Submit your post

Follow Us

T20 वर्ल्ड कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार की ये वजह शायद ही जानते होंगे आप

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर 86,000 से ज्यादा दर्शक. भारत और ऑस्ट्रेलिया का टी20 विश्वकप फाइनल मैच. और अपने घर में अपने दर्शकों के सामने ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराकर खिताब जीत लिया. भारतीय टीम मैच में ना शानदार बैटिंग, ना ही बॉलिंग और ना ही फील्डिंग करती दिखी. इस हार के पीछे आखिर क्या कारण रहे.

टॉस: फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीता और पहले बैटिंग का फैसला किया. भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर इस पूरे टर्नामेंट में एक भी बार टॉस नहीं जीत सकी. सभी पांचों मैचों में उन्होंने टॉस गंवाया. लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम उतनी कामयाब नहीं दिखी है.

Shikha
शिखा पांडे भारत की प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ हैं, लेकिन फाइनल में वो नहीं चल सकीं. फोटो: ICC

बॉलिंग: पूरे टूर्नामेंट में भारतीय गेंदबाज़ों ने कमाल का प्रदर्शन किया. लेकिन फाइनल में हमारी बॉलिंग ही हार का कारण बनी. ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवरों में 185 रन बना दिए. लेकिन भारत ने सिर्फ विश्वकप ही नहीं, वैसे भी कभी भी इतना बड़ा स्कोर चेज़ करते हुए नहीं जीता है. शिखा पांडे ने 4 ओवरों के स्पेल में 52 रन दे दिए. जो कि किसी भी एक स्पेल में टी20 विश्वकप में सर्वाधिक है. उनके अलावा दीप्ति ने 38, राधा ने 34 रन दिए.

Ind Aus
ऑस्ट्रेलिया ने टी20 क्रिकेट का पांचवा विश्वकप जीता है. फोटो: ICC

फील्डिंग: गेंदबाज़ों ने तो खराब खेल दिखाया ही. हमारी फील्डिंग इस पूरे टूर्नामेंट में खराब रही. फाइनल मैच में पहले ओवर की पांचवी गेंद पर शेफाली ने एलीसा हीली का कैच छोड़ दिया. बाद में एलिसा ने 75 रनों की पारी खेली. उनके अलावा चौथे ओवर में बीथ मूनी को भी गायकवाड़ ने जीवनदान दे दिया. बाद में मूनी ने नॉट-आउट 78 रन बनाए. ये दोनों खिलाड़ी ही हार का कारण बनीं.

बैटिंग ऑर्डर: सौरव गांगुली ने एक बार कहा था कि टी20 में आपके जो सर्वश्रेष्ठ प्लेयर्स हैं. उन्हें सबसे अधिक गेंदें खेलनी चाहिए. लेकिन विमेन्स टीम के साथ ऐसा नहीं हुआ. फाइनल में बडे़ स्कोर के दबाव में शैफाली पहले ओवर में ही आउट हो गईं. इसके बाद वन-डाउन पर तानिया खेलने आ गईं. लेकिन यहीं पर बड़ी गलती हुई. नंबर तीन पर कप्तान हरमन को उतरना चाहिए थे. जिससे की वो स्मृति के साथ मिलकर रन बनातीं. लेकिन टीम का बैटिंग ऑर्डर समझ से बाहर रहा.

मैच प्रेक्टिस नहीं: आठ मार्च को टी20 फाइनल खेलने से पहले टूर्नामेंट का आखिरी मैच आठ दिन पहले खेला था. भारतीय टीम आखिरी बार मैदान पर 29 फरवरी को श्रीलंका के खिलाफ आखिरी ग्रुप स्टेज का मैच खेलने उतरी थी. इसके बाद पांच मार्च को भारत को सेमीफाइनल खेलना था. लेकिन बारिश की वजह से टीम नहीं खेल सकी. जिसकी वजह से भारत लंबे गैप के बाद फाइनल खेला, और टीम के प्लेयर्स पुरानी लय में नहीं दिखीं.

भारतीय टीम 2017, 2018 के बाद एक बार फिर से आईसीसी टूर्नामेंट के नॉक-आउट में पहुंचकर हार गई है. अब बस यही उम्मीदें की जा सकती है कि टीम आगे सीरीज़ में ऐसी गलतियां ना दोहराए.


21 साल पहले 6 रन देकर 5 विकेट चटकाने वाला ऑफ स्पिनर बना टीम इंडिया का चीफ सेलेक्टर 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.

ICMR ने एक महीने में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च करने का झूठा दावा किया है!

क्या वैक्सीन के ट्रायल में घपला हो रहा है?

भारत-चीन के तनाव के बीच पीएम मोदी ने लद्दाख़ पहुंचकर किससे बात की?

पहले राजनाथ सिंह जाने वाले थे, नहीं गए.

मलेरिया वाली जिस दवा को कोरोना में जान बचाने के लिए इस्तेमाल कर रहे, वो उल्टा काम कर रही है?

हाईड्रॉक्सीक्लोरोक्विन पर चौंकाने वाली रिसर्च!

इस साल के आख़िर तक मिलने लगेगी कोरोना की 'मेड इन इंडिया' वैक्सीन!

भारत बायोटेक के अधिकारी ने क्या बताया?

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?

लगभग 16 मिनट के राष्ट्र के नाम संदेश में नरेंद्र मोदी ने क्या काम की बात की?

संदेश का सार यहां पढ़िए.