Submit your post

Follow Us

KKR की जीत का सबसे ज्यादा क्रेडिट दिनेश कार्तिक ने इस 18 साल के लड़के को दिया

आईपीएल का पहला और इकलौता एलिमिनेटर. माने जो हारा वो बाहर. आमने-सामने थे राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स. जगह कोलकाता का ईडन गार्डेन. और अपने होमग्राउंड में कोलकाता का ही जलवा दिखा. राजस्थान रॉयल्स यहां तक तो किस्मत के सहारे पहुंच गई थी. मगर इस मैच में उसका साथ किस्मत ने बिल्कुल नहीं दिया. पहले गेंदबाजी करते हुए राजस्थान ने शुरू के 10 ओवरों में कोलकाता को बांधे रखा, मगर अंत में आंद्रे रसेल की आंधी आ गई. और सबसे बड़ी बात इस मैच में राजस्थान ने जोस बटलर को बहुत मिस किया होगा. वो अगर होते तो उसकी हार का सबसे बड़ा कारण स्लो रन रेट, वो न हुआ होता. खैर इस जीत के साथ कोलकाता क्वॉलिफायर-2 में पहुंच गई है जोकि 25 मई को खेला जाएगा. हैदाराबाद के खिलाफ.

कोलकाता के कप्तान ने मैच के बाद जीत का क्रेडिट टीम को दिया. मगर सबसे ज्यादा तारीफ उन्होंने शुभमन की की. वो बोले शुभमन ने प्रेशर में एक अच्छी पारी खेली. तब हम काफी बुरी स्थिति में थे, मगर गिल ने संभलकर खेला. इससे मेरे ऊपर से प्रेशर कम हुआ और हम रन बना पाए. शुभमन ने 17 बॉलों पर 28 रन बनाए थे.

कोलकाता पहुंची क्वॉलिफायर में.
कोलकाता पहुंची क्वॉलिफायर में.

मैच की शुरू से बात करें तो टॉस जीतकर राजस्थान ने गेंदबाजी का फैसला किया जोकि शुरुआत में सही साबित होता दिखा. गौथम ने पहले ही ओवर में सुनील नारायन को वापस भेज दिया. फिर क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा और नीतीश राणा भी ज्यादा देर नहीं टिक सके. राजस्थान के स्पिनर्स एकदम कहर ढाए हुए थे. 8 ओवर में कोलकाता के 51 रन पर चार विकेट गिर चुके थे. मगर फिर क्रीज पर आए दिनेश कार्तिक और शुभमन गिल. दोनों ने पारी को संभाला. गिल 15वें ओवर में जाकर आउट हुए. और उसके बाद तो भइया ईडन गार्डेन नें तूफान आ गया. आंद्रे रसेल का. पक्का जब वो आया होगा तो राजस्थान वाले सोचे होंगे कि – हे भगवान, ये अभी बाकी है. इसके बाद जो हुआ वो आंकड़ों की नजर से समझिए. माने आखिरी पांच ओवरों में कोलकाता ने बनाए 55 रन. कार्तिक ने बनाए 38 बॉलों पर 52 रन तो रसेल ने 25 गेदों में 49 रन ठोक डाले. इस तरह कोलकाता के बने 169 रन.

रसेल ने ताबड़तोड़ पारी खेली.
रसेल ने ताबड़तोड़ पारी खेली.

अब बारी थी राजस्थान की. बल्लेबाजों को पता था कि उन्हें जान लगा देनी है. काहे से उनके गेंदबाजों ने आखिरी ओवरों में अपनी जान दे दी थी. पर राजस्थान इस मैच में अपनी आधी टीम से खेल रही थी. आधी इसलिए क्योंकि उसके विस्फोटक ओपनर जोस बटलर इंग्लैंड वापस जा चुके हैं. अब उसे अपने देसी खिलाड़ियों से ही चमत्कार की उम्मीद थी. ओपनिंग आए राहुल त्रिपाठी और अजिंक्य रहाणे. शुरुआत अच्छी हुई. पांच ओवरों में 47 रन बन गए थे बिना एक्को विकेट खोए. मगर फिर छठे ओवर में चावला की गेंद पर राहुल कैच दे बैठे. इसके बाद आए सैमसन. टिके भी. 10 ओवरों में राजस्थान के 87 रन बन गए थे. एक विकेट गिरा था. अगले 10 ओवरों में 83 रन ही चाहिए थे.

सैमसन और रहाणे ने अच्छी पार्टनरशिप की मगर ये काम नहीं आई.
सैमसन और रहाणे ने अच्छी पार्टनरशिप की मगर ये काम नहीं आई.

