Submit your post

Follow Us

कश्मीर में फौजियों से ज्यादा आम नागरिकों पर आतंकी हमले, अब प्रिंसिपल-टीचर की हत्या

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के श्रीनगर (Srinagar) में गुरुवार 7 अक्टूबर को एक और आतंकी हमला (Terrorist Attack) हुआ. यहां के एक सरकारी स्कूल में आतंकियों ने घुसकर गोलीबारी कर दी. दो टीचरों को निशाना बनाया गया. हमले में स्कूल की प्रिंसिपल सतिंदर कौर और टीचर दीपक चांद की मौत हो गई. दीपक कश्मीरी पंडित थे, जबकि सतिंदर सिख थी. इससे दो दिन पहले श्रीनगर में नामी फार्मासिस्ट माखन लाल बिंद्रू की उनकी दुकान में गोली मारकर हत्या की गई थी. 90 के दशक में जब आतंकियों के डर से हजारों कश्मीरी पंडित पलायन कर गए थे, तब भी बिंद्रू का परिवार कश्मीर में डटा रहा था. आतंकी दो दिन के अंदर पांच नागरिकों की जान ले चुके हैं.

स्कूल में बरसाईं गोलियां

आजतक संवाददाता कमलजीत कौर के मुताबिक़, आतंकवादी गुरुवार सुबह लगभग 11: 15 बजे श्रीनगर के गवर्नमेंट बॉयज हायर सेकेंडरी स्कूल संगम में घुसे. ये इलाक़ा सफ़क़दल पुलिस थाने के अंतर्गत आता है. आतंकियों ने वहां फ़ायरिंग कर दी. दो लोगों को गोलियां लगीं. घायलों को श्रीनगर के SKIMS अस्पताल ले जाया गया. जहां 44 साल की स्कूल प्रिंसिपल सतिंदर कौर को मृत घोषित कर दिया गया. वहीं शिक्षक दीपक चंद की हालत गंभीर थी. उनका कुछ वक्त तक इलाज चला लेकिन उनकी जान बचाई नहीं जा सकी. घटना के बाद सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी. तलाशी अभियान जारी है.

TRF ने ली हमले की ज़िम्मेदारी

हमले की ज़िम्मेदारी शहीद ग़ाज़ी स्क्वॉड यानी दि रेज़िस्टेंस फ़्रंट (TRF) ने ली है. TRF के संबंध आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से बताए जाते हैं. TRF ने एक प्रेस रिलीज भी जारी की. इसमें भारत सरकार की तरफ इशारा करते हुए कहा कि जो कोई भी “क़ब्ज़ेदारों और ग़द्दारों” का साथ देगा, उनको बख्शा नहीं जाएगा. TRF ने कहा कि इन टीचरों ने 15 अगस्त के दिन बच्चों को स्कूल ज़रूर भेजने के लिए पैरेंट्स से कहा था. उसने प्रेस रिलीज़ में कहा कि इस घटना को धर्म से जोड़कर न देखा जाए. इसके अलावा TRF ने कश्मीर के दुकानदारों को अपनी दुकानों में CCTV न लगाने की हिदायत भी दी.

आतंकियों को पाकिस्तान से मिल रहे इशारे

जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि स्कूल में हुए आतंकी हमले के पीछे बॉर्डर पार के संगठनों का हाथ है. समाचार एजेन्सी एएनआई से बात करते हुए दिलबाग सिंह ने कहा कि बेगुनाह लोग जो समाज की बेहतरी के काम में लगे हैं, उन्हें निशाना बनाया गया है. दहशतगर्द बॉर्डर पार से पाकिस्तान के इशारों पर इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि  कश्मीर में नागरिकों, विशेष रूप से अल्पसंख्यकों की चुन चुनकर हत्या करने का मकसद डर का माहौल बनाना और सदियों पुराने सांप्रदायिक सद्भाव को नुकसान पहुंचाना है. ऐसे लोग जल्द ही बेनकाब होंगे.

कश्मीरी पंडितों ने लिखी एलजी को चिट्ठी

तीन दिन के अंदर घाटी में दो कश्मीरी पंडितों की हत्या से समुदाय में नाराजगी है. कश्मीरी पंडित संघर्ष समिति ने इसे लेकर एलजी मनोज सिन्हा को चिट्ठी लिखी है. संगठन का कहना है कि कश्मीर घाटी में रह रहे हिंदू आतंकवाद के अलावा प्रशासनिक अक्षमता का शिकार हो रहे हैं. संगठन ने दावा किया है कि वो अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन को इस मामले को लेकर लेटर लिखेंगे. कश्मीर में बाहर से आकर रह रहे लोगों, कश्मीरी पंडित और अन्य हिंदुओं की सुरक्षा का ध्यान न रखने के लिए स्थानीय प्रशासन के ख़िलाफ़ हस्ताक्षर अभियान भी चलाएंगे.

फौजियों से ज्यादा सिविलियंस पर हमले

पिछले एक साल में आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों से ज्यादा आम नागरिकों को निशाना बनाया है. गुरुवार की घटना को मिलाकर आतंकवादी हमलों में 25 सिविलियंस की मौत हो चुकी है. इनमें श्रीनगर में 10, पुलवामा और अनंतनाग में 4-4, कुलगाम में 3, बारामूला में 2 और बडगाम व बांदीपोरा में 1-1 लोग आतंकी हमले का शिकार बने. मारे गए इन 25 लोगों में 3 लोग जम्मू-कश्मीर के रहने वाले नहीं थे. बाक़ी 22 लोगों में अगर धर्म के हिसाब से देखें तो 3 कश्मीरी पंडित, 18 मुसलमान और 1 सिख को आतंकियों ने निशाना बनाया. वहीं सुरक्षाबलों की बात करें तो इस साल 5 अक्टूबर तक 20 फौजियों ने आतंकी हमलों में जान गंवाई है. ये आंकड़ा पिछले 6 साल में सबसे कम है.


वीडियो- कश्मीरी पंडित की बेटी की चुनौती सुन आतंकी भी कांप उठेंगे!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?