Submit your post

Follow Us

सिर्फ 250 रुपये की वजह से इरफान को क्रिकेट का करियर छोड़ना पड़ा!

दिग्गज कलाकार इरफ़ान नहीं रहे. लगभग दो साल तक लंबी बीमारी से जूझने के बाद 53 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. इरफ़ान को कैंसर था, जिसके बारे में उन्हें 2018 में पता चला. इरफान के जाने के बाद उन्हें एक बेहतरीन अदाकार, एक्टर के रूप में याद किया जा रहा है. लेकिन क्या आप ये बात जानते हैं कि इरफान सिर्फ कमाल के एक्टर ही नहीं, बल्कि स्पोर्ट्समैन भी थे.

इरफान को एक्टिंग से भी पहले क्रिकेट से बहुत गहरा लगाव था. इरफान ने साल 2017 में ‘सन ऑफ अबिश’ नाम के शो में दिए एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया था. इरफान ने उस शो में बताया था-

”हां मैं क्रिकेट में काफी अच्छा था. मैं एक ऑल-राउंडर था. मुझे बैटिंग ज्यादा पसंद थी, लेकिन मेरे कैप्टन को मेरी बॉलिंग ज्यादा पसंद थी. वो मुझसे कहते थे, अच्छी वाली डाल और फिर मैं बॉलिंग करता था, तो विकेट मिल जाते थे.”

इसके बाद उनसे जब ये सवाल पूछा गया कि उन्होंने क्रिकेट में अपना करियर क्यों नहीं बनाया. तो उन्होंने बताया,

”मैं सी.के. नायडू टूर्नामेंट में सलेक्ट भी हुआ था. लेकिन मेरे घर का मौहाल ऐसा था कि खेलने के लिए आपको छुपकर जाना पड़ता था. बहाने बनाने पड़ते थे. उस तरह का माहौल नहीं था. हालांकि उस तरह का टैलेंट भी नहीं था कि खेल में कोई करियर बना सकता. जब मेरा सलेक्शन हुआ, तो टीम को जयपुर से शायद अजेमर जाना था. तो मुझे कुछ 250 रुपये की ज़रूरत थी. मैं वो पैसे अरेंज नहीं कर पाया. इस वजह से मैं नहीं जा पाया.”

इरफान खान बचपन से जयपुर की गलियों में क्रिकेट खेला करते थे. लेकिन कभी भी उन्होंने क्रिकेट को अपने करियर की तरह नहीं देखा. शायद ये इसलिए भी हुआ, क्योंकि उन्होंने कला के क्षेत्र का एक नायाब हीरा बनना था.

क्या हुआ था इरफान को?

2018 में इरफ़ान को न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर डायग्नोज़ हुआ था. एक साल तक लंदन में इलाज कराने के बाद वो फरवरी, 2019 में इंडिया लौटे थे. लौटते ही वो अपनी फिल्म ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ की शूटिंग में लग गए. हालांकि फिल्म जब रिलीज़ होने को आई, तो इरफान ने एक वीडियो जारी कर कहा कि वो इस फिल्म के प्रमोशन में हिस्सा नहीं ले पाएंगे, क्योंकि वो पूरी तरह से रोगमुक्त नहीं हुए हैं.


इरफान खान मार्क रफैलो को खुद को इंट्रोड्यूस करना चाहते थे मगर उन्होंने हैल्लो बोलकर गेम बदल दी 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब इस तारीख से देश के अंदर फ्लाइट्स से यात्रा कर सकेंगे

इससे पहले 200 नॉन एसी ट्रेन चलने की सूचना दी गई थी.

'अम्फान' आ चुका है, पश्चिम बंगाल में दो की मौत, कई घरों को नुकसान

ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में अपना असर दिखा रहा है.

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?