Submit your post

Follow Us

जहरीली गैस से बेहोश मजदूरों को बचाने सीवर में उतरा शख्स, लेकिन खुद की जान चली गई

हरियाणा के कैथल से बुरी खबर आई है. यहां पर सीवर में जहरीली गैस के चलते बेहोश मजदूरों को निकालते हुए एक व्यक्ति की मौत हो गई. मृतक का नाम सतीश आजाद है. वह वेल्डर के रूप में काम करता था. सीवर में सफाईकर्मियों के फंसने पर वह मदद के लिए उतरा था. बाकी सफाईकर्मियों को तो बचा लिया गया, लेकिन सतीश की मौत हो गई. सतीश के परिवार वाले न्याय की मांग कर रहे हैं. लेकिन अभी तक प्रशासन की ओर से मदद नहीं मिली है.

मदद को सीवर में उतरा, पर बेहोश हो गया

सतीश के चाचा प्रेम सिंह ने बताया कि सतीश कैथल में वेल्डिंग मिस्त्री के रूप में काम करता था. 12 मई को सेक्टर 18 में गंदे नाले के पास सीवर की सफाई हो रही थी. इसी दौरान तीन सफाईकर्मी जहरीली गैस के चलते सीवर में फंस गए. ऐसे में कई लोग इकट्ठा हो गए थे. सतीश उधर से ही जा रहे थे. उसे इस बारे में पता चला, तो वह मदद के लिए सीवर में उतर गया. उसने बेहोश हो चुके मजदूरों को निकालने की कोशिश की, लेकिन निकाल नहीं सका. जहरीली गैस से वह भी सीवर में ही बेहोश हो गया. इसी दौरान किसी पुलिस और दमकल को फोन किया.

बाकी मजदूर बचे, पर सतीश की जान गई

उन्होंने बताया कि दमकल ने सीवर में पानी छोड़ा. फिर बाकी लोगों की मदद से सीवर से मजदूरों को निकालने का काम शुरू हुआ. एक-एक करके सभी को निकाल लिया गया. दो मजदूरों को तो पानी डालने के बाद होश आ गया. लेकिन सतीश और एक अन्य मजदूर को होश नहीं आया. इन दोनों को अस्पताल ले जाया. अस्पताल में सतीश को मृत घोषित कर दिया गया. वहीं दूसरे मजदूर को रोहतक रेफर कर दिया गया.

परिवार को मदद की आस

इस घटना के बाद स्थानीय लोगों और कई समाजसेवी संगठनों ने प्रशासन से परिवार की मदद की मांग की है. इस बारे में डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन दिया गया है. इसमें कहा गया है कि परिवार को आर्थिक मदद दी जाए. साथ ही किसी एक सदस्य को सरकारी देने की मांग भी की गई है.

सतीश के चाचा प्रेम सिंह ने बताया कि सतीश की चार-पांच साल पहले ही शादी हुई थी. उसके एक डेढ़ साल की बेटी है. घर की माली हालत भी अच्छी नहीं है. प्रशासन ने मदद का भरोसा दिया है, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ. सांसद और स्थानीय विधायक भी 18 मई को आए थे. उन्होंने भी मदद का आश्वासन दिया है.


Video: अहमदाबाद: COVID-19 के इलाज के लिए भर्ती हुए मरीज का शव बस स्टैंड पर मिला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अमेरिकी कंपनी ने कोरोना की अंडर ट्रायल वैक्सीन का चूहे पर ट्रायल किया, तो क्या हुआ?

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?

कोरोना संक्रमण के बीच स्विगी ने बहुत बुरी खबर दी है

दो दिन पहले जोमैटो ने भी ऐसा ही ऐलान किया था.

ममता बनर्जी ने लॉकडाउन के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है

केंद्र सरकार की नई बात मानने से मना कर दिया!

लॉकडाउन 4.0: सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानें क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है.

घर जाने को लेकर राजकोट में 500 मज़दूरों का सब्र जवाब दे गया, सड़क पर उतरे

हंगामे के बीच पुलिस घायल, किसी तरह शांत हुआ मामला.

चोटिल बेटे को खटिया पर लादकर 900 किमी दूर घर के लिए निकल पड़ा ये मज़दूर

पंजाब से चला था परिवार, मध्य प्रदेश जाना था.

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की आख़िरी किश्त में मनरेगा को 40 हजार करोड़, अन्य को क्या मिला?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सात सेक्टर्स के लिए घोषणाएं कीं.

यूपी: औरैया में दो ट्रक टकराने से 24 मज़दूर मारे गए, योगी ने कई पुलिसवालों को सस्पेंड किया

पीएम मोदी ने घटना पर शोक जताया है.