Submit your post

Follow Us

कंगना ने कहा- शिवसेना को मजबूरी में वोट दिया था, लोगों ने झूठ पकड़ लिया

कंगना रनौत. एक्ट्रेस और प्रोड्यूसर. मुंबई को पीओके जैसा बताने और अपने ऑफिस पर जेसीबी चलवाए जाने को लेकर महाराष्ट्र में सरकार चला रही शिवसेना से उनकी भिड़ंत हो चुकी है. कंगना ने पहले शिवसेना के नेता संजय राउत और फिर सीएम उद्धव ठाकरे तक को निशाने पर ले लिया था. अब शिवसेना को लेकर उनका एक बयान वायरल है. एक इंटरव्यू में कंगना ने कहा है कि उन्हें मजबूरी में मुंबई में शिवसेना को वोट डालना पड़ा था. मगर उनका ये बयान सचाई से कोसों दूर है.

क्या कहा था कंगना ने?

कंगना रनौत ने एक टीवी को इंटरव्यू देते हुए कहा था,

‘जब मैं बांद्रा में वोट डालने गई थी, मैं वोटिंग मशीन के सामने थी, मैं भाजपा समर्थक हूं और मैं सोच रही थी कि बीजेपी का बटन कहां है. फिर मुझे शिवसेना का बटन दबाना पड़ा. मैंने कहा कि मैं भाजपा को वोट देना चाहती हूं. मैं राजनीति नहीं समझती हूं. मुझे इसका अनुभव नहीं है. मुझे नहीं पता, ये गठबंधन क्यों हुआ, पर ये हुआ. मुझे शिवसेना का बटन दबाने पर मजबूर होना पड़ा.’

पड़ताल में सच आया सामने

इंडिया टुडे के रिपोर्टर कमलेश सुतार ने जब पड़ताल की तो पता चला कि दरअसल कंगना विधानसभा चुनाव में बांद्रा वेस्ट और लोकसभा चुनाव में नॉर्थ-सेंट्रल मुंबई में वोट डालती हैं. 2009 से 2019 तक महाराष्ट्र में 3 लोकसभा और इतने ही विधानसभा चुनाव हुए. इन 6 चुनावों में 5 चुनाव शिवसेना और भाजपा मिलकर लड़े थे. मगर 2014 वाले चुनाव में दोनों पार्टियों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा.

जब शिवसेना का कैंडिडेट उतरा ही नहीं तो मजबूरी कैसी   बात को ऐसे समझिए कि इस गठबंधन के चलते विधानसभा और लोकसभा चुनावों में बांद्रा वेस्ट और मुंबई नॉर्थ-सेंट्रल सीट भाजपा के खाते में आई. 5 चुनावों में शिवसेना का कोई कैंडिडेट उतरा ही नहीं. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि कंगना शिवसेना को वोट देने पर मजबूर कैसे हुईं?

अगर कंगना 2014 के चुनाव की बात कर रही हैं, तो उस वक्त कंगना के पास बीजेपी को वोट करने का मौका था. इस चुनाव में भाजपा और शिवसेना ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था. साल 2017 के बीएमसी चुनाव भी दोनों पार्टियों ने अलग-अलग लड़े थे.

कंगना ने क्या सफाई दी?

जब ये खबर सोशल मीडिया पर फैलने लगी कि कंगना ने झूठ बोला है, तो वह सफाई देने सामने आईं. उन्होंने कहा कि वो खार वेस्ट से वोट डालने गई थीं. कंगना के फ्लैट की बात करें तो वो मुंबई के खार वेस्ट में 16वीं रोड पर है. जिस बिल्डिंग में कंगना रहती हैं, वो 2008 में बनना शुरू हुई थी. 2012 में ओनर्स को पजेशन दिया गया. सीधा सा मतलब यह है कि कंगना 2012 के बाद ही इस फ्लैट में रहने आई होंगी. उसके बाद 2014 में इलेक्शन हुए. खार वेस्ट का ये इलाका बांद्रा वेस्ट विधानसभा में आता है.


वीडियो:

उर्मिला पर कंगना की बयानबाजी के बाद बॉलीवुड सितारे और फैंस भड़क गए हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर केंद्र सरकार में फूड प्रॉसेसिंग इंडस्ट्रीज मिनिस्टर थीं.

20 सैनिकों की मौत के बाद भारत सरकार ने चीन में मौजूद बैंक से कई हज़ार करोड़ रुपए उधार लिए

20 सैनिकों की मौत के बाद भारत सरकार ने चीन में मौजूद बैंक से कई हज़ार करोड़ रुपए उधार लिए

सरकार ने ये जानकारी दी तो कांग्रेस ने इसे हथियार बना लिया

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

संसद सत्र से पहले दो जगह कराई कोरोना जांच, रिपोर्ट देखकर चकरा गए सांसद महोदय

मॉनसून सत्र से पहले हुई जांच में 17 MP कोविड पॉजिटिव मिले हैं.

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

बिहार: 70 साल के इस शख्स ने दशरथ मांझी जैसा काम कर दिया है

और इस नेक काम में उन्हें 30 साल लगे.

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

कोरोना से ठीक होने के बाद अगले कुछ दिनों तक क्या करें, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया

प्रोटोकॉल जारी किया है, पढ़ लें.

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन

तीन दिन पहले लालू की पार्टी छोड़ी थी.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

दिल्ली दंगा: पुलिस ने कहा-चार्जशीट में योगेंद्र यादव और येचुरी का नाम है पर आरोपी के रूप में नहीं

मीडिया में चल रही खबरों पर दिल्ली पुलिस ने स्थिति स्पष्ट की है.

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

जो काम खुद बाल ठाकरे करते थे, शिवसेना वालों ने उसी के लिए एक्स नेवी ऑफिसर को पीट दिया!

पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

क्या यूपी में कोविड किट खरीद में घोटाला हुआ है? जांच के लिए SIT बनी

बीजेपी नेताओं ने ही घोटाले का आरोप लगाया है. ताजा मामला सहारनपुर से आया है.

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

और इंडिया के बड़े सुपरस्टार्स के लिए भी.