Submit your post

Follow Us

पुलिस ने दी नई जानकारी, कमलेश तिवारी हत्या के आरोपी दो अलग-अलग मौलाना से मिले थे

कमलेश तिवारी हत्याकांड में आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन की गिरफ्तारी के बाद गुजरात एटीएस इस केस में नए-नए फैक्ट सामने ला रही है. पुलिस का कहना है कि आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन हत्या को लेकर साल 2015 से प्लानिंग कर रहे थे.

क्या है मामला?

गुजरात एटीएस को पूछताछ में जो जानकारी मिली उसमें पता चला है कि 2015 में कमलेश तिवारी ने जो बयान दिया उसकी वजह से अशफाक और मोइनुद्दीन काफी आहत थे. पुलिस बता रही है कि इस वजह से ही कमलेश तिवारी को मारने के लिए उन दोनों ने 2015 से ही प्लानिंग करने लगे थे लेकिन हत्या को अंजाम कैसे दिया जाए ये तय नहीं कर पा रहे थे.

# और क्या बता रही है पुलिस

गुजरात पुलिस का कहना है कि कमलेश तिवारी की हत्या की प्लानिंग में आरोपी अशफाक और मोइनुद्दीन सूरत में अलग-अलग मौलाना से भी मिले थे.

बताया जा रहा है कि मौसीन शेख भी इस हत्या की साजिश में आरोपियों के साथ जुड़ गया. मौसीन शेख को भी गुजरात एटीएस की टीम ने हत्या के 24 घंटों के अंदर ही सूरत से गिरफ्तार कर लिया था.

# गुजरात ATS क्या कह रही है?

गुजरात एटीएस चीफ हिमांशु शुक्ला ने बताया, ‘मोइनुद्दीन को जब गिरफ्तार किया गया तब उसकी उंगलियों पर चोट आई हुई थी. चोट के बारे में जब पूछताछ की गई तब मोइनुद्दीन ने एटीएस को बताया कि जब वे लोग कमलेश तिवारी की हत्या करने के लिए लखनऊ के दफ्तर में गये थे. उस वक्त अशफाक ने पहले चाकू निकाल कर कमलेश तिवारी का गला काटने की कोशिश की. कमलेश तिवारी के चीखने पर मोइनुद्दीन ने उसका गला दबा दिया.

शुक्ला बताते हैं कि आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उन लोगों ने कमलेश तिवारी के शरीर के कई हिस्सों पर वार किया. इसी बीच अशफाक ने कमलेश तिवारी के सर पर फायरिंग की. लेकिन गोली उसके मुंह के पास और मोइनुद्दीन की उगंली को छेदती हुई कमलेश तिवारी को लग गई. मोइनुद्दीन भी कमलेश को मारने के लिए चलाई गोली से घायल हो गया. हालांकि अशफाक खुद एमआर होने की वजह वहीं पास से दवा ली और हाथ का ड्रेसिंग कर लिया.


ये भी देखें:

लातूर सिटी की महाभयानक पानी समस्या का हल नहीं सोचा गया, तो लोग दरबदर हो जाएंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.