Submit your post

Follow Us

BJP अध्यक्ष नड्डा का आरोप- UPA सरकार में PM रिलीफ फंड से राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसा मिला

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने 26 जून को सुबह एक के बाद एक कुल तीन ट्वीट किए. कहा कि यूपीए सरकार के समय प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (PMNRF) से पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन में डोनेट किया गया. आरोप लगाया कि आम जनता ने जो पैसा मदद के लिए दिया था, उसे एक परिवार के फाउंडेशन को दे दिया. कहा कि यह खुलेआम धोखाधड़ी है. नड्डा ने अपने आरोप के पक्ष में राजीव गांधी फाउंडेशन के दानदाताओं की दो लिस्ट भी ट्वीट की.

क्या कहा नड्डा ने

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पहले ट्वीट में कहा,

संकट में लोगों की मदद करने के लिए बना PMNRF, यूपीए के कार्यकाल में राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसे दान कर रहा था. PMNRF बोर्ड में कौन बैठा था? सोनिया गांधी. राजीव गांधी फाउंडेशन की अध्यक्षता कौन करता है? सोनिया गांधी. यह मामला पूरी तरह से निंदनीय है. इसमें उसूलों और प्रक्रियाओं को दरकिनार किया गया और पारदर्शिता की कोई परवाह नहीं की गई.

इस ट्वीट में नड्डा ने साल 2005-06 और 2007-08 में राजीव गांधी फाउंडेशन के दानदाताओं की लिस्ट जारी की है. इसमें कई कंपनियों और संगठनों के साथ ही PMNRF का भी नाम है. हालांकि नड्डा ने यह नहीं बताया कि PMNRF से कितना पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन में गया.

अगले ट्वीट में नड्डा ने लिखा,

भारत की जनता ने अपने खून-पसीने की कमाई जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए PMNRF को दान की. ऐसे में जनता के पैसे को एक परिवार के फाउंडेशन में भेजना न केवल खुलेआम धोखाधड़ी है, बल्कि भारत के लोगों के साथ विश्वासघात भी है.

तीसरे ट्वीट में बीजेपी अध्यक्ष ने कहा,

पैसों के लिए एक परिवार की भूख देश को बहुत महंगी पड़ी है. अच्छा होता कि वे अपनी ऊर्जा को अधिक रचनात्मक एजेंडे में लगाते. कांग्रेस के शाही राजवंश को अपने फायदे के लिए की गई अनियंत्रित लूट के लिए माफी मांगनी चाहिए.

क्या है राजीव गांधी फाउंडेशन

इस संगठन की स्थापना साल 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर हुई. इसकी वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के अनुसार, यह स्वास्थ्य, साक्षरता, विज्ञान और तकनीक, महिला एवं बाल कल्याण जैसे मुद्दों पर काम करता है. इस फाउंडेशन की मुखिया सोनिया गांधी हैं. राहुल गांधी, मनमोहन सिंह, पी. चिदम्बरम, मोटेंक सिंह अहलूवालिया, संजीव गोयनका, अशोक गांगुली, प्रियंका गांधी वाड्रा इसके ट्रस्टी हैं.

और PMNRF क्या है

इसका पूरा नाम प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष है. इसकी स्थापना 1948 में हुई थी. तत्कालीन पीएम पंडित जवाहरलाल नेहरू ने पाकिस्तान से आए शरणार्थियों की मदद के लिए राहत कोष बनाने और लोगों से इसमें दान करने की अपील की थी. PMNRF का मुखिया भारत का प्रधानमंत्री होता है. देश में जब कभी कोई आपदा या महामारी आती है, तो इसके जरिए ही लोगों तक मदद पहुंचाई जाती है. इसमें कोई भी पैसा डोनेट कर सकता है. इसमें पैसे डोनेट करने पर इनकम टैक्स में छूट भी मिलती है.

पिछले दिनों इससे जुड़ा एक विवाद भी हुआ था. पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए ‘पीएम केयर्स’ नाम से नया फंड बना दिया था. ऐसे में सवाल उठे थे कि PMNRF के होते हुए एक और फंड की क्या जरूरत थी.


Video: गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवानों के लिए मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी से क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.

रेलवे की नौकरी के भरोसे न बैठें, रेलवे की जेबें खाली हैं!

कोरोना लॉकडाउन ने रेलवे का हाल खस्ता कर दिया है.