मगर फिर कोलकाता के गेंदबाजों ने शानदार वापसी की. अगले चार ओवरों में मात्र 22 रन दिए. अब राजस्थान को 36 बॉलों पर 61 रन चाहिए थे. माने मारने की जरूरत थी. और रहाणे इसी चक्कर में अगली ही बॉल पर कुलदीप यादव को कैच दे बैठे. और यहां से रन रेट गिरने का जो सिलसिला शुरू हुआ वो थम नहीं सका. 17वें ओवर में मारने के चक्कर में ही सैमसन भी आउट हो गए. 50 रन बनाए 38 बॉलों पर. मगर जरूरत थी तेज पारी की जोकि राजस्थान का कोई बैट्समैन खेल नहीं पाया. उन्हें एक फिनिशर की कमी खली. क्लासेन से उम्मीद थी मगर उनके भी बल्ले पर गेंद नहीं आई. गौथम भी आखिर में आकर कुछ नहीं कर सके. आखिरी तीन ओवरों में 43 रन चाहिए थे. मगर कोलकाता के बॉलरों ने गदर बॉलिंग की. प्रसिद्ध कृष्णा ने 18वें ओवर में मात्र 3 रन दिए. 19वें ओवर में 6 रन दिए रसेल ने. और आखिर ओवर में गए केवल 8 रन. और इस तरह राजस्थान ये मैच 25 रनों से हार गया. केवल 144 रन ही बना सके. राजस्थान ने बाद के 10 ओवरों में मात्र 57 रन बनाए. इसमें सबसे बड़ा रोल रहा कोलकाता के स्पिनर्स का. कुलदीप यादव और पीयूष चावला का. कुलदीप ने 4 ओवर में 18 रन देकर 1 विकेट लिया. वहीं पीयूष ने 4 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट लिए.

कोलकाता के स्पिनर्स छा गए.
कोलकाता के स्पिनर्स छा गए.

कुल मिलाकर इस मैच के विलेन राजस्थान के बॉलर और बैट्समैन दोनों ने ही अच्छी शुरुआत की, मगर बाद में ढेर हो गए. वहीं कोलकाता के क्या कहने. इसके गेंदबाजों और बल्लेबाजों ने पहले तो गोड़ा मगर फिर प्रेशर बढ़ने पर क्या गदर खेले. बैटिंग और बॉलिंग दोनों ही वक्त लगा कि कोलकाता तो गई. मगर दोनों के वक्त ही उसने शानदार वापसी की. इस परफॉर्मेंस के बाद और कंफर्म हो गया कि ये टीम शाहरुख खान की ही है. वो वाला डायलॉग तो सुना ही होगा – हारके जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं. एकदम फिट बैठता है इस मैच में केकेआर की परफॉर्मेंस पर.


ये भी पढ़ें –

बेहतरीन फॉर्म में चल रहे एबी डिविलियर्स ने लिया संन्यास, वीडियो पोस्ट कर वजह बताई

एबी डिविलियर्स अब IPL में भी नहीं खेलेंगे!

ये कैच बताता है कि अब अंपायरों को मैदान पर दूरबीन लेकर खड़ा होना चाहिए

साउथ अफ्रीका पर लगा बरसों पुराना शाप कल IPL में खत्म हो गया है!

नहीं सोचा था कि इतना बड़ा अम्पायर ऐसी गलती करेगा और CSK को फ़ायदा पहुंचेगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरोना लॉकडाउन : बस जुलाई में इतने लोगों की नौकरी गई कि सुनकर मूड बिगड़ जाएगा

जून में जितने लोगों को देशभर में नौकरी मिली, जुलाई में उससे 10 लाख ज़्यादा लोगों को निकाल दिया गया.

रिया ने कहा- सुशांत की बहन ने ग़लत हरकतें कीं, तभी उसके परिवार से खटक गई

रिया चक्रवर्ती ने लंबा-चौड़ स्टेटमेंट जारी किया है.

नसीरुद्दीन शाह ने जो 'आधे ज्ञान वाली स्टार' जैसी बात कही थी, उस पर कंगना रनौत ने जवाब दे दिया

नसीरुद्दीन शाह ने बिना नाम लिए कहा था, जवाब कंगना ने दिया है.

क्या है ये वर्चुअल प्रॉडक्शन तकनीक, जिससे इंडिया की पहली फिल्म शूट होने जा रही है?

'अवतार' और 'द लायन किंग' भी इसी तकनीक से शूट हुई थीं.

मुंबई में बिजनेसमैन नमाज पढ़ने गए थे, मस्जिद के बाहर 15 बार चाकू घोंपकर हत्या

दो साल से मिल रही थीं धमकियां. पुलिस को भी बताया था, पर सुनवाई नहीं हुई

कभी कंगना ने ही कहा था करण जौहर पद्मश्री डिज़र्व करते हैं, अब कह रही हैं इनसे ये अवॉर्ड वापस ले लो

कंगना-करण युद्ध का नया अध्याय.

बेंगलुरु के अस्पताल में ख़त्म हुई ऑक्सीजन, रातों-रात शिफ्ट किए गए कोरोना के मरीज़

अस्पताल ने इस मामले पर अपना पक्ष रखा है.

प्रभास की 'आदिपुरुष' का पोस्टर देखकर लोगों को उम्मीद हो रही कि बाहुबली से ज़्यादा कमाल फिल्म होगी

अपनी 22वीं फिल्म का पोस्टर रिलीज़ किया प्रभास ने. कहते हैं फिल्म रामायण पर बेस्ड है.

सचिन तेंडुलकर ने बताया- IPL 2020 से देश में क्या बदलेगा

किसके लिए हमेशा खुले हैं सचिन के दरवाज़ें?

नारायण मूर्ति ने बताया कि धोनी से बिज़नेस लीडर्स क्या सीख सकते हैं?

इंफोसिस और धोनी में क्या समानता है?