Submit your post

Follow Us

इंदौर में फिर मेडिकल टीम पर हमला, पुलिस बोली गलतफहमी में हुआ अटैक

देश कोरोना से जूझ रहा है. हेल्थ वर्कर दिन-रात एक किए हुए हैं. वे न केवल कोरोना के खतरे का सामना कर रहे हैं, बल्कि उन पर पत्थर मारे जा रहे हैं. चाकू से वार किए जा रहे हैं. ऐसी ही एक घटना मध्य प्रदेश के इंदौर की है. यहां पर 18 अप्रैल को स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला किया गया. हालांकि पुलिस का दावा है कि हेल्थ टीम पर गलतफहमी में हमला हुआ.

क्या है मामला

इंडिया टुडे को सर्वे टीम के मुखिया डॉ. प्रवीण चौरे ने बताया कि उनकी टीम विनोबा नगर में सर्वे के लिए गई थी. टीम में डॉक्टर, टीचर, पैरामेडिकल और आशा कार्यकर्ता शामिल थे. उनकी टीम मौके पर सर्वे और रिकॉर्डिंग कर रही थी. इसी दौरान पारस बोरासी नाम के एक व्यक्ति ने हमला कर दिया. चौरे ने आरोप लगाया कि हमलावर ने सर्वे टीम में शामिल शिक्षिका वंदना को थप्पड़ मारा. उनका मोबाइल भी तोड़ दिया. साथ ही महिलाओं को अभद्र शब्द भी कहे.

उन्होंने बताया कि उसने चाकू से हमला करने की कोशिश की. एक स्थानीय व्यक्ति ने बीचबचाव किया. इसमें पारस के चाकू से स्थानीय व्यक्ति को चोट लग गई. पारस पर पहले से ही कई आरोप हैं. वह कई अपराधों में शामिल रहा है. इस बारे में पुलिस को जानकारी दी गई. घटना के बाद आरोपी फरार हो गया.

टीचर वंदना ने इंडिया टुडे को बताया कि आरोपी ने टीम को तीन सदस्यों से मोबाइल छीनने की कोशिश की. वह सामने थी तो उनकी फोन नीचे पटक कर तोड़ दिया.

हमले के बाद सभी स्वास्थ्यकर्मी पलासिया थाने पहुंचे. यहां उन्होंने पूरी घटना के बारे में बताया और शिकायत दर्ज कराई.

क्या कहती है पुलिस

पुलिस का कहना है कि दो पड़ोसियों में झगड़ा था. गलतफहमी से मेडिकल टीम पर हमला हुआ. इंदौर के डीआईजी एचएन मिश्रा ने बताया कि झगड़े के समय मेडिकल टीम सर्वे कर रही थी. उसके सदस्य सर्वे के तहत रिकॉर्डिंग कर रहे थे. ऐसे में आरोपी पारस को लगा कि वे झगड़े को रिकॉर्ड कर रहे हैं. उसने एक महिला से फोन छीना और तोड़ दिया. पर उसने उस पर हमला नहीं किया. हालांकि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

पहले भी हो चुके हैं स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले

इंदौर में पहले भी स्वास्थ्यकर्मियों की टीम पर हमला हो चुका है. 1 अप्रैल को टाटपट्टी बाखल इलाके में कोरोना स्क्रीनिंग करने गयी टीम पर हमला किया गया था. इंदौर के अलावा बल्कि उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद, मेरठ, राजस्थान के टोंक में भी स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले हुए हैं.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: लखनऊ KGMU के सफाई कर्मचारियों की सैलरी कटी, तो उन्होंने काम से बहिष्कार कर दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

फेसबुक की 'निशा जिंदल' को गिरफ्तार कर पुलिस ने थाने से फोटो अपलोड करवाई, लोगों ने सिर पीट लिया

थाने से लिखा, 'मैं पुलिस कस्टडी में हूं. मैं ही निशा जिंदल हूं.'

इंदौर में अब कोरोना पॉजिटिव थाना प्रभारी की मौत, अब तक 49 लोगों की गई जान

जूनी पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी थे. 10 दिन से इलाज चल रहा था.

कोरोना: केरल सरकार जो कर रही है वो जान कर यही कहेंगे कि काश हमारे सीएम भी कुछ सीख लेते

87 लाख से ज्यादा परिवारों को 'क्वारंटीन किट' दी जा रही है, जिसमें 17 आइटम हैं.

पंजाब: लुधियाना एसीपी की कोरोना से मौत, पता नहीं चल पाया कैसे हुआ संक्रमण

पत्नी और गनमैन भी प़ॉजीटिव.

'शीला की जवानी' गाने पर बेटी के साथ डांस करते वॉर्नर का ये वीडियो आपके चेहरे पर मुस्कान ला देगा

वॉर्नर का वीडियो काफी वायरल है.

क्वारंटीन सेंटर का कचरा फेंकने गए दो सफाईकर्मियों को पीटा, एक का सिर फटा

सिर पर 12 टांके लगे.

लॉकडाउन: सब्जी बेचने वाली महिलाओं के ठेले पलटे, उन्होंने महिला पुलिसकर्मी को पीट दिया!

मुंबई कंटेनमेंट एरिया में पुलिस सब्जी बेचने वालों के ठेले जब्त कर रही थी.

यूपी: इन कोरोना वॉरियर्स के साथ जो हुआ उससे इस लड़ाई में उनका हौसला पस्त हो सकता है!

लखनऊ के किंग जॉर्ज मे़डिकल कॉलेज के सफाईकर्मियों ने किया काम का बहिष्कार.

सोनाली बेंद्रे ने बताया, कैंसर के डर से उबरने का उन्हें सबसे मुफीद रास्ता कौन सा लगा था?

ई-कॉन्क्लेव में सोनाली बेंद्रे ने अपने एक्सपीरियंस शेयर किए.

लॉकडाउन: मोबाइल बेचकर राशन खरीदा और फिर मजदूर ने फांसी लगाकर जान दे दी

गुरुग्राम में रहने वाले छाबू के अंतिम संस्कार के लिए परिवार को पैसे उधार लेने पड़े.