Submit your post

Follow Us

30 लाख से अधिक ट्वीट कर छात्रों ने रेलवे से पूछा, 'कब होगी परीक्षा?'

#JusticeForRailwayStudents. सोशल मीडिया की भाषा में ये एक हैशटैग है. हैशटैग एक माध्यम है जिसके जरिए एक समान विचारों को सोशल मीडिया पर इकट्ठा किया जाता है. जब एक साथ ढेर सारे लोग एक ही तरह की बात या विचार पोस्ट करने लगें तो फिर वो हैशटैग ट्रेंड होने लगता है. तो हुआ ये है कि समाचार लिखे जाने तक करीब 3 मिलियन यानी 30 लाख बार #JusticeForRailwayStudents ट्वीट किया जा चुका है, जो बुधवार 1 दिसंबर की सुबह से ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है.

क्यों हो रहा प्रोटेस्ट?

इसकी वजह है 1000 दिन पहले निकली रेलवे की वैकेंसी. रेलवे ने फरवरी 2019 में विज्ञापन निकाला. नौकरियां ही नौकरियां. इसमें दो कैटेगरी की नौकरियां थीं. पहली NTPC यानी नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी में 35 हजार 208 पोस्ट की वैकेंसी. इसमें क्लर्क, टिकट क्लर्क, गुड्स गार्ड, स्टेशन मास्टर जैसे पदों पर भर्ती होती है. NTPC के लिए आवेदन करने वालों की संख्या 1 करोड़ 26 लाख के लगभग है. जून से सितंबर 2019 के बीच इसकी परीक्षा आयोजित होनी थी.

दूसरी परीक्षा थी ग्रुप डी की. NTPC के साथ ही इसकी वैकेंसी भी आई थी. 1 लाख 3 हज़ार 769 पदों की भारी भरकम वैकेंसी. 1 करोड़ 15 लाख के लगभग आवेदन आए थे. दोनों परीक्षाओं को मिला दें तो कुल आवेदन करने वालों की संख्या हो जाती है दो करोड़ 40 लाख के आसपास. NTPC की परीक्षा होने के बाद सितंबर-अक्टूबर 2019 में ग्रुप डी का एग्जाम शेड्यूल था. लेकिन तय शेड्यूल पर न तो NTPC की परीक्षा हुई और न ही ग्रुप डी की.

पिछले साल के प्रदर्शन के बाद क्या हुआ?

आपको पिछले साल सितंबर में सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक बेरोजगार युवाओं का प्रदर्शन याद ही होगा. हमें तो याद है, क्योंकि हमने तब भी सरकार से पूछा था कि ये भर्तियां कब पूरी होंगी? और करीब सवा साल बाद फिर से पूछ रहे हैं कि आखिर ये भर्तियां कब पूरी होंगी?

पिछले साल के विरोध-प्रदर्शन के बाद सरकार की ओर से एक डेट शीट जारी की गई थी. पहले NTPC और फिर उसके बाद ग्रुप डी एग्जाम कराने की बात कही गई थी. दिसंबर 2020 से NTPC के पहले स्टेज की परीक्षा शुरू हुई जो खत्म हुई जुलाई 2021 में. लेकिन रिजल्ट अब तक नहीं आया है. यानी कि NTPC के वो अभ्यर्थी जो पहले परीक्षा के लिए प्रदर्शन कर रहे थे वो अब रिजल्ट के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं. फिर उसके बाद मेडिकल, टाइपिंग, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन, और जॉइनिंग की बारी आएगी.

हजार दिन बीत गए, कब होगी परीक्षा?

NTPC की एक स्टेज की परीक्षा हो भी गई है. ग्रुप डी वालों की तो अब तक परीक्षा ही नहीं हुई है. जबकि नोटिफिकेशन जारी हुए पूरे एक हजार दिन बीत चुके हैं. एक-एक फॉर्म के लिए 500 रुपए लेने वाली सरकार एक करोड़ से अधिक युवाओं को अब तक इस सवाल का जवाब नहीं दे सकी है कि उनकी परीक्षा कब होगी. भर्ती पूरी होने और जॉइनिंग मिलने की बात तो भूल ही जाइए. जल्द से जल्द ग्रुप डी और NTPC एग्जाम कराने की मांग को लेकर पिछले साल सितंबर से प्रदर्शन कर रहे युवा हल्ला बोल संगठन के अध्यक्ष अनुपम बताते हैं,

ग्रुप डी के लिए अप्लाई करने वालों में सर्वाधिक संख्या समाज के सबसे कमजोर तबके के लोगों की है. ये केवल बेरोजगार युवा नहीं हैं. ये वो लोग हैं जिनके लिए फॉर्म का 500 रुपए इकट्ठा करना ही अपने आप में संघर्ष है. ऐसे लोगों से पैसा जमा करके आप परीक्षा नहीं करा रहे हैं और सूद कमा रहे हैं. 5 सितंबर 2020 को जब हमने प्रदर्शन किया था तब तुरंत इन्होंने कह दिया था कि हम परीक्षा करवाएंगे. यही एकमात्र रिएक्शन अब तक उनकी ओर से आया है. उसमें भी उन्होंने कहा था कि NTPC और ग्रुप डी दोनों कराएंगे लेकिन केवल NTPC कराया, ग्रुप डी अब तक नहीं कराया.

नोटिफिकेशन निकले एक हजार दिन बीत चुके हैं. बीच में कई बार प्रदर्शन हुए. आज भी लाखों ट्वीट हो चुके हैं. लेकिन ग्रुप डी का फॉर्म भरने वाले एक करोड़ 15 लाख लोगों को ये नहीं पता कि उनका एग्जाम कब होगा. संशय इस बात पर भी है कि एग्जाम होगा भी या नहीं होगा. RRB या रेल मंत्रालय की ओर से भी अब तक इस बारे में कोई अपडेट नहीं आया है.


UPTET पेपर लीक मामले ने योगी ने बुलडोजर चलाने की बात क्यों कही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

स्वामी की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट 6 जनवरी को सुनाएगा फैसला

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

GST काउंसिल ने टेक्सटाइल पर टैक्स 12% करने का फैसला टाला