Submit your post

Follow Us

बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे की डिग्री पर क्यों मचा है बवाल?

निशिकांत दुबे. झारखंड के गोड्डा से बीजेपी सांसद. उनकी डिग्री को लेकर एक बार फिर विवाद हो गया है. झारखंड मुक्ति मोर्चा ने दुबे की एमबीए की डिग्री को फर्जी बताया है. दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक लेटर का हवाला दिया जा रहा है. वहीं बीजेपी के नेता इस लेटर को ही फर्जी बता रहे हैं.

क्या है पूरा मामला

निशिकांत दुबे की एमबीए की डिग्री को लेकर लंबे समय से विवाद है. झामुमो सहित अन्‍य राजनीतिक दल सवाल उठाते रहे हैं. डिग्री को फर्जी बताते रहे हैं. झामुमो के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कुछ दिन पहले रांची में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. ये बात दोहराई थी कि RTI से मिली जानकारी के अनुसार निशिकांत दुबे की एमबीए की डिग्री फर्जी है.

वहीं देवघर के रहने वाले विष्णुकांत झा ने एमबीए की डिग्री के फर्जी होने का आरोप लगाया था. इसकी शिकायत देवघर पुलिस और सीएमओ से की थी. शिकायत पर सीआईडी मामले की जांच कर रही है.

‘हिन्दुस्तान’ की खबर के मुताबिक, सीआईडी की तीन सदस्यीय टीम जांच के लिए दिल्ली गई थी. दिल्ली यूनिवर्सिटी के डीन ने सीआईडी के अधिकारी राजेश कुमार को इस संबंध में एक लेटर दिया है.

क्या है लेटर में

इस लेटर में लिखा है,

आपको सूचित किया जाता है कि फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडी में मौजूद रिकॉर्ड के मुताबिक, साल 1993 में निशिकांत दुबे नाम के किसी व्यक्ति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडी में न तो दाखिला लिया और न ही पास हुआ. इस आशय की जानकारी पूर्व में आरटीआई के जरिए मांगे गए सवाल के जवाब में भी दी गई थी.

इस लेटर को झामुमो के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है, जिसे मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रिट्वीट किया है. हालांकि लेटर के असली और नकली होने की पुष्टि नहीं हो पाई है.

‘प्रभात खबर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, झामुमो के आरोप पर निशिकांत दुबे ने कहा-

जिस बृजेंद्र कुमार पांडेय के आरटीआई का हवाला दिया जा रहा है, वह फर्जी है. बृजेंद्र कुमार पांडेय ने 2017 में गोरखपुर में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. इसमें कहा था कि उन्होंने इस प्रकार का न तो कोई आरटीआई डाला है, न ही दिल्ली यूनिवर्सिटी से कोई दस्तावेज आया है. उनके नाम से फर्जी दस्तावेज घुमाया जा रहा है.

वहीं उन्होंने ट्वीट कर भी जवाब दिया. लिखा-

‘दैनिक जागरण’ की खबर के मुताबिक, निशिकांत दुबे ने कहा कि पहले भी सवाल उठाए जा चुके हैं. शैक्षणिक डिग्री के मामले में निर्वाचन आयोग और लोकसभा अध्यक्ष को वो जवाब दे चुके हैं.

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने लेटर पर सवाल उठाया है. उनका कहना है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी ने इस मामले में 28 जुलाई को पत्र लिखा, फिर उसी दिन यह पत्र मुख्यमंत्री और झामुमो के ट्विटर हैंडलर को भेज दिया जाता है और इसे पार्टी तुरंत जारी भी कर देती है.


आगरा: पुलिस ने पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष के फ़ार्म हाउस से सेक्स रैकेट पकड़ा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

डॉनल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिका की राजधानी में मचाया दंगा, 4 लोगों की मौत, वॉशिंगटन में कर्फ़्यू

फ़ेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम ने ट्रम्प पर बैन लगा दिया है.

चांदनी चौक: हनुमान मंदिर तोड़ने के पीछे की असल वजह क्या है, जान लीजिए

BJP, AAP और कांग्रेस मंदिर ढहाने का ठीकरा एक दूसरे पर फोड़ रही हैं.

शाहजहांपुर बॉर्डर से हरियाणा में घुस रहे किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

किसान नेताओं ने क्या ऐलान किया है?

कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को किस मामले में जेल भेज दिया गया है?

मध्य प्रदेश में बीजेपी विधायक के बेटे ने दर्ज करवाया था केस.

तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के पांच खिलाड़ियों को आइसोलेट क्यों कर दिया गया?

इसमें रोहित शर्मा का नाम भी शामिल है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री बोले सबको फ्री देंगे वैक्सीन, फिर ट्वीट करके कुछ और बात कह दी

जानिए देश में कहां-कहां वैक्सीन का ड्राई रन चल रहा है.

BCCI अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली अस्पताल में भर्ती

ममता बनर्जी का ट्वीट-गांगुली को हल्का कार्डियक अरेस्ट आया है.

राजीव गांधी सरकार में नंबर-2 रहे बूटा सिंह का निधन, PM मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया

बूटा सिंह 86 साल के थे, अक्टूबर-2020 में उन्हें ब्रेन हैमरेज के बाद AIIMS में भर्ती कराया गया था.

नए साल पर देश को मिला कोविड वैक्सीन का तोहफा!

एक्सपर्ट कमेटी ने दी मंज़ूरी. अब बस DCGI की हां बाकी.

मोबाइल बेचने के लिए होर्डिंग पर लगा दी मोदी-योगी की फोटो, UP के मंत्री का भाई फंस गया

इस पर मंत्री जी ने क्या कहा है?