Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन के दौरान सुसाइड, सामने आया ये आंकड़ा डराने वाला है

डिप्रेशन और मेंटल हेल्थ पर अब काफी बातें होने लगी हैं. ये समस्या कितनी बड़ी है, इससे पता चलता है कि झारखंड की इस खबर से. लॉकडाउन के दौरान कोरोना वायरस से ज्यादा कथित तौर पर डिप्रेशन की वजह से मौतें हुई हैं. हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान राज्य में औसत सुसाइड की संख्या 5.5 प्रतिदिन रही, जिनमें कथित तौर पर ज़्यादातर मामले डिप्रेशन के थे.

राज्य सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, मार्च, अप्रैल, मई और 25 जून तक 449 लोगों ने सुसाइड किया. जून में ही 134 लोगों की मौत सुसाइड से हुई. औसतन हर 4.50 घंटे में एक शख्स सुसाइड कर रहा है. कई मनोचिकित्सक कहते हैं कि कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से डिप्रेशन बढ़ा है. लोगों के दिमाग पर असर पड़ा है. झारखंड के सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ साइकियाट्री के डॉक्टर संजय कुमार मंडल ने कहा कि लॉकडाउन में हमारे इंस्टीट्यूट में बड़ी संख्या में लोग आए, जिन्हें डिप्रेशन था.

बेरोजगारी से लेकर असुरक्षा तक 

इसी इंस्टीट्यूट के एक डॉक्टर ने बताया,

लॉकडाउन से अनलॉक 1.0 के बीच डिप्रेशन से जूझते करीब 1200 लोग हमारे इंस्टीट्यूट में आए. लॉकडाउन के दौरान हमें रोज डिप्रेशन की शिकायतों वाली 150 फोन कॉल मिल रही थीं. 20 फीसदी से ज्यादा लोगों ने जीने की उम्मीद छोड़ दी थी और वो अपना जीवन खत्म करना चाहते थे.

झारखंड की राजधानी रांची में 1 अप्रैल से 25 जून के बीच 55 लोगों की मौत सुसाइड से हुई. मनोचिकित्सक कहते हैं कि अर्थव्यवस्था की सुस्ती, नौकरी जाने का डर, बेरोजगारी और ऐसे ही फैक्टर्स की वजह से लोगों में अवसाद आया. असुरक्षा की भावना की वजह से बहुत से लोगों ने ऐसा कदम उठाया.

झारखंड में बढ़ाया गया लॉकडाउन

झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने 30 जून, 2020 तक घोषित लॉकडाउन को 31 जुलाई, 2020 तक बढ़ा दिया है. सरकार ने कहा है कि अब तक लॉकडाउन में छूट की जो घोषणाएं समय-समय पर की गई हैं, वो लागू रहेंगी. इस दौरान ना तो राज्य में बसें चलेंगी, ना ही सैलून खुलेंगे. सार्वजनिक जगहों पर जमावड़े पर भी पूरी तरह से रोक रहेगी. 25 जून, 2020 को अनलॉक 1.0 के तहत कंटेनमेंट जोन को छोड़कर कुछ और सेक्टरों में छूट दी गई थी. झारखंड में कोरोना वायरस के 2,207 मामले सामने आए हैं और 11 लोगों की मौत हुई है.


क्या होती है डिप्रेशन और मानसिक अस्वस्थता, जिनका पता भी नहीं चलता और लोग जान ले लेते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.