Submit your post

Follow Us

IPL में दो नई टीमों को खरीदने के लिए BCCI ने रखी कौन सी शर्त?

इंडियन प्रीमियर लीग(IPL) अब आठ से 10 टीमों की होने जा रही है. सीज़न 2022 में दो नई टीमों को शामिल करने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने तैयारी पूरी कर ली है. BCCI ने मंगलवार को एक प्रेस रिलीज़ जारी कर IPL सीज़न 2022 में दो नई टीमों के लिए टेंडर जारी कर दिए हैं.

BCCI ने स्टेटमेंट जारी कर कहा,

”IPL गवर्निंग काउंसिल ने IPL 2022 सीज़न के लिए दो नई टीमों को खरीदने और चलाने की बोली के लिए टेंडर जारी किया है.”

बीसीसीआई ने ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी और मीडिया एडवाइज़री जारी की. जिसमें बताया गया है कि टेंडर खरीदने की आखिरी तारीख 5 अक्टूबर तय की गई है.

IPL 2022 में नई टीमों के लिए टेंडर डॉक्यूमेंट को 10 लाख रुपए में खरीदा जा सकता है. इसमें टीम को खरीदने की पात्रता, बोली लगाने की प्रक्रिया, प्रस्तावित नई टीमों के अधिकारों से जु़ड़ी तमाम जानकारी रहेगी.

BCCI ने कहा है कि बोली जमा करने के इच्छुक किसी भी कंपनी को इन्विटेशन टू टेंडर (ITT) खरीदना होगा. हालांकि ITT खरीदने का मतलब ये नहीं है कि वो IPL की नई टीमों के लिए बोली लगाने के लिए हकदार हो जाएंगे. उन्हें बाकी शर्तों और मापदंडों का भी पालन करना होगा.

BCCI ने जारी नोटिस में ये भी साफ कर दिया है कि वो बिना कोई कारण बताए किसी भी स्तर पर बोली प्रक्रिया को रद्द या संशोधित करने का अधिकार रखती है. BCCI के इस ऐलान के साथ ये साफ हो गया है कि अब 2022 में दो नई टीमें IPL का हिस्सा बनेंगी.

क्या होगी बोली में शामिल होने की शर्त:

BCCI के सूत्र ने TOI को बताया है कि पहले दो नई टीमों का आधार मूल्य 1700 करोड़ रखने का विचार किया जा रहा था. लेकिन अब आधार मूल्य 2000 करोड़ रुपये करने का फैसला लिया गया है. जानकारी के मुताबिक अगर बोली की प्रक्रिया योजना के हिसाब से हुई तो BCCI को कम से कम 5000 करोड़ रुपये का लाभ होगा.

IPL के अगले सीज़न से दो टीमों के बढ़ने पर कुल 74 मैचों का शेड्यूल तैयार किया जाएगा. जिससे सभी को फायदा होगा.

BCCI के सूत्र ने ये भी बताया है कि नई टीमों की बोली प्रक्रिया में 3000 करोड़ रुपये या उससे ज़्यादा के टर्न ओवर वाली कंपनियों को ही शामिल होने की अनुमति दी जाएगी. इसमें तीन कंपनियां समूह या ग्रुप बनाकर भी एक टीम के लिए बोली लगा सकती हैं.

नई टीमों के होम ग्राउंड के तौर पर अहमदाबाद, लखनऊ और पुणे के नाम सबसे आगे बताए जा रहे हैं. अहमादाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम और लखनऊ का इकाना स्टेडियम फ्रेंचाइज़ की पसंद हो सकते हैं.


तीसरा पैरालंपिक पदक जीतने वाले देवेंद्र झाझरिया ने सफलता का राज बताया 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

मेघालय के राज्यपाल ने कहा-सीएम को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

बीजेपी ने कहा-ऐसे वीडियो कांग्रेस को ही क्यों मिलते हैं?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने कुछ दिन पहले आत्मदाह कर लिया था.

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान ने कहा- भारतीय लोकतंत्र अमर रहे!

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

इन धमाकों में 143 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

बताया जा रहा है 25 पन्नों के इस कथित चुनाव रणनीति डॉक्यूमेंट को मुंबई कांग्रेस के सेक्रेटरी गणेश यादव ने तैयार किया है.

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

भारत के इतिहास में तीसरी बार केंद्रीय मंत्री को गिरफ्तार किया गया है. पहले दो कौन थे, जानते हैं?

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार किए गए, CM उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मारने की बात कही थी

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार किए गए, CM उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मारने की बात कही थी

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बयान से महाराष्ट्र की राजनीति उबल रही है.

इनकम टैक्स पोर्टल से जनता इतनी परेशान हुई कि वित्त मंत्री ने इंफोसिस के CEO को तलब कर लिया

इनकम टैक्स पोर्टल से जनता इतनी परेशान हुई कि वित्त मंत्री ने इंफोसिस के CEO को तलब कर लिया

मुलाकात से पहले ही इन्फोसिस ने सारा सिस्टम ठीक कर दिया.