Submit your post

Follow Us

6.5 फुटा खिलाड़ी और ऊंचा उछला और मैच पलट दिया!

शारजाह के बाहर भी बहुत बड़ी दुनिया है. शायद राजस्थान रॉयल्स के फैंस अपनी टीम को यही कह रहे होंगे. शारजाह के बाहर आते ही राजस्थान की कहानी सेट ही नहीं हो पा रही है. एक के बाद एक लगातार तीसरा मैच हारकर राजस्थान रॉयल्स प्वॉइंट्स टेबल में सातवें नंबर पर पहुंच गई है.

अबू धाबी के शेख ज़ायद स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में मुंबई ने टॉस जीता पहले बैटिंग की और 193 रन बना दिए. इसके बाद राजस्थान की पारी को तो ना ही गिना जाए तो बेहतर है. जोस बटलर को छोड़ पूरी टीम मुंबई के स्कोर से पांच-दस नहीं पूरे 57 रन पीछे रह गई.

लेकिन इस मैच में वो कौन सा मैच पलटू मोमेंट आया जब राजस्थान रॉयल्स मैच से पूरी तरह से बाहर हो गई.

194 रनों का पीछा करते हुए राजस्थान के बल्लेबाज़ों की कहानी बिल्कुल समझ से परे थी. पहले ओवर की दूसरी गेंद पर यशस्वी, दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर स्मिथ और तीसरे ओवर की पांचवी गेंद पर संजू सैमसन भी आराम करने बाहर वाली कुर्सियों पर पहुंच गए.

12 पर तीन विकेट के बाद टीम 50 के पार भी नहीं पहुंची कि लोमरोर भी चाहर की गेंद पर कैच आउट हो गए. मानने वाले मान रहे थे कि राजस्थान की कहानी खत्म हो गई है. लेकिन एक प्लेयर था जो चल जाए तो फिर वो अकेले भी किसी टीम पर भारी पड़ सकता है. नाम है जोस बटलर.

ओपन करने आए थे और अपने एक-एक साथी को आराम से वापस जाते देख रहे थे. 42 पर 4 विकेट के बाद बटलर जमे रहे. पावरप्ले खत्म हो गया और वो टॉम करन के साथ टीम को खींच रहे थे.

बटलर ने कोशिशें जारी रखी और बीच में मिले मौकों का पूरा फायदा उठाया. क्रुणाल पांड्या हों या राहुल चहर सबको बाउंड्री पार पहुंचाया. देखते ही देखते बटलर का बल्ला चलने लगा और रोहित की टेंशन बढ़ने लगी.

बटलर ने एक के बाद एक पांच छक्के जमा दिए. सिर्फ 44 गेंदों पर टोटल 9 बाउंड्री के साथ वो 70 रन पर पहुंच गए और राजस्थान 14वें ओवर तक 98 पर. अब राजस्थानियों को जीतने के लिए 40 गेंदों में 96 रनों की ज़रूरत थी. लगने लगा था कि बटलर अकेले मैच खत्म कर सकते हैं. लेकिन इसके बाद आया मैच का सबसे बड़ा पलटू मोमेंट.

रोहित ने जेम्स पेटिंसन को गेंद दी. उन्होंने बटलर को गेंद फेंकी. बटलर ने फिर से गेंद को बाउंड्री पार पहुंचाने की कोशिश में सीधा और लंबा शॉट चढ़ा दिया. लेकिन बाउंड्री पर खड़े विशालकाय कायरन पोलार्ड. एक तो पहले ही छह फुट लंबे और फिर छलांग लगाकर और कई फुट ऊंचे हो गए. पोलार्ड ने ऊंची छलांग लगाकर पहले तो एक हाथ से गेंद को पार जाने से रोका और फिर हाथ से छिटकती गेंद को लपककर मुंबई इंडियंस और उनके फैंस के रास्ते की आखिरी फांस को भी उखाड़ दिया.

बटलर 70 के स्कोर पर आउट होकर लौटे और मुंबई ने आखिर में इस मैच को आसानी से जीत लिया.


अकेले बटलर पर भारी पड़े बोल्ट, बुमराह, पोलार्ड

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

स्टूडेंट्स, अभिभावकों की लिखित सहमति से ही स्कूल जा सकते हैं.

इस शर्त पर यूपी प्रशासन ने राहुल-प्रियंका को हाथरस जाने की अनुमति दी

कथित गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे हैं राहुल-प्रियंका.

हाथरस केस: एसपी और सीओ सस्पेंड, जानिए डीएम का क्या हुआ?

सभी पक्ष-विपक्ष वालों का पॉलीग्राफी टेस्ट भी होगा.

हाथरस केस: यूपी पुलिस को किसी को भी गांव में जाने से रोकने का बहाना मिल गया है!

खबर है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पीड़ित परिवार से मिलने जाने वाले हैं.

सभी आरोपियों को बरी करते हुए कोर्ट ने कहा - इन्होंने बाबरी मस्जिद को बचाने की कोशिश की थी

आ गया है 28 साल पुराने मामले में फ़ैसला

हाथरस के कथित गैंगरेप मामले पर विराट कोहली ने क्या कहा?

अक्षय कुमार ने भी ट्वीट किया है.

सिर्फ़ 6 लोगों की इस मीटिंग के टलने को पी चिदंबरम ने 'अभूतपूर्व' क्यूं कह डाला?

तो क्या इस वक़्त देश के पास अर्थव्यवस्था सही करने का सिर्फ़ एक बटन बचा है?

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.