Submit your post

Follow Us

इंदौर में फिर मेडिकल टीम पर हमला, पुलिस बोली गलतफहमी में हुआ अटैक

देश कोरोना से जूझ रहा है. हेल्थ वर्कर दिन-रात एक किए हुए हैं. वे न केवल कोरोना के खतरे का सामना कर रहे हैं, बल्कि उन पर पत्थर मारे जा रहे हैं. चाकू से वार किए जा रहे हैं. ऐसी ही एक घटना मध्य प्रदेश के इंदौर की है. यहां पर 18 अप्रैल को स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया. हालांकि पुलिस का दावा है कि हेल्थ टीम पर गलतफहमी में हमला हुआ.

क्या है मामला

इंडिया टुडे को सर्वे टीम के मुखिया डॉ. प्रवीण चौरे ने बताया कि उनकी टीम विनोबा नगर में सर्वे के लिए गई थी. टीम में डॉक्टर, टीचर, पैरामेडिकल और आशा कार्यकर्ता शामिल थे. उनकी टीम मौके पर सर्वे और रिकॉर्डिंग कर रही थी. इसी दौरान पारस बोरासी नाम के एक व्यक्ति ने हमला कर दिया. चौरे ने आरोप लगाया कि हमलावर ने सर्वे टीम में शामिल शिक्षिका वंदना को थप्पड़ मारा. उनका मोबाइल भी तोड़ दिया. साथ ही महिलाओं को अभद्र शब्द भी कहे.

उन्होंने बताया कि उसने चाकू से हमला करने की कोशिश की. एक स्थानीय व्यक्ति ने बीचबचाव किया. इसमें पारस के चाकू से स्थानीय व्यक्ति को चोट लग गई. पारस पर पहले से ही कई आरोप हैं. वह कई अपराधों में शामिल रहा है. इस बारे में पुलिस को जानकारी दी गई. घटना के बाद आरोपी फरार हो गया.

टीचर वंदना ने इंडिया टुडे को बताया कि आरोपी ने टीम को तीन सदस्यों से मोबाइल छीनने की कोशिश की. वह सामने थी तो उनकी फोन नीचे पटक कर तोड़ दिया.

हमले के बाद सभी स्वास्थ्यकर्मी पलासिया थाने पहुंचे. यहां उन्होंने पूरी घटना के बारे में बताया और शिकायत दर्ज कराई.

क्या कहती है पुलिस

पुलिस का कहना है कि दो पड़ोसियों में झगड़ा था. गलतफहमी से मेडिकल टीम पर हमला हुआ. इंदौर के डीआईजी एचएन मिश्रा ने बताया कि झगड़े के समय मेडिकल टीम सर्वे कर रही थी. उसके सदस्य सर्वे के तहत रिकॉर्डिंग कर रहे थे. ऐसे में आरोपी पारस को लगा कि वे झगड़े को रिकॉर्ड कर रहे हैं. उसने एक महिला से फोन छीना और तोड़ दिया. पर उसने उस पर हमला नहीं किया. हालांकि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

पहले भी हो चुके हैं स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले

इंदौर में पहले भी स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला हो चुका है. 1 अप्रैल को टाटपट्टी बाखल इलाके में कोरोना स्क्रीनिंग करने गयी टीम पर हमला किया गया था. इंदौर के अलावा बल्कि उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद, मेरठ, राजस्थान के टोंक में भी स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले हुए हैं.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: लखनऊ KGMU के सफाई कर्मचारियों की सैलरी कटी, तो उन्होंने काम से बहिष्कार कर दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

IPL 2020: जोफ्रा आर्चर की वो 24 गेंदें, जिन्होंने केकेआर को हिलाकर रख दिया

IPL 2020: जोफ्रा आर्चर की वो 24 गेंदें, जिन्होंने केकेआर को हिलाकर रख दिया

मुकाबले के दौरान बल्लेबाज बेबस थे और आर्चर खुश.

तेवतिया पहले ही ओवर में कमाल करने वाले थे, बटलर चूके मगर तेवतिया नहीं माने

तेवतिया पहले ही ओवर में कमाल करने वाले थे, बटलर चूके मगर तेवतिया नहीं माने

राहुल, नाम तो सुना ही होगा!

असम SI भर्ती: पेपर लीक कराने के आरोपी BJP नेता और पूर्व DIG पर एक लाख का इनाम

असम SI भर्ती: पेपर लीक कराने के आरोपी BJP नेता और पूर्व DIG पर एक लाख का इनाम

परीक्षा शुरू होते ही वॉट्सऐप पर वायरल हो गया था सब-इंस्पेक्टर भर्ती का क्वेश्चन पेपर.

बाबरी विध्वंस मामला: दिल्ली के जैन स्टूडियो का इस केस से क्या वास्ता है?

बाबरी विध्वंस मामला: दिल्ली के जैन स्टूडियो का इस केस से क्या वास्ता है?

CBI कोर्ट के फैसले में इसका भी ज़िक्र है.

किस अघोरी पर वेब सीरीज बनाने जा रहे हैं MS धोनी?

किस अघोरी पर वेब सीरीज बनाने जा रहे हैं MS धोनी?

साक्षी धोनी ने बताया फ्यूचर प्लान.

जूही चावला के बच्चों को उनकी फिल्म देखने में शर्म क्यों आती है

जूही चावला के बच्चों को उनकी फिल्म देखने में शर्म क्यों आती है

जूही ने खुद ही इस बारे में खुलासा किया है.

मथुरा की श्रीकृष्ण जन्मभूमि से ईदगाह हटाने की याचिका इन 2 आधार पर कोर्ट ने खारिज कर दी

मथुरा की श्रीकृष्ण जन्मभूमि से ईदगाह हटाने की याचिका इन 2 आधार पर कोर्ट ने खारिज कर दी

याचिकाकर्ताओं ने अब हाई कोर्ट जाने की बात कही है.

बाबरी विध्वंस पर फैसला: क्या ढांचा गिराने में विस्फोटक का इस्तेमाल हुआ था?

बाबरी विध्वंस पर फैसला: क्या ढांचा गिराने में विस्फोटक का इस्तेमाल हुआ था?

वैज्ञानिकों की टीम ने कोर्ट को क्या बताया?

इस वजह से सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी UPSC एग्जाम टालने की याचिका

इस वजह से सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी UPSC एग्जाम टालने की याचिका

कुछ कैंडिडेट्स को फिर मौका देने के लिए सरकार से कहा है

गुलशन ग्रोवर ने बताया, जब शाहरुख खान को 'पीटने' के कारण उन्हें वीज़ा नहीं मिला था

गुलशन ग्रोवर ने बताया, जब शाहरुख खान को 'पीटने' के कारण उन्हें वीज़ा नहीं मिला था

मोरक्को में मिली थी 'बैडमैन' को जबरा फैन