राउत को इस केस में पार्टी बनाने की इजाजत दे चुका है. कंगना की ओर से एक विडियो की सीडी कोर्ट में दाखिल की गई थी. इसमें संजय राउत का कथित तौर पर कंगना को धमकाने वाला बयान बताया जा रहा है. BMC के एच-वार्ड के ऑफिसर भाग्यवंत लाते ने ही कंगना रनौत के बंगले के कुछ हिस्सों को गिराने के आदेश पर 7 सितंबर को हस्ताक्षर किए थे.

कोर्ट ने क्या कहा है?

कंगना की अर्जी में पाली हिल वाले अपने ऑफिस को तोड़े जाने की कार्रवाई को अवैध घोषित करने और बीएमसी से दो करोड़ रुपये हर्जाना दिलाने की मांग की है. इस पर गुरुवार को न्यायमूर्ति एस.जे. कथावाला और न्यायमूर्ति आर.आई. चागला की पीठ ने सुनवाई की. बीएमसी की खिंचाई करते हुए बेंच ने कहा,

किसी का घर तोड़ दिया गया है. हम आधे टूटी हुई इमारत को बारिश में ऐसे ही नहीं छोड़ सकते. उस वक्त तो आपने बड़ी तेजी दिखाई थी, अब जब आपके ऊपर आरोप लग रहे हैं तो आप कदम पीछे खींच रहे हैं.

अदालत ने यह बात उस समय कही, जब बीएमसी के वकील ने जवाब दाखिल करने के लिए दो दिन का समय मांगा. संजय राउत के वकील ने भी जवाब देने के लिए समय मांगा. उनका कहना था कि संजय राउत इस समय संसद सत्र के लिए दिल्ली में हैं. इस पर कोर्ट ने कहा कि हम 25 सितंबर से सुनवाई करेंगे. आपको ( राउत और लाते को)  यहां सुनवाई के लिए ज़्यादा समय चाहिए होगा. राउत अपनी बारी आने से पहले कभी भी अपना जवाब दाखिल कर सकते हैं.

कंगना ने कैसे प्रतिक्रिया दी?

हाई कोर्ट के इस आदेश के बाद कंगना ने ट्वीट किया,

हाई कोर्ट के माननीय जज साहब, मेरी आंखों में आंसू आ गए हैं. मुंबई की बरसात में वास्तव में मेरा घर बिखर रहा है. मेरे टूटे हुए घर के बारे में आपने सहानुभूति के साथ सोचा. ये मेरे लिए महत्वपूर्ण है. आपने जो मुझे सपोर्ट दिया, उससे मुझे अच्छा लगा.

बता दें कि कंगना और संजय राउत के बीच जुबानी जंग से ये पूरा मामला शुरू हुआ था. कंगना ने कहा था कि वो मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं करतीं. उसकी तुलना पीओके से भी कर दी थी. इसके बाद शिवसेना संजय राउत ने उन्हें कथित तौर पर हरामखोर कह दिया था. बाद में इस पर सफाई भी दी थी. इसी के बाद कंगना के ऑफिस पर बीएमसी पहुंच गई थी. जहां एक दिन पहले नोटिस लगाया. फिर 9 सितंबर को जेसीबी चलवा दी.


वीडियो: कंगना रनौत: ‘क्वीन’ से उम्मीद जगाने वाली एक्ट्रेस, महज़ एक कागज़ी फूल बनकर रह गईं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?

किस बात पर पंजाब में सनी देओल के 'सामाजिक बहिष्कार' की बात हो रही है?

कुछ लोग कह रहे हैं कि अपने गांवों में घुसने नहीं देंगे.

एक्ट्रेस के यौन शोषण के इल्ज़ाम पर अनुराग कश्यप का जवाब आया है

पायल घोष ने आरोप लगाया है.

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कई सारे मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई सेंसिटिव दस्तावेज भी बरामद किए हैं.