Submit your post

Follow Us

IPL 2022 के मेगा ऑक्शन को लेकर अब क्या बुरी ख़बर आ गई?

इंडियन प्रीमियर लीग यानी IPL के 15वें सीजन से पहले होने वाले मेगा ऑक्शन पर संकट घिरता दिख रहा है. ख़बर मिली है कि BCCI इस मेगा ऑक्शन के लिए तय की गई तारीख और जगह में बदलाव करने पर विचार कर रहा है. बोर्ड के इस फैसले का कारण कोविड के बढ़ते केस और उनके चलते राज्य सरकारों द्वारा लगाई गई बंदिशें हैं. बोर्ड का कहना है कि अगर बंदिशों में बदलाव होता है तो उन्हें भी मेगा ऑक्शन की प्लानिंग में बदलाव करना पड़ेगा.

BCCI द्वारा हाल ही में तय किया गया था कि IPL 2022 का मेगा ऑक्शन 12 और 13 फरवरी को बेंगलुरु शहर में आयोजित किया जाएगा. लेकिन कोरोना के बढ़ते कहर के चलते राज्य सरकारों ने फिर से लॉकडाउन लगाना शुरू कर दिया है. साथ ही बाकी बंदिशों पर भी दोबारा विचार होने लगा है. ऐसे में अगर कर्नाटक सरकार कोई नया नियम लागू कर देती है, तो उससे मेगा ऑक्शन की प्लानिंग पर असर पड़ सकता है.

# IPL Auction पर संकट

हालांकि BCCI ने मेगा ऑक्शन के लिए होटल्स वगैरह की बुकिंग अभी नहीं की है. जिससे उनके लिए एक नई जगह तय करना थोड़ा आसान हो जाएगा. इस बारे में BCCI के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ज़ी न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि वे इस मसले पर कर्नाटक सरकार से लगातार बातचीत में हैं. जो भी फैसला लिया जाएगा, उसके बारे में राज्य सरकार को शॉर्ट नोटिस भेज दिया जाएगा. बोर्ड के अधिकारी ने इस इंटरव्यू में कहा,

‘कुछ चीजें हमारे हाथ में नहीं हैं. उनके लिए हमें इंतज़ार करना होगा. एक बार बंदिशों का सही अंदाज़ा मिल जाए तो फिर बुकिंग्स वगैरह करने और बाकी चीजें अरेंज करने में कोई समस्या नहीं होगी. हम हालातों पर अपनी पैनी नज़र बनाए हुए हैं और लगातार स्टेट असोसिएशंस से बातचीत कर रहे हैं. अगर हमें जगह बदलनी भी पड़ी, तो उसके लिए एक शॉर्ट नोटिस भेज दिया जाएगा.’

बता दें कि बोर्ड ने कोलकाता, कोच्चि और मुंबई को मेगा ऑक्शन के लिए स्टैंडबाई में रखा है. बेंगलुरु के बाद ये तीन शहर हैं जो बोर्ड के लिए प्रियॉरिटी पर हैं. साथ ही आपको ये भी बता दें कि 4 जनवरी को BCCI ने डोमेस्टिक क्रिकेट पर भी अस्थाई रूप से रोक लगा दी है. रणजी ट्रॉफी 2021-22 के दौरान कोलकाता टीम के छह खिलाड़ियों समेत मुंबई के शिवम दुबे कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. जिसके बाद बोर्ड ने सभी डोमेस्टिक टूर्नामेंट्स पर रोक लगाने का फैसला लिया था.


क्या पवन सहरावत को क़ाबू कर पाएगा पलटन का डिफेंस?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार ने आरोपी के खिलाफ तगड़ी जांच के आदेश दे दिए हैं.

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

20 करोड़ सालाना बिक्री पर ई-इनवॉइसिंग जरूरी, टैक्स चोरी थमेगी.

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